Hindi Porn Stories

Sex stories in Hindi

कजीन भाभी और उसकी सास की चुदाई

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम विशाल हे और में २५ साल का एक नौजवान लड़का हु. मेरा लंड का साइज़ ९ इंच लम्बा हे और में दिल्ली में रहता हु. यह एक सच्ची घटना है जो एक साल पहले हुई थी. मैं अपने मामा के यहां गया हुआ था अपनी छुट्टियों में. उन के पड़ोस में हमारा काफी आना जाना था, वहां एक भाभी रहती थी जिसका नाम पल्लवी है, उसकी उम्र २५ साल के आसपास थी. उसका फिगर क्या गजब का है ३४-२४-३६ क्या बताऊं? जैसे सुष्मिता सेन. पहले मेरी उन की तारफ कोई गंदी भावना नहीं थी.

एक दिन मैं उन के पास बैठा हुआ था और बातें कर रहा था, तब मेरे घर पर कोई और नहीं था, मेरे घर के लोग सब बाहर गए हुए थे, मेरे पास एक जोक की डायरी थी जिसमें वेज और नॉन वेज दोनों तरह के जोक्स थे. मैं उन्हें वेज जोक्स पढ़ कर सुना रहा था, और जिस पेज पर नॉन वेज जोक थे उस पेज को स्किप कर रहा था. में इस तरह से कई पेज स्किप कर चुका था, इतने में भाभी ने पूछा कि आप यह पेज क्यों छोड़ रहे हो? यह भी पढ़ कर सुनाओ मुझे, मैंने कहा नहीं भाभी इनमें गंदे वाले जोक्स है. मेरी तो सांसे रुक गई जब उन्होंने कहा मुझे पढ़ने हैं मैंने कहा जैसी आपकी मर्जी.

तब मेरे मन में उन की तरफ ख्याल बदलने लगे, उन्होंने कुछ जोक्स पढ़े और उन्हें बहुत अच्छे लगे, उन्होंने मुझे कहा कि अगर वह मुझे कुछ पूछना चाहे तो कोई दिक्कत तो नहीं है और यह कह कर उठ कर चली गई, उन के पीछे पीछे में भी चला गया, क्या मटक मटक के चल रही थी वह ऐसा लग रहा था की स्वर्ग की अप्सरा मेरा लंड लेने को आ गयी हे.

मैंने कहा जो भी पूछना चाहो आप मुझे बिना संकोच के पूछ सकती हो. वह किचन में जा कर रुक गई और अपना काम करने लगी. मैं वहीं दरवाजे के पास हाथ रख कर खड़ा हो गया. फिर थोड़ी देर के बाद उन्होंने मुझे पूछा कि शादी के बाद भी अगर कोई अच्छा लगे तो गलत बात है क्या? मैंने कहा नहीं ऐसा तो नहीं है. उन्होंने बताया कि उन्हें उन की बहन के हस्बैंड बहुत अच्छे लगते हैं, उस के बाद वह मेरे पास आ कर खड़ी हो गई कुछ पूछने के लिए, उन की चूत साड़ी के ऊपर से गर्म महसूस हो रही थी. मैंने हाथ नहीं हटाया, और मेरे पास आ कर पूछने लगी कि सेक्स को हिंदी में क्या कहते हैं? मैंने कहा चुदाई, जैसे मान लो कि मैं आप के साथ सेक्स करूं तो मैं आपको चोदूंगा. वह मेरी बात सुन कर हसने लगी, तब तक उन की सास अब वापस घर पर आ गई थी.

उस दिन मैं वहां से चला गया उस रात में सो नहीं सका, बस इस मौके की तलाश में था कि कब उसे चोद सकू. अगले दिन में उस के घर गया तो वह अपने कमरे में थी. में वही जा कर उस के पास बैठ गया, गर्मी की वजह से वह जमीन पर लेटी हुई थी. में भी उस के पास जा कर जमींन पर बैठ गया. फिर मैंने उस से पूछा कि आपको आगे से ज्यादा मजा आता है सेक्स करने में या पीछे से? उस ने कहा कि आगे से, पर उस के हस्बैंड को उस की गांड मारने में ज्यादा मजा आता है, वह कहने लगी की उस ने बाथरूम में भी सेक्स किया है अपने हसबंड के साथ.

फिर उस ने मेरी ऊँगली अपने मुह में ले कर मेरी उंगली को चुसना शुरू कर दिया, और मेरा लंड सातवें आसमान पर चढ़ गया, पर क्यों कि उस की सास घर पर ही थी   तो मैं कुछ कर नहीं पाया, बस उस के पूरे शरीर के ऊपर हाथ फेरता रहा और वह बहुत गरम हो कर मेरी उंगली को चूस रही थी, मैं जानता था कि उस की चूत गीली हो गई है लेकिन किसी के आने के डर से कुछ कर नहीं पा रहा था, उस दिन सिर्फ उसके शरीर को निहारता रहा.

अगले दिन में शॉर्ट पहन के उस के पास गया, वह अपने कमरे में ही थी. मैंने उससे कहा कि कल रात तीन चार बार तुम्हें सोच कर मुठ मारनी पड़ी, यह सुन कर वह हंसने लगी, उस ने मेरा हाथ पकड़ा और अपने माथे पर लगाया उस के बाद मेरे हाथ को चूमने लगी, उस के बाद मेरा हाथ अपनी गर्दन पर रख दिया. थोड़ी देर बाद मेरा हाथ उठा कर अपने चुचे पर रख लिया. मुझे तो जैसे खुशियों की बहार मिल गई हो, मैंने उस के चूचो को दबाना शुरु किया, वह बहुत गर्म हो कर मुझे देख रही थी, उस ने पूछा मजा आया? मैंने कहा जन्नत का मजा आ गया. मैंने अपने दोनों हाथों से उस के चूचो को निचोड़ दिया, उसे थोड़ा थोड़ा दर्द हुआ पर बहुत मजा आ रहा था उसे भी और मुझे भी. थोड़ी देर वह में वापस मेरी उंगली अपने मुह में ले कर चूसने लगी, आज मैं सोच कर गया था कि उस के हाथ में अपना लंड तो देना ही है, इसलिए शॉट्स पहनकर गया था.

