Hindi Porn Stories

Sex stories in Hindi

अंकल ने मम्मी को स्कुल में चोदा

हेलो दोस्तों मैं हूं सनी, में वडोदरा गुजरात से हु, मेरी उम्र २० साल है. मुझे पोर्न देखने में बहुत मजा आता है, और मैं रोज मेरे फोन में सेक्सी पोर्न देख कर मुठ मार करता हु और मुजे बहोत सुकून मिलता हे. मुझे सेक्स स्टोरी पढ़ना भी बहोत अच्छा लगता है, ज्यादातर में रिश्तो वाली स्टोरी ही ज्यादा पढ़ता हूं. यह मेरी पहली चुदाई स्टोरी है और अगर आप को पसंद नहीं आई तो सॉरी इन एडवांस कह देता हु.

यह चुदाई स्टोरी मेरी मोम की है जोकि टीचर हे स्कूल में. उनका नाम निता है और वह ४२ साल की है. वह दिखने में इतनी खूबसूरत नहीं है फिर भी औरत तो हे इतना ही काफी है. उनका फिगर ३४-२८-३६ है. आप अंदाजा लगा सकते हैं आपकी फिगर कैसा होगा और वह दिखने में कैसी होगी.

वह हमेशा साड़ी पहनती है क्योंकि हम गुजराती है. मेरे डैड का ट्रांसफर हो गया है दिल्ली में इसीलिए अब वह वहां रहते हैं और घर में अब हम तीन लोग ही रह गए हैं, मैं, मेरी मां और मेरी सिस्टर. अब बात मोम की करें तो आपको बताया मैंने कि वह एक स्कुल में टीचर है.

हमारे बाजू में एक अंकल रहते थे उनका नाम है हितेश. वह भी मेरी मोम की स्कूल में प्यून है. उनकी वाइफ नहीं है, वह अपनी एक लड़की के साथ रहते हैं.

वह नॉर्मल बॉडी के है लेकिन उनका पेट थोड़ा बाहर निकला हुआ है. जिसकी वजह से वह मोटे लगते हैं. मेरी मॉम और वह साथ में ही रोज अपने काम पर यानि की स्कूल में जाते हैं उनकी बाइक पर. इसीलिए सोसाइटी के बहुत सारे लोग उनके बारे में बात करते हैं और सोसाइटी के अंकल और लड़के  भी अब उनके बारे में गंदी गंदी बातें करते हैं और मॉम को लाइन भी मारते हैं.

यह चुदाई स्टोरी मुझे हितेश अंकल ने ही बताई है, और अब में इसे मेरी जुबानी से आपको बता रहा हूं. जब एक बार मैं घर में अकेला था और मोम भी कहीं बाहर गई हुई थी तब मैं पोर्न देख कर मुठ मार रहा था. तब अचानक रितेश अंकल आ गए क्योंकि उनके साथ हमारे घर जैसे रिलेशन थे और वह कभी भी हमारे घर पर आया जाया करते हे.

मैं बहुत डर गया और शरमा गया. तब उन्होंने मुझे समझाया की मुठ मारना अच्छी बात नहीं है, लड़की पटा कर चोदो, जैसे मैं तेरी मां को पटाकर चोदता था.

यह बात सुन कर मैं हैरान ही रह गया था और मैंने उन्हें गालियां भी दे दी, फिर उन्होंने कहा ठीक है मैं तुम्हारी मां को यह तुम्हारी हरकत के बारे में बताता हूं, यह सुन कर मुझे लगा कि अगर उन्होंने बता दिया तो माँ के सामने मेरी क्या इज्जत रह जाएगी? उन्हें पता चलेगा तब यह सोच कर मैंने उनसे माफी मांगी. फिर मैंने उससे पूछा कि यह मेरी मॉम वाली बात सही है?

तब मुझे उन्होंने बताया कि हां यह सच है मैं तुम्हारी मां को चोदता हूं यह सुन कर मुझे गुस्सा भी आ रहा था और मजा भी आ रहा था.

