बोस की बीबी को मुझसे चुदाने की आदत हो गयी है

मेरा नाम रामू है. मैं झारखंड की राजधानी रांची का रहने वाला हूँ. आज पहली बार सभी फ्रेंड्स को अपनी सेक्स स्टोरी सुना रहा हूँ. आप लोगो को बता देता हूँ की मैं बहोत सेक्सी मर्द हूँ. अभी मेरी ऐज 28 साल है. मेरे को सेक्स करना और औरतो को चोदना बहोत पसंद है. पता नही क्यों मैं जितना जादा सम्भोग करता हूँ मेरी वासना की आग उतनी जादा बढ़ती जाती है. जवान और कुवारी लड़कियों को रोज चोद चोदकर भी मेरा दिल नही भरता हूँ.अभी तो 30 से जादा लड़कियों को अपने 6 इंची लम्बे लंड से चोद चूका हूँ, पर फिर भी सोचता हूँ की काश कोई नई लड़की मिल जाए. मैं रोज सुबह कसरत करता हूँ और पानी में भीगे बादाम खाता हूँ और 2 गिलास दूध पीता हूँ. जिससे मेरा लंड सदैव जवान रहे और जिस लड़की की मैं चुदाई करूं वो मुझसे पूरी तरह से संतुस्ट रहे और बार बार मेरे से सेक्स के लिए आती रहे. हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम 
फ्रेंड्स 6 महीने पहले की बात है. मैंने अपनी पुराणी नौकरी छोड़ दी थी. अब दूसरी कम्पनी में ऑफिस बॉय बन गया था. हमारे बोस की बीबी सुरलीन अक्सर ऑफिस आती रहती थी. बोस की एक बड़ी दवा की एजेंसी थी जो बहोत चलती थी. पूरे रांची के सभी मेडिकल स्टोर वाले हमारे यहाँ से दवा ले जाते थे. बोस की सेक्सी बीबी जब भी ऑफिस आती थी बेवजह सभी कर्मचारियों को परेशान करती थी. अगर कोई कर्मचारी उसकी तारीफ़ न करता और गुड मोर्निंग, इवनिंग उसको नही बोलता तो उसको बोस से बोलकर नौकरी से निकलवा देती थी.

जब मैंने नया नया इस अजेंसी में काम करना शुरू किया तो मेरे को सबने बोल दिया जब बोस की बीबी आये तो उसकी खूब तेलमालिश यानी चापलूसी मैं करूं. शुक्रवार को सुबह के 11 बजे की बोस की बीबी आ गयी. उसके आते की अजेंसी में खलबली मच गयी. जिसके पास कोई काम नही था वो भी झूठ मूठ कुछ करने लगा जिससे बोस की बीबी को कोई बहाना न मिले. कुछ औरतो को दूसरे के काम में ऊँगली करने को आदत होती है. बोस की बीबी बिलकुल ऐसी थी. वो तानाशाह थी. जब तक वो लोगो के काम में नुक्स नही निकलती थी उसे मजा नही आता था. एजेंसी में सब उसे मैडम कहकर बुलाते थे. उसके आते ही मैं उसके लिए दौड़ा दौड़ा पानी ले लेकर गया.
मैं: लीजिए मैडम!
वो मेरे को ध्यान से देखने लगी. उपर से निचे तक. फ्रेंड्स मैं 6 फुट का जवान और सेक्सी लड़का था. रंग भी मेरा बहोत गोरा था. सब लड़कियों और औरतो को मैं पसंद आता था. मैंने हाफ शर्ट और नीली जींस पहनी थी. मेरे डोले मेरी हाफ शर्ट में साफ़ साफ़ दिख रहे थे. मेरी मसल्स बनी हुई थी. मैडम मेरे को ध्यान से देखने लगी. काफी देर तक घूरती रही.
बोस की बीबी: क्या नाम है तुम्हारा??? पहले कभी तुमको देखा नही??