मैंने अपना लंड साइड से निकाल दिया, उस की नजर पडते ही उस ने मेरी उंगली छोड़ दि और लंड पकड़ लिया. मेरा लंड देख कर हैरान हो गई, कहने लगी की ईतना लंबा भी होता है? मेरे पति का तो बहुत छोटा है. मैंने कहा इस बात का ईनाम तो दो, लंड पर किस कर दो. उस ने कहा कोई आ जाएगा. मैंने कहा सब सो रहे हैं कोई नहीं आएगा यहां.

उस ने झट से मेरे लंड को मुंह में ले लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. जैसे कितने दिनों से भूखी हो. मैं उस का सर पकड़ कर आगे पीछे कर रहा था. और बाहर से उस के बोबे दबा रहा था. वह बहुत ज्यादा गर्म हो चुकी थी. १०-१५ मिनट बाद में जड़ गया उसने मेरा पूरा पि लीया, उस के बाद उसने अपनी टांगे खोल दी और मुझे चूत चाटने को कहा.

फिर मैंने उसकी साड़ी ऊपर कर दी और पैंटी के ऊपर से उसके चूत पे होंठो से काट लिया, उस की पेंटी पूरी गिली थी, वह छटपटाने लगी. मैंने उस की पैंटी निकाली और उस की चूत के अंदर दो उंगली डाली और उसका अमृत चख कर देखा, वाह क्या मस्त क्या टेस्ट था? उस के बाद मैंने उस के चूत पर अपनी जीभ रखी और चाटने लगा, वह आवाजे आह्ह औउ अह्ह्ह आय इह हहह उह हहह  निकाल रही थी, मुझे और मजा आ रहा था. मैं ने भी जीभ उस की चूत में डाली और चाटने लगा, वह आह औऊ अह्ह्ह ख अहह उऔह ओःह आवाजे निकाले जा रही थी, उस की आवाज मुझे पागल किए जा रही थी और वो अपने बूब्स को दबा रही थी. १० मिनट बाद वह जड गई, मैंने उस का पूरा अमृत पी लिया, उस की आंखों से पानी बह रहा था. जैसे ही मैंने खत्म किया उसने मुझे पकड़ कर स्मूच कर दिया और थैंक यू बोला.

उसने कहा कि मुझे आज तक इतना मजा कभी नहीं आया. उस के बाद हमने १० मिनट किस करी, फिर मैंने उसके कान के पास फुसफुसाने लगा, गरम सांसों की वजह से वह और बहुत गर्म हो गई थी, मैंने उसकी गर्दन पर किस किया उसके बाद उस का ब्लाउज खोल दिया और ब्रा उतार दी, मैं बच्चे की तरह उस के बूब्स चूस रहा था और दूसरे हाथ से दूसरा बूब दबा रहा था.

वह कहने लगी की विशाल अब नहीं रुका जा रहा है, प्लीज मुझे चोड़ दो. मैंने कहा जानेमन अभी तो शुरू किया है, रुको थोड़ा. मैं उसकी टांगों के बीच में था और मेरा लंड कपड़ों के ऊपर से ही उसकी चूत को छू रहा था, मैंने बिना कपड़े उतारे धक्के लगाने शुरू कर दिए और वह नीचे से धक्के मार रही थी. इतने में हमने किसी के आने की आवाज सुनी और समझ गए कि आज तो गए. अब हम अपने कपड़े पहनते इतने में दरवाजा खुला और सामने उसकी सास खड़ी थी, उस ने हम दोनों को ऐसे देखा और बहुत गुस्सा किया और कहने लगी कि आज तुम्हारी शिकायत करुंगी.

हम दोनों उन से माफी मांगने लगे. हमने कहा कि आप जैसा कहोगे हम वैसा करेंगे किसी से मत कहना वरना मैं तो मर गया. उस ने यह सुनते ही मेरा लंड पकड़ लिया नीचे बैठ कर चूसने लगी, और मेरी तरफ देखते हंसकर कहने लगी कि अब तो तुम्हें मेरे साथ भी यह सब करना पड़ेगा और मुझे मजा देना पड़ेगा.

हम तीनो एक दूसरे को देखते रह गये. उसके बाद हम तीनो बिस्तर पर आ गए और मैंने झट से उसे भी नंगा कर दिया, उसने मुझे ब्लॉजॉब दिया और ऐसा ब्लोजॉब  की उस की तारीफ में क्या ही करूंगा. ऐसा लग रहा था जैसे आज सब कुछ मिल गया हो. उस की बहु उस के सामने कुछ भी नहीं थी. कुछ देर बाद मैंने उसे चोदना शुरू किया, वह तड़प रही थी उस के बाद उस ने अपनी बहू के साथ वापस उसके सामने सेक्स करने को बोला, और हमें अच्छे से सेक्स करने के टिप्स दिए. उस दिन हमने दो तीन बार सेक्स किया, वह मेरी जिंदगी का सबसे सेक्सी दिन था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Hindi Porn Stories © 2016 Frontier Theme