तब मैंने कहा कि मेरी मॉम ऐसी नहीं है तो उन्होंने बताया कि हां नहीं थी ऐसी लेकिन एक बार लंड का चस्का लग जाए फिर कोई भी औरत रंडी बन जाती है. मैं सुन कर दंग ही रह गया फिर उन्होंने मुझे मेरी मॉम की चुदाई के बारे में बताया कि कैसे उन्होंने मेरी मॉम को स्कूल के स्टोर रूम में चोदा था.

एक दिन जब बारिश का मौसम था तब मोम और अंकल बाइक पर स्कूल के लिए निकले तब अचानक रास्ते में बारिश शुरु हो गई थी और मोम और अंकल दोनों पूरे भीग गएथे. भीग जाने के कारण मोम काफी सेक्सी लग रही थी और अंकल भी उनको इस हाल में देख खुद को रोक नहीं पाए. उन्होंने मॉम को बोला कि आप भीग गयी हो तो रुम में जाकर अपने कपड़े थोड़े सुखा ले. वैसे भी किसी को पता नहीं है कि हम स्कूल में आए हैं.

उसके बाद अंकल ने स्टोर रूम की खिड़की से मोम को देख रहे थे. मोम ने साडी निकाल दी थी और ब्लाउज और पेटीकोट में खड़ी थी और अपनी साड़ी फेन ऑन कर के सुखाने की कोशिश कर रही थी.

मॉम के ब्लाउज में से ब्लैक ब्रा पूरी दिख रही थी इसे देख अंकल खुद को रोक नहीं पाए और वह अचानक से रूम के अंदर चले गए और दरवाजा बंद कर दिया. यह देख कर मोम घबरा गयी और तब अंकल ने  जरा सी भी देर ना करते हुए मॉम को पकड़ कर दबोच लिया. तब मोम ने अपने आप को छुड़ाने की खूब कोशिश की पर मेरी प्यारी पतली सी मोम कैसे छूड़ा पाती. मोम रोने लगी लेकिन अंकल को अपनी हवस के आगे कुछ दिख नहीं रहा था.

फिर अंकल ने मां के ओठ पर अपना ओठ रखा कर किस करने लगे. मोम ने खुब कोशिश की उनसे अलग होने की पर आखिरकार उन्होंने हार मान ली और चुप चाप किस करने लगी. फिर अंकल ने मेरी मोम को ५ मिनट तक किस करते रहे, और उन 5 मिनट में मेरी मोम भी  किस के मजे ले रही थी और अब वह अंकल को साथ देने लगी थी. अंकल का एक हाथ मोम की कमर पर था और दूसरा उनकी पीठ पर जोर से पकड़ा हुआ था. मोम को भी शायद अच्छा लग रहा था क्योंकि वह पूरी भीगी हुई थी और ठंडी में अंकल की गर्मी मिल रही थी उन्हें.

फिर अंकल एक  हाथ मोम के बूब्स पर रख कर दबाने लगे, इसे मोम ज्यादा उत्तेजित हो गई. फिर भी वह भी हिचकिचा रही थी क्योंकि वह एक शरीफ औरत थी और दो बच्चों की मां थी.

अंकल ने दूसरे हाथ से मोम की गांड दबाने लगे और मेरी मोम का पेटीकोट भीगा होने के कारण मस्त मस्त गांड का शेप पड़ रहा था. उन्होंने एक उंगली मॉम की गांड में डाल दी तो मोम एकदम से चोंक गयी और वह छुड़ाने की कोशिश करने लगी पर छूड़ा नहीं पाई.

उन्होंने उंगली पर जरा जोर दिया जिसे मोम की चीख निकल गई, यह सुन कर अंकल ने मां से कहा कि आवाज मत करो नहीं तो किसी को पता चल जाएगा तो तुम्हारी ही बदनामी होगी. मेरा क्या है? मैं तो मर्द हूं, यह सुनकर मोम चुप रही

फिर अंकल मॉम के ब्लाउज के हुक खोलने लगे लेकिन मम्मी नहीं ऐसा मत करो प्लीज़ मुझे छोड़ दो प्लीज़ नहीं ऐसा नहीं करो बोलने लगी तब अंकल ने कहा जबरदस्ती में शायद ब्लाउज फट गई तो क्या पहन कर घर पर जाओगी. यह सुन कर मेरी मोम रोने लगी और कहने लगी प्लीज़ मुझे जाने दो. तब अंकल ने कहा प्लीज एक बार चोदने दो उसके बाद मैं आपको जाने दूंगा और किसी को बताऊंगा भी नहीं. यह बात हमारे दोनों के बीच ही रहेगी. मोम यह सब सुन कर सोचने लगी वैसे भी भीगने के कारण ठंड के मारे ठिठुर रही थी.

फिर अंकल को लगा की शायद मान गयी है तो उन्होंने मोम के ब्लाउज के हुक खोल दिए और ब्रा की क्लिप भी पीछे से खोल दिए. मॉम के ३४ के गोर और मस्त सेक्सी बूब्स बहुत बड़े तो नहीं थे, लेकिन लाजवाब लग रहे थे. और उसके बिच में मंगलसूत्र देख कर अंकल पागल हो रहे थे. उन्होंने देर किए बिना ही उसके निपल को मुंह में लेकर चूसने लगे.

अंकल पागल हो गए थे. वह कभी होठों पर किस कर रहे थे तो कभी कभी अपनी पूरी जीभ मोम की जीभ से लगाते, उनको ओठो पे चूसते हो और कभी बूब्स को दबा दबा के चूसते थे. फिर वह थोडे नीचे बैठ कर मोम की कमर पकड़ कर उनकी नाभि को चूसने लगे अपनी जीभ अंदर डालने लगे, मोम भी अपनि आंखें बंद कर के मजे ले रही थी. अचानक ही उन्होंने पेटिकोट का नाडा खोल दिया और मोम की पेटीकोट को नीचे उतार दीया फिर उन्होंने पेंटी भी एक ही झटके में उतार दी.

मोम तब शर्म से सर नीचे करे हुए खड़ी थी और अंकल को यह सब करने का मना कर रही थी और रोने लगी. पर वह कहां मानने वाले थे. अंकल ने मां को स्टोर रूम में एक पुरानी बेंच  पर बैठने की जगह पर लिटा दिया और मोम के ऊपर आ गए. मोम के होंठ पर किस करने लगे, तब बहार भी बारिश खुप जोरो से शुरू थी और  बारिश भी रुकने का नाम नहीं ले रही थी. इसी के कारन मौसम भी रोमांटिक हो गया था अंकल भी मोम के होठ को छोड़ नहीं रहे थे फिर वह खड़े हुए और अपना शर्ट और बनियान निकाल दिया उनका पेट बड़ा था और बीच में बड़ी सी नाभी थी.

फिर वह मोम की नाभी को चूसते हुए नीचे गए और वह मोम की झांट वाली चूत को अपनी जीभ से चाटने लगे, मां की आंख बंद थी लगता था कि वह मजे ले रही थी. इसी तरह अंकल मोम की चूत को १० मिनट तक चाटते रहे. मोम मदहोश हो रही थी शायद उनका पानी निकल गया था.

अंकल फिर खड़े हो गए और अपने पेंट और अंडर वियर निकाल दिया और अपने लंड को पकड़ कर एक मुठ मारा तो उनका बड़ा सा तोपा बाहर आ गया. वैसे अंकल का लंड ८ इंच का था और २ इंच मोटा था. यह देख के मेरी मोम की आंखें फट की फटी रह गई और अभी भी मोम वही पर लेटी हुई थी.

