Hindi Porn Stories

Sex stories in Hindi

दोस्त की बहन ने लंड चूस दिया

मैं और मेरा एक दोस्त बहोत ही ज्यादा क्लोज है. मेरे दोस्त की एक बहन है रीमा. उसकी उम्र २० साल की है लेकिन उसका शरीर २५ साल की लड़की के जैसा है. उसका रंग एकदम गोरा हे और बहुत बहुत सेक्सी लड़की है. वही मेरी भी बहोत अच्छी दोस्त हैं क्योंकि मैं मेरे दोस्त के घर कुछ न कुछा बहाना बना कर बहुत बार आता जाता रहता हूं. लेकिन वह मेरी दोस्त की बहन होने की वजह से मेरे मन में उसके लिए कोई बुरी भावना नहीं थी. लेकिन इस घटना के बाद सब कुछ बदल गया.

एक दिन हमने प्लान बनाया कि हम रात को मेरे फ्रेंड के घर जाएंगे क्योंकि उसका घर मुंबई में था और घर पर कोई नहीं था. तो मैं मेरा दोस्त मेरी दोस्त की बहाना रीमा और  रीमा की एक दोस्त निकिता हम सब लोग रात को मिले. मैं आपको बताना भूल गया कि मेरे दोस्त और निकीता एक दूसरे से प्यार करते थे. तो यह बात मुझे पता था कि वह उस रात को क्या करने वाले हैं. मेरे दोस्त ने पहले से बहोत सरे कंडोम ले कर रखा था.. और यह बात रीमा को भी पता थी क्योंकि वह भाई बहन एक दुसरे से बहोत फ्रेंक थे. मैंने भी दारू और सिगरेट ले रखी थी…  और फिर आखिर में वह रात आ ही गई.

फिर हम चारों दोस्त मिले और हमने बहुत एंजॉय किया. हमने शुरुआत दारु पीके की. मैं रीमा के पास ही बैठा था और मेरा दोस्त और नीकीता एक दूसरे के पास बैठे हुए थे. थोड़ी देर बाद निकिता और मेरा दोस्त का काम चालू हो गया और मुझे उन्हें देख कर लगा कि उन्हें चढ़ गई थी. फिर वह दोनों रूम में चले गए. मैने मेरे दोस्त को कंडोम दिया और ऑल द बेस्ट बोला.

मैं और रीमा दोनों हॉल में बैठे थे, मैं तो सिगरेट पी रहा था और वह ऐसे ही बैठी थी. अभी तक मेरे मन में कोई बुरे ख्याल नहीं आ रहे थे. ऐसे ही बैठ कर बातें कर रहे थे. तभी मेरे दोस्त के रूम से निकिता की आह्ह ओह्ह्ह अह्ह्ह्ह ईई म्मम्म बी आयी ओह्ह्ह आह्ह्ह अम्मम्म ह्ह्ह आय्य्य य्र्स्स बस्स्स अह्ह्ह उर्स्स्स हस ओह्ह्ह औऊ येस्स अह्ह्ह ओह्ह्ह अम्म्म प्म्म्म जोर से निकिता की आवाज आ रही थी. वह सुनकर हम दोनों हंस रहे थे और एक दूसरे की तरफ देख कर स्माइल कर रहे थे.

फिर मैंने ऐसे ही उसको पूछा तूने कभी ट्राय किया है क्या? तो रीमा ने पूछा क्या? तो मैंने बोला यार वही जो तेरी दोस्त तेरे भाई के साथ अंदर रूम में जाकर कर रही हे तो फिर वह बोली नहीं यार मैं अभी भी वर्जिन हूं, और उसने पूछा की तुम्हारे बारे में बताओ, तो मैंने कहा मैं भी अभी तक वर्जिन ही हु तुम्हारी तरह.

