Hindi Porn Stories

Sex stories in Hindi

बगल वाली और फिर कजिन को चोदा

बात करीब ३-४ महीने पहले की हे जब हमारे घर में फंक्शन था और सब आये हुए थे. सोरी में पहले अपने बारे में बताना भूल गया मेरी उमर १८ साल हे और में अभी पढाई करता हु, मेरा लंड की साइज़ ६.५ इंच हे.

तो मेने जैसा बताया की हमारे घर में फेमिली फंक्शन था और सब आये हुए थे और मेरे घर के आस पास के पडोसी भी आये हुए थे और उनमे से एक लड़की थी सिमरन जिसके साथ मेने पहले कभी चोदा नहीं था.

फंक्शन ख़त्म होते होते करीब एक बज गये थे और सब थक गये थे तो सब जहा जगह मिले वहा पर सो गए और में छत में चला गया था और मेने वहा पर सिमरन को भी बुला लिया था. उसका घर मेरे घर के एकदम बगल में था तो आराम से इधर से उधर आ जा सकते थे.

तो में वहा पर आके पहले अपना बिस्तर लगा के लेट गया था और सिमरन का इंतजार करने लगा था और मुझे पता ही नहीं चला और कब मेरी आँख लग गयी थी. तभी थोड़ी देर में मुझे कुछ अजीब सा लगा और मेरी आँख खुली तो मेने देखा की सिमरन मेरा लंड पकड़े हुए हे और उसको चूस थी थी. उसने मुझे देखा और कहा की जाग क्यों गये अब मुझे अपना लौड़ा चुदने नहीं दोगे तो मेने स्माइल दी और कहा चुसो तुम्हारा ही हे.

फिर वह चूसने लगी और खूब देर चूसने के बाद वह मेरे उपर आकर मुझे लिप किस करने लगी और उसने ५ मिनिट तक किस किया.

फिर में उसके बूब्स बहार से दबाने लगा और उसके मुह से अहह हो अह हह अह हू हो अह हह्ह्ह आवाज आने लगी थी फिर मेने उसका नाईटी उतार दिया था आयर वह सिर्फ ब्रा और पेंटी में थी. क्या मस्त माल लग रही थी उसके बड़े बड़े बूब्स ब्रा से बहार आने को तरस रहे थे.

मेने उसकी ब्रा को उतार दिया और उसके बड़े बड़े बूब्स को दबाने लगा और चुसने लगा और उस के मुह से आह अ हह ओया ऊया गग्ग ओह अघ्ग हहह ओह अहह हो अह्ह्ह निकल रही थी और वह बोल रही थी की और चुसो सारा दूध ख़त्म कर दो और चुसो. कुछ देर के बाद बूब्स मेने उसकी पेंटी उतारी और वाह क्या मस्त चूत थी. उस पर एक भी बाल नहीं था छत पर लाईट लगी थी तो मुझे सब साफ साफ नजर आ रहा था और मेने उसकी चूत को जैसे ही अपनी जीभ से चाटा वह उछल पड़ी जैसे उसके पुरे बदन में बिजली दौड़ गयी हो. फिर में उसकी चूत को चाटने लगा कभी अपनी ऊँगली उसकी चूत में डालता तो कभी अपनी जीभ से चाट रहा था और वह सिर्फ अहः ओह अहह हो अ हहह इअई फ अहह अहः ओह अह्ह्ह आवाज निकाल रही थी.

अचानक से मेरी नजर छत के गेट पर गयी मुझे ऐसा लगा की कोई हे वहा पर फिर मेने ध्यान हटाया और चूत को चाटने लगा. फिर मेने चूत चाटते देखा तो दंग ही रह गया. गेट के पास शगुन खड़ी थी और वह बहोत देर से हम लोगो को देख रही थी और उसने अपना हाथ अपनी पेंटी के अंदर डाला हुआ था आयर अपनी चूत को रब कर रही थी.

शगुन मेरी कजिन हे और मेने सोचा की इसको भी जॉइन करने के लिए कहता हु और वह मेरे उमर की हे और एकदम सेक्सी और बड़े बड़े बोबे वाली हे.

मेने बिना कुछ सोचे थोडा तेज आवाज में बोला ताकि उस तक आवाज जा सके मने कहा ऊँगली से करते करते हाथ दर्द कर रहा होगा आओ में अपना लौडा डालता हु शगुन. वह यह सुन कर एकदम दंग रह गयी और गेट के पीछे से बहार आ गयी और बोली हां यार हाथ दर्द करने लगा अब तुम्हारा लंड ही मेरी भूख मिटा सकता हे.

फिर मेने उसको अपने गोद में उठा कर बिस्तर पर लिटाया आयर उसके बूब्स को दबाने लगा. सिमरन और वह आपस में किस कर रहे थे फिर मेने शगुन का टॉप उतारा और बूब्स को ब्रा के उपर से दबाने लगा. एक बूब में दबा रहा था और एक सिमरन हम दोनों उसके बूब्स चूस भी रहे थे और वह आह हो अह हहो अह हो अहह चुसो बोल रही थी.

फिर मेने पहले सिमरन की टांगे फैलाई और अपना लंड उपर रगड रहा था और वह बोल रही थी अब अंदर डालो नहीं तो में अपना हाथ डाल दूंगी पूरा. प्लीज़ चोदो मुझे तो मेने ज्यादा देर न करते हुए एक ज़टका मारा और मेरा लंड का सुपाडा अंदर चला गया और उसकी चीख निकल गयी तो शगुन ने अपना लिप्स से उसे किस करने लगी और अब मुझे भी थोडा दर्द हो रहा था, मुझे लग रहा था जैसे की मेरे लंड की खाल निकल रही हो और फ्फिर कुछ देर बाद मेने अपना पूरा लंड अंदर डाल दिया और चुदाई चालू कर दी.

फिर में सीधे लेट गया और सिमरन मेरे लंड के उपर बैठ कर चुदाने लगी और शगुन मेरे मुह के ऊपर आ गयी और में उसकी चूत चाट रहा था कुछ देर बाद में जड़ गया और दोनों साथ चिपक के बूब्स को दबाने लगे और किस करने लगे थे.

कुछ देर बाद में फिर से रेडी हो गया था और अब शगुन की बारी थी. मेने उसको एक बार में ही पूरा लंड अंदर डाल दिया और उसके मुह से गाली निकल गयी और बिलने लगी मादरचोद इतनी तेज़ी दे क्यों डाला चूत को फाड़ दिया मेरी मादरचोद कही के. फिर कुछ देर बाद उसका दर्द कम हुआ तो मेने उसकी चुदाई चालू कर दी. सिमरन मेरे मुह के पास आ गयी और मेने उसके भी बूब्स चुसे और चूत चाटी और मेने बारी बारी दोनों को २ बार चोदा. जब मेने पहले बार सिमरन के बुर में लंड डाला तो मुझे थोडा दर्द हुआ था लेकिन बाद में मजा आने लगा था. जब में सिमरन को चोदता तब शगुन अपना बुर चटवाती और जब शगुन को चोदता तो सिमरन अपना बुर चुसवाती. हमने करीब सुबह ४ बजे तक मजा किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Hindi Porn Stories © 2016 Frontier Theme