मैं: जी अभी अभी यहाँ आया हूँ
बोस की बीबी: अच्छा!! अच्छा!! मेहनत से काम करो. देखो हरामखोरी मत करना
मैं: जी! मैडम जी
उसने पानी पीकर गिलास ट्रे में रख दिया.
बोस की बीबी: अब जाओ! मेरे लिए एक अच्छी सी काफी बनाकर लाओ. मुझे बताओ मैं कैसी दिखती हूँ??
मैं: आप साड़ी ब्लाउस में बहोत जंच रही हो
वो मुस्कुरा दी. उसके बाद मैं कोफ़ी बनाकर उसके लिए ले आया. फ्रेंड्स, अगले ही दिन मैडम ने मुझे बोस से बोलकर घर का काम करने को दे दिया. मुझे अपने बंगले का मनेजर बना दिया. अगले दिन मैं 10 बजे ऑफिस नही बल्कि बोस के बंगले पर चला गया. मैडम मुझे अपने बेडरूम में ले गयी. वो मेरे को दूसरी नजर से देख रही थी. मैं कुछ समझ नही पा रहा था. हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम 
बोस की बीबी: देखो रामू!! अब तुम्हारा काम मुझे हर तरह से खुश करना है. यही तुम्हारा काम है. अगर तुम काम करते हो तो तुमको अच्छी तनख्वाह मिलती रहेगी. अब जाओ मेरे लिए फ्रिज से फल लेकर आओ और मुझे काटकर दो.

मैं: जी मैडम जी!!
मैं गया और उसके लिए फल लेकर आया. सेब का टुकड़ा उठाकर वो खाने लगी. उसने टीवी में बेवाच सिरिअल लगा दिया. उसने सेक्सी लडकियाँ समुद के पानी में स्विम सूट पहनकर अठखेलियाँ कर रही थी. हर लड़की मस्त और सेक्सी दिख रही थी.
बोस की बीबी: रामू!! अब खड़े क्यों हो. तेल की शीशी लेकर आओ और मेरे बालों में चम्पी करो आकर
वो हिटलर की तरह बोली. काफी तनाशाह थी वो. मुझे तो नौकरी करनी थी इसलिए मैं वो कर रहा था जो वो कह रही थी. मैं तेल की शीशी लेकर आया और उसके बालो में तेल लगाने लगा. उसके खुले बाल काफी लम्बे और घने थे. वो साड़ी ब्लाउस पहनकर कुर्सी पर बैठी थी. मैं उसके पीछे खड़ा होकर उसके बालो में तेल लगा रहा था. उसकी चम्पी कर रहा था. फिर कुछ देर बाद वो ठरकी हो गयी और सेक्सी हरकते करने लगी. मुझे लग गया की वो मेरे लंड की प्यासी है.
बोस की बीबी: सिर्फ बालों में नही, नीचे तक हाथ लगाओ!!
वो बोली. उसने ही मेरे हाथ ब्लाउस के उपर दूध तक ले जाने को कहा. फ्रेंड्स मैं तो हैरान ही था. अब मुझे उसके दूध को हाथो से दबाना भी था. मैं करने लगा जो जो बोस की बीबी बोल रही थी. फिर वो पूरी तरह से सेक्सी हो गयी और अपने दोनों दूध पर मेरे हाथ रखकर दबाने लगी. अब वो “ओह्ह माँ….ओह्ह माँ…उ उ उ उ उ……अअअअअ आआआआ….” करने लगी. मैं भी परेशान होकर दबा रहा था. मेरे को डर भी लग रहा था.
बोस की बीबी: क्या कभी किसी औरत की चूचियों को नही दबाया है तूने क्या?? अरे तेरा काम मेरे को खुश करना है. चल बेटा!! अच्छे से मेरे दूध दबा!
मैं: जी मैडम!!  हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम 
अब मैंने बालो को भूलकर उसके ब्लाउस के उपर अपने दोनों हाथ ले आया. और कस कसके दबाने लगा. मैडम मस्ताने लगी. मैं भी सेक्सी फील करने लगा. फिर मैंने अपना हाथ उपर से उसके हरे रंग के नेट वाले ब्लाउस में घुसा दिया और मस्त मस्त दूध को दबाने लगा. फ्रेंड्स बोस की बीबी जितना घमंड दिखाती थी उतनी सेक्सी माल भी थी. 5 फुट 6 इंच का अच्छा लम्बा कद था उसका और अभी काफी जवान थी. अभी उसके कोई बच्चे नही थे. उसकी चूत फाड़कर कोई भी बच्चा नही निकला था इसलिए चेहरे पर लड़कियों वाली चमक और तेज था. उसकी आँखे नशीली थी जो मेरे को बता रही थी की उसको सेक्स करना और चुदना पसंद था.

मैं भी उसके कहेनुसार उसके दूध दबाने लगा. वो बार बार “ओहह्ह्ह…ओह्ह्ह्ह…अह्हह्हह…अई..अई. .अई… उ उ उ उ उ…” करने लगी. फिर मेरे को अपने पास खीच लिया. मैं उसके सामने आ गया. उसने मेरे को पकड़कर किस करना शुरू कर दिया. मैं भी करने लगा. धीरे धीरे हम दोनों का रोमांस जोर पकड़ने लगा. मैडम ने मुझे गले से पकड़ा और मेरे लबो पर अपने लब रख दिए. फिर वो मेरा किस लेने लगी. मैं कभी सोचा नही था की बोस की बीबी के लब चूसने को मिलेंगे. तो मैं भी किस करने लगा. कुछ देर बाद तो हद हो गयी जब उसने मुझे सीने से लगा दिया.
मैं: मैडम!! कोई देख लेगा तो बोस को बता देगा
बोस की बीबी: तू उसकी फ़िक्र मत कर. तेरा बोस मेरा पालतू कुत्ता है. मेरी चूत और दूध को देखकर भीगी बिल्ली बन जाता है. तुझे पता है की उसका लंड तो ठीक से खड़ा भी नही हो पाता है. वो तो साला नामर्द है और बिना दवा लिए उसका लंड खड़ा होता ही नही होता है. मेरे को मुस्किल से 3 -4 मिनट ही चोद पाता है. उसके बाद झड़ जाता है. अपनी मर्दानगी की कमजोरी की वजह से तेरा बोस मेरे सामने भीगी बिल्ली बनकर रहता है
उसके बाद उसने मुझे किस करना शुरू कर दिया. मेरी पीठ पर अपने हाथ घुमाने लगी. बड़ी फ़ैसनेबल थी बोस की बीबी.
बोस की बीबी: रामू बेटा!! चल मेरी चूत में अपना लंड डालके मेरे को मजा दे. चल अपने कपड़े तू भी उतार दे!!
वो बोली. उसकी बात सुनकर मैं फिर से हैरान था. वो पास पढ़े बेड पर ढेर हो गयी. अपने हाथ से उसने अपना ब्लाउस और साड़ी खोल दिया. अब मेरे को अपने उपर लिटा दिया. उसके बाद मेरे को उसकी बात माननी ही पड़ी. मैंने भी अपनी शर्ट और जींस उतार दी. सिर्फ नीले अंडरवियर में उसके पास चला गया. उसने मेरे को अपने उपर लिटा लिया. बोस की बीबी की चूचियां 36 इंच की थी. काफी बड़ी बड़ी थी. उसका फिगर 36 30 34 का था. हटटी कट्टी देह वाली थी. उसकी दोनों चूचियां बड़ी बड़ी गुलाबी रंग की ब्रा में कैद थी.  हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम 
बोस की बीबी: चल रामू बेटा!! मेरे से प्यार कर 
मैं भी उसे चुम्मा पर चुम्मा देने लगा. हटा सावन की घटा. जब औरत खुद ही चुदने को मर रही है तो मैं ही क्यों पीछे हटूं. मेरे भीतर का चुदासा मर्द जाग गया. मैंने उसके दोनों हाथ पकड़ लिया और फिर ब्रा के उपर से बोस की बीबी के दूध दबाने लगा जोर जोर से. फिर उसके होठो पर चुम्मा लेने लगा. अब मैं उसके गाल पर कई बार पप्पी ले चूका था. हाथ से उसके दूध दबा दबाकर मैंने ब्रा खोल डाली. उसने ब्रा उतार दी.