उसके थोड़ी देर तक हम दोनों एकदम चुप रहे और पीछे से निकिता की बहोत ही कामुक आवाज सुनाई दे रही थी. मेरा दोस्त कुछ ज्यादा ही गर्म गर्म हो गया था और निकिता के साथ कुछ ज्यादा ही जोर लगा रहा था. उसके बाद उनकी आवाज सुन कर मेरा खड़ा होने लगा. तो मैने फ्रेंकली रीमा को बोला मैं जा रहा हूं बात रूम में मुठ मारने के लिए. मुझे भी अब दारु चढ़ गई थी. मैं बाथरुम में गया और भेन्चोद पूरा जोर जोर से हिलाया और मैं हिलाते वक्त रीमा का ही नाम ले रहा था.

५ मिनट बाद मेरा पूरा कम बाथरूम में इधर उधर छोड़ दिया और ऐसे ही बाहर आ गया… तभी सामने रीमा खड़ी थी और मुझे देख कर वह बोली साले राहुल चेन लगा पेंट की..

फिर मैं आराम से बैठा और मेरे सामने रीमा आ कर बैठ गयी. थोड़ी देर बाद उसने मुझे कहा क्या रे तुझे शर्म नहीं आती तुम्हारे दोस्त की बहन हूं मैं. मेरा नाम लेकर मुठ मार रहा था? मैं तो एकदम से चकित हो गया मेरे को पता ही नहीं चला और मुठ मारते वक्त मुझे कुछ ज्यादा ही चढ़ गई थी. फिर मैंने उसको सॉरी बोला. थोड़ी देर बाद मेरे को रहा नहीं गया मैं उसके बूब्स को लगातार देख रहा था, और उसने मुझे उसके बूब्स की और  देखता हुआ देख लिया था. ये कहानी आप हिंदी पोर्न स्टोरीज़ डॉट कॉम पर एन्जॉय कर रहे हैं. फिर मैंने उसको सॉरी बोला और उसके सामने बैठ गया. मुझे दारू की नशा बहोत चढ़ने लगी थी और मुझे कुछ भी समज में नहीं आ रहा था की में यह सब क्या कर रहा हु.

मेरा कंट्रोल नहीं हो रहा था मैं उसके पास गया और किस किया और वह वहा से उठ कर दूर  जाने लगी. वह मुझे डाटने लगी पर भेन्चोद आज तो मैं कुछ सुनने वाला ही नहीं था. मैने उसको दीवार की तरफ कोने में पकड़ लिया और एक पूरे जोर से बड़ी किस की. मैंने उसकी कमर को कस के पकड़ा हुआ था और दूसरे हाथ से उसका मुंह पकड़ रखा था वह शुरूआत में मुझे विरोध कर रही थी लेकिन ५ मिनट बाद वह खुद ही शुरू हो गई और मुझे साथ देने लगी.

फिर मैंने उसको छोड़ दिया बाद में मैंने बोला तेरे को भी करना है ना? वह कुछ नहीं बोली तो मैं समझ गया. मैंने फिर उसको पकड़ कर किस किया. वह भी पागलों की तरह किस करने लगी. उसका भाई अंदर पागल हो गया था और यह रीमा  मेरे पे पागल हो रही थी. उसकी आँखे भी आब बहोत वासना से भरी हुई नजर आ रही थी. उसे देख के में समज गया की आज तो ये मुज से अपनी चूत की सिल को तुडवाना चाहती हे. और में बहोत खुश हो गया की आज में भी अपनी वर्जिनिटी को तोड़ दूंगा.

थोड़ी देर बाद उसको मैंने बेड पर लेटाया और उसके ऊपर में लेट गया उसको प्यार से किस किया बाद में उसकी गर्दन पर किस किया और हल्का सा काटा उसके बाद मैंने उसके कंधे पर उसके कान पर और फिर उसके होंठ पर किस किया. और उस को किस करता रहा फिर मैंने अपने सारे कपड़े उतार दिए और सिर्फ अंडरवीयर बाकी था.

फिर मैंने उसका टॉप उतार दिया और उसके पेट को किस करने लगा चाटने लगा. वह फिर से आहाह ओह्ह अह्ह्ह ओह्ह ओऊ ओम्म्म ओह्ह अह्ह्ह एस अह्ह्ह येस्स्स्स अह्ह्ह ओह्ह्ह ओम्म्म की आवाज निकालने लगी और मेरा सिर पकड़ कर दबाने लगी. मैंने उसका टॉप निकाला. उसकी ब्रा अब बाकी थी मैने ऊपर से उसके दोनों बूब्स को हाथ से जोर से दबाया करीब 3 मिनट तक. उसके बूब्स बहुत सॉफ्ट थे. फिर मैंने उसकी ब्रा निकाल दी वाह क्या है पूरे गोरे गोरे और सॉफ्ट बूब्स थे और उनके ऊपर एकदम छोटे छोटे काले निपल थे.

मैंने फिर उसको धीरे धीरे तड़पाया. मैं उसे धीरे धीरे से काटने लगा और उसे बहोत गर्म करने लगा क्योंकि मैने पढ़ा था की अगर लड़की को ज्यादा गर्म नहीं किया तो उसे ज्यादा मजा नही आयेगा.

फिर वह अचानक से भडक गयी  और बोली साले भेन्चोद क्या कर रहा है? प्लीज़ थोड़ा जोरसे कर यह बोल कर उसने मेरे सिर के बाल जोर से पकड़े और मेरा मुंह उसके बूब्स में डाल दिया.  फिर मैंने एक हाथ से उसके दोनों हाथ ऊपर करके पकड़े और मैं उसे उसके बाद चाटने लगा और पागलों की तरह सब जगह पर जोर जोर से काटने लगा. मैंने उसके निपल को दांत से काटा तो वह चिल्ला उठी पर वह ज्यादा इंजॉय कर रही थी.

फिर मैंने उसके बगल को चाटा और उसको गुदगुदी होने लगी. बाद में एक हाथ से उसके बूब्स प्रेस कर रहा था और दूसरे हाथ उसके मुंह में मेरी एक उंगली थी और वह उसे चाट रही थी और काट रही थी. और मैं उसके बूब्स को चूस रहा था ऐसा करीब १ घंटे तक चला. फिर मैं पट से नीचे आया उसकी पेंट निकाली और उसकी पेंटी को भी निकाल दिया.

उसकी चूत पहले से ही बहुत भीग चुकी थी. मेरे मैंने मेरा लंड निकाला और उस की चूत में डालने वाला था तभी वह उठ कर बोली नहीं सेक्स नहीं… तेरे को करने का है तो ओन्ली ओरल सेक्स. यह सुन कर मैं बहुत निराश हो गया.

तो मैं नाराज होकर उसके बाजू पर लेट गया… उसने सोरी बोला. मेरा तो जबरदस्ती सेक्स करने का मुड था. लेकिन मुझे वह नहीं पसंद था. हम दोनों नंगे ही सोए हुए थे. फिर अचानक से क्या हुआ क्या मालूम? रीमा ने मुझे जोर से हग किया और बोली आई वांट टू एक्सपीरियंस ओरल सेक्स प्लीज़ और उसने मुझे एक लंबी किस की.

उसकी वह किस बहुत जोरदार थी. उसका दूसरा हाथ मेरे लंड पर था और मेरा हाथ उसकी गांड पर था. मैंने उसको उल्टा लिटाया उस की गांड को दबाया चांटा. उसकी गांड भी एक  नंबर थी.  थोड़ी देर तक में उसकी गांड को चाट रहा था कुत्ते की तरह. फिर उस को फिर से सीधा किया दोनों टांग फैला दिए और उसके चूत के ऊपर बाल थे पर उसमें से बहोत ही अच्छी खुशबु आ रही थी.

फिर मैंने मेरी एक उंगली उसकी चूत में डाल दी और धीरे धीरे हिलाने लगा क्योंकि उसका पहली था तो  उसको थोड़ा दर्द हो रहा था. पर बाद में वह इंजॉय करने लगी फिर मैंने अपनी स्पीड बढ़ाए हुए  जोर से अपनी उंगली अंदर बाहर करने लगा और अचानक से मेरी तीन उंगली उसके होल में चले गए, तो वह चिल्लाने लगी. मैंने उस को शांत किया में उसके बूब्स को दबाने लगा उसे ओठ पर किस करने लगा. और फिर से मैने शुरु किया तब तक वह दो बार झड़ चुकी थी.