अंकल ने मॉम को उनके लंड को मुंह में लेने के लिए कहा. पर मोम ने मना कर दिया तो अंकल ने बोला ठीक है कोई बात नहीं जान ऐसा कह कर अपनी पैंट की जेब से कंडोम निकाला और लंड पर लगा दिया यह देख मोम हैरान हो गई क्योंकि अंकल का लंड बहोत मोटा लग रहा था. तब मेरी मोम ने बेंच से उठने की कोशिश की मगर अंकल उनके ऊपर आ गए और दोनों पैरों के बेंच के दोनों तरफ कर दिए और फिर से मॉम के पेरो को थोडा फैला के  मोम को होठों पर किस करने लगे और अचानक से मोम के पैरों को थोड़ा फैला के मॉम की चूत के छेद पर लंड रखा और धीरे से अंदर डालने लगे. यह मोम शायद महसूस कर रही थी लेकिन उनके पास कोई चारा नहीं था चुप चाप चुदवाने के सिवाय क्योंकि उसे अपनी इज्जत बहोत प्यारी थी.

मां की चूत काफी टाइट थी क्योंकि शायद काफी सालों से चुदाई नहीं हुई होगी. मोम को काफी दर्द हो रहा था वह छुड़ाने की कोशिश कर रही थी लेकिन अंकल ने मॉम के दोनों पैरों को अपनी पीठ पर ले लिए और मोम पर लेट कर उन्हें होठों पर किस करने लगे. फिर धीरे धीरे अंकल का लंड चूत में अंदर जा रहा था आधा लंड भी मुश्किल से गया था मां की चूत में यह देखा अंकल ने चूत में से लंड निकाल लिया और मोम को बेंच पर जहां बुक रखते हैं वहां पर बैठा दिया दोनों पैर को खोल कर के फिर एक जोर का झटका दिया जिसकी वजह से मोम की आंखों से आंसू निकल गए और जोर से चीख पड़ी रोने लगी और लंड बाहर निकालने को बोलने लगी.

लेकिन अंकल ने फिर चार पांच झटके मार दिये और पूरा लंड अंदर चला गया और अब अंकल मजे लेते हुए चोद रहे थे. आह ओह हहह ओह हह्ह्ह ओह हहह उम्म्म मेरी जान आई लव यू डार्लिंग, आज तो मजा आ गया आह्ह ओह्ह हहह ओह अहह और अंकल जोर से झटके मार रहे थे और हांफ रहे थे, उधर मोम भी सिसकिया भर रही थी प्लीज छोड़ दो लेकिन अंकल तो मजे ले कर चोद रहे थे.

फिर ऐसे ५ मिनट चला. फिर अचानक से मॉम का बिहेवियर चेंज हो गया वह भी सिसकियां मजे से लेने लगी, अझाझ ह हहह हहू ओम्म्म उम्म्म अह्ह्ह य्हेस हह एस अह्ह्ह ओह्ह उंम्म जैसी आवाज निकलने लगी और पूरे स्टोर रूम में हल्की सी चुदाई की ठप ठप ठप ठप आवाज आ रही थी. अंकल जोर जोर धक्के मार रहे थे मोम भी मजे से आवाज निकाल रही थी जिसकी वजह से अंकल ज्यादा एक्साइटेड हो रहे थे. और फिर १० मिनट तक वही पोजीशन में चोदते रहे.

फिर अंकल का पानी निकल गया और वह जोर से आवाज निकालने लगे और अहह ओह्ह हहह ओह हहह थोड़ी देर तक ऐसी ही पोजीशन में मॉम के साथ लिपट कर पड़े रहे. फिर मोम बहुत थक गई लगती थी उन की चुदाई की वजह से. उन दोनों ने कपड़े पहने और मोम अंकल से कुछ बोले बिना वहां से अपनी भीगी हुई साड़ी पहन कर चली गई.

(Visited 757 times, 17 visits today)

9 Comments

Add a Comment
  1. koi boy mujhse sex krna chahe to kr skta h
    secret relation hoga

    1. chut ki size btao
      kahan milogi

      1. 7786066093 Name rohit

    2. Yes mein Kare sakta hun mobile chat Kare Sakata hun fb Whatsapp chat bhi Kare sakta hun my number is 9435049911

    3. If u wanna sex . no problem u can have with me

    4. Kaha ki rahanewali ho soniyaji

    5. 7379383740 whatsapp i m a students any bhabi aunti

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Hindi Porn Stories © 2016