Hindi Porn Stories

Sex stories in Hindi

मेरी बीवी का गेंगबेंग

हेलो दोस्तों में एक और हिंदी सेक्स स्टोरी के साथ पेश हुआ हूं यह स्टोरी मेरे एक रीडर ने मेल की है. वह चाहता है कि मैं उसकी स्टोरी पोस्ट करूं. यह स्टोरी उसकी बीवी का गैंगबैंग है, तो आगे की कहानी मेरे रीडर की जुबानी.

हाय फ्रेंड्स मेरा नाम शरद सोलंकी है और मैं गुजरात का रहने वाला हूं, और मैं एक प्राइवेट जॉब करता हूं. ९ बजे घर से निकल जाता हूं और रात को ९ बजे घर आता हूं. मेरी बीवी का नाम विनीता है और उसकी उम्र २७ साल है और उसकी फिगर ३०-२६-३० हे.

यह बात कुछ टाइम पहले की है मैं नाश्ता कर के घर से अपनी जॉब की तरफ चला गया, जब अपने ऑफिस पहुंचा तो पता चला कि आज बोस नहीं आया है तो मैं कुछ घंटे वहां रुका और मौका देख कर जल्दी घर आ गया. जब मैं पहुंचा तो घर का दरवाजा लॉक था.

तो मैंने दूसरी चाबी से दरवाजा खोला और अपने रूम की तरफ चला गया. जब मैंने दरवाजा खोलना चाहा तो पता चला कि वह भी लोक था और उसमें से मेरी बीवी की आवाज़ आ रही थी.

तो मैंने की होल से देखा तो मेरी बीवी नंगी बैठी हुई थी और उसके सामने तीन मर्द थे, एक उसका बॉयफ्रेंड था और दो शायद बॉयफ्रेंड के फ्रेंड होंगे. यहां मैं बताना चाहता हूं कि मुझे मेरी बीवी के बारे में पता है की उसका बॉयफ्रेंड है. और वह उससे काफी बार चुद चुकी है. मैंने अपनी बीवी और उसके बॉय फ्रेंड  की चुदाई भी काफी बार देखी हुई है.

अपने बॉयफ्रेंड से काफी मजे से चुदवाती है, इसलिए मैं उनको देखकर ज्यादा हैरान नहीं हुआ. तो मैंने डिसाइड किया कि चलो आज विनीता का गैंगबैंग देखते हैं. विनीता बेड पर बैठी हुई थी और वह तीनों अपने खड़े लंड लेकर विनीता के पास खड़े थे. सबके लंड तकरीबन ८-१० इंच के होंगे. अब विनीता ने अपने बॉयफ्रेंड का लंड मुंह में लिया और उसको चूसने लगी और बाकियों के लंड को पकड़ कर हिलाने लगी.

ऐसे ही बारी बारी बिनीता ने सब का लंड चूसा. २० मिनिट लंड चुसवाने के बाद विनीता बेड पर लेट गई और अपने पैर फैला दिए तो बॉय फ्रेंड का फ्रेंड विनीता के पैर के बीच आ गया और विनीता की चूत चाटने लगा और उसमें उंगली भी करने लगा, तो विनीता भी मजे में मौन करने लगी और उसका सर पकड़ कर अपनी चूत पर दबाने लगी उस को सिड्यूस करने लगी.

और बोली की चाटो मेरी चूत को बहुत गर्म है आज ठंडी कर दो, तुम बहुत अच्छे से चूत को चाटते हो शरद तो चूत भी नहीं चाटता बस चुदाई करता है और सो जाता है. उसका लंड भी छोटा है मजा नहीं आता चुदाई में, तुम्हारे लंड तो काफी बडे है आज पूरा मजा आएगा, दूसरा फ्रेंड आ गया वह विनीता के मम्मे चूसने लगा.

कुछ मिनट के बाद बॉयफ्रेंड के दोस्त ने अपना लंड वीनीता की चूत पर सेट किया और एक जोर का धक्का दिया तो पूरा लंड मेरी बीवी की चूत को चिरता हुआ अंदर घुस गया. विनीता की चीख निकल गई और उसकी आंखों में से आंसू आ गए. दूसरा दोस्त अभी भी उसके बूब्स के साथ खेल रहा था, फिर विनीता का बॉयफ्रेंड आगे आया और उसने अपना लौड़ा विनीता के मुंह में दे दिया, विनीता उसका लौड़ा चूसने लगी.

१५ मिनट चोदने के बाद पहला दोस्त चूत में जड गया. फिर दूसरा दोस्त आगे आया उसने अपना लौड़ा विनीता की चूत पर रखा और धक्का मारा,चूत में स्पर्म होने की वजह से उसका लंड आसानी से चूत में घुस गया, फिर वह भी विनीता को चोदने लगा, उसकी स्पीड पहले वाले से काफी तेज थी विनीता दर्द के मारे चिल्लाने लगी.

कुछ २५ मिनट तक चोदने के बाद दूसरा भी चूत में ही जड गया. इतने में पहले वाला फिर से गरम हो गया वह उठ खड़ा हुआ और बोला कि अब उसकी गांड मारूंगा, तो बॉयफ्रेंड बोला रुक तू. बॉय फ्रेंड बेड पर लेट गया और विनीता को अपनी चूत में  उसका लंड लेने को बोला. विनीता ने खुशी खुशी अपने बॉयफ्रेंड का लंड अपनी चूत में ले लिया और उसके ऊपर बैठ गई.

फिर पहले दोस्त ने थोड़ा थूक विनीता की गांड पर लगाया और अपना लौड़ा विनीता कि गांड में घुसा दिया, दोनों मेरी बीवी को पागलों की तरह चोदने लगे. फिर थोड़े टाइम बाद दोनों ने अपनी पोजीशन चेंज की अब बॉयफ्रेंड ने अपना लौडा विनीता की गांड में डाला और उसके दोस्त ने चूत में, वह फिर से विनीता को चोदने लगे.

साथ में वह विनीता की निपल को भी दांत से काट रहा था जिस से विनीता चिल्लाने लगी. विनीता के चिल्लाने की आवाज पूरे दिन में गूंज रही थी. वो दोनों अभी भी मेरी बीवी को चोद रहे थे, फिर दूसरे दोस्त ने आपना अपना लंड विनीता के मुंह में घुसा दिया, जिससे उसकि चीखने की आवाज बंद हो गई, अब बस रूम में पचक पचक की आवाज आ रही थी, ३० मिनिट चोदने के बाद दोनों विनीता की चूत और गांड में जड़ गए.

उनके ५ मिनट बाद ही दूसरा दोस्त भी जड़ गया, उसने अपना माल मेरी बीवी के बूब्स पर निकाला और पूरा फैला दिया, फिर चारों कपड़े पहनने लगे हैं. में जल्दी से भाग कर बाहर आ गया और मेन डोर फिर से लॉक कर दिया और घर से दूर छुप गया, जब वह तीनों मर्द चले गए.

उसके १५  मिनट बाद में घर गया. अब मेन डोर लॉक नहीं था, बीवी भी किचन में काम कर रही थी और ऐसे बिहेव कर रही थी जैसे कुछ हुआ ही ना हो. उसने मुझे पूछा के आज जल्दी आ गए? तो मैं बोला हां आज  बोस नहीं आया था इसलिए, फिर वह मेरे लिए लंच बनाने लगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Hindi Porn Stories © 2016 Frontier Theme