उसका कम पुरे बेड पर गिरा रहा था और पूरा बेड गीला हो गया था. तभी मैंने मेरी उंगली निकाली और उसे चाटी उसका स्वाद नमकीन था लेकिन बहुत मजा आया. वह थक चुकी थी पर मैं गरम हो गया था. फिर मैं उसकी चूत को चाटने लगा वह मना कर रही थी, फिर भी मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में डाल रहा था. फिर वह भी जोर जोर से आवाज निकालने लगी और उसकी कमर उठा उठा कर मेरे मुंह में दे रही थी. फिर उसने मेरे बाल जोर से पकडे और पूरी ताकत से उसने उसके चूत पर लगा दिया.

मेरा पूरा मुंह उसकी चूत को चाट रहा था मैं उसकी चूत को काट भी रहा था. अब हम दोनों बहुत गर्म हो चुके थे. फिर उसने थोड़ी देर में उसका पूरा रस एकदम जोर से मेरे मुंह पर छोड़ दिया और वह मैने बड़े आराम से पी लिया. वह मुझे बहुत अच्छा लगा. हम दोनों थक गए थे और मैं उसकी चूत पर सिर रखकर सो गया.

थोड़ी देर बाद में उठा और उसको बोला अब मेरा लौड़ा तेरे मुह में ले और मुझे मजा दे, तो वह नहीं नहीं बोलने लगी. मेरे को गुस्सा आने लगा मैंने उसे उठाया खड़ा किया और साली को जोर से उसके गर्दन पर काटा तो वह चिल्लाने लगी पर उसने भी मेरे को काटा बहुत जोर से. मैंने उसकी गांड दबाई. उसको नीचे बैठाया और चूसने को बोला. वह फिर भी मना कर रही थी.

उसने मेरा लंड हाथ में लिया और जोर से हिलाने लगी. मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. वह बहुत गुस्से में थी, दोनों हाथों से लंड पकड़ कर हिला रही थी. फिर उसने मुझे पकड़ा और बेड पर धक्का मार दिया.

फिर मैं आराम से लेट गया और वह जोर जोर से हिला रही थी. अब मुझे थोड़ा थोड़ा दर्द होने लगा था लेकिन मुझे बहुत मजा आ रहा था. अब मुझे लग रहा था कि उसको चोद ही डालूं लेकिन यह होने नहीं वाला था. उसने मेरे को ५ मिनट में निकाल दिया मेरा निकल गया और उसके मुंह में छोड़ दिया. अब मैं भी शांत हो गया था. फिर मैंने उसको उठाकर अलग किया और थोड़ी देर ऐसे ही पड़े रहे.  उसका भाई और निकिता भी शायद अंदर सो गए थे.

फिर मैंने उसको बोला जा पहुंचा कपड़े पहन ले.

हम दोनों ने कपड़े पहनने लगे तभी मैंने उसको बोला एक लास्ट मेरा बाकी है उसने भी हां बोला. मैंने उसको लिटाया उसके बूब्स को चोदने लगा. उसने दोनों बूब्स प्रेस किये और मेरा लंड  उसके बूब्स के बिच में से घुस रहा था. यह चुदाई आधा घंटा तक चली. उसके बूब्स पूरे लाल हो चुके थे. फिर मैंने सब साफ किया और कपड़े पहने उसने फिर से एक किस किया और बहुत थक गए थे तो बाद में सो गए.

फिर दूसरी सुबह निकिता ने मुझे उठाया और बोली राहुल मैंने कल सब देखा. मेरी फट गई लेकिन निकिता बोली तुम चिंता मत करो यह सब तेरे को आज मेरे साथ करना है. मेरी तो लॉटरी निकल पड़ी. मैं जब भी टाइम मिले तब रीमा के साथ  ओरल सेक्स करते हैं और मैं उसे बहुत खुश कर देता हूं.

(Visited 644 times, 29 visits today)

1 Comment

Add a Comment
  1. Ma app sa bat karna ha

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Hindi Porn Stories © 2016