बोस की बीबी: चल बेटा रामू!! पी दूध को
मैंने भी उसके बड़े बड़े दूध को मुंह में ले लिया और चूसने लगा. मैडम अब “आआआअह्हह्हह…..ईईईईईईई….ओह्ह्ह्….अई. .अई..अई…..अई..मम्मी….” करने लगी. मैं हाथ से दबा दबाकर उसके दूध पी रहा था. किसी बच्चे के जैसे चूस रहा था. वो सिसक रही थी. मैं बड़ी देर तक उसके दूध मुंह में लेकर चूसा. उसकी छातियाँ बड़ी सफ़ेद और चिकनी थी. जिस तरह से किसी सेक्सी और सुंदर लड़की के दूध होते है उसकी तरह से उसके दूध थे. मैंने तो खूब चूसा.
बोस की बीबी: अब मेरी चूत चाटो रामू बेटा!!
उसने अपना पेटीकोट खोल दिया और पेंटी उतार दी. मेरे सिर को उसने अपनी चूत के ठीक उपर रख दिया और चूत के अंदर सिर दबाने लगी. मैं उसकी चूत को कुछ देर तक देखता रहा. फिर जल्दी जल्दी चाटने लगा. बोस की बीबी की चूत बिलकुल चिक्कन थी. उस पर कोई भी झांटे नही थी. शायद वो रोज अपनी चूत को बनाती थी. मैं जल्दी जल्दी चाटने लगा. अब वो अपने दोनों घुटने उपर को उठाने लगी. वो “……मम्मी…मम्मी…..सी सी सी सी.. हा हा हा …..ऊऊऊ ….ऊँ. .ऊँ…ऊँ…उनहूँ उनहूँ..” बोल रही थी. मैं भी दिल लगाकर उसकी चूत चाट रहा था. उसकी चूत के होठ गुलाबी रंग के लम्बे लम्बे बड़े बड़े थे. मैं उनको दांत से काट रहा था. फिर चूत में ऊँगली करने लगा तो वो सीत्कारियां लेने लगी.  हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम 
बोस की बीबी: रामू!! तू अच्छा कर रहा है. और चाट बेटा!!
उसके बाद मैं और जीभ को घुमा घुमाकर उसकी चूत में ऊँगली करता और चाट जाता. कुछ देर में वो मुतने लगी और मेरे मुंह में कई बूंद उसकी मूत का चला गया. पर तब तक मैं बहोत सेक्सी मर्द हो चूका था. मैं सब पी गया. अब रुकना मुस्किल था. मैंने जल्दी से अपने नीले स्काई ब्लू रंग के अंडरवियर को हाथ से पकड़कर उतार दिया और लंड को पकड़कर मुठ देने लगा. 2 मिनट अपने 6 इंच के लंड को हाथ से मुठ देता रहा. अब मेरा लंड लोहे की रोड बन गया था. मैंने हाथ से लंड को पकड़ा और बोस की बीबी की चूत में डाल दिया. वो भी लंड को लील गयी. अब मैं उसे जल्दी जल्दी चोदने लगा. अब वो “…….उई. .उई..उई…….माँ….ओह्ह्ह्ह माँ……अहह्ह्ह्हह…” की सेक्सी आवाजे निकालने लगी तो मेरे को बहोत मजा मिलने लगा. हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम 

मैंने भी पक पक उसकी चूत को फाड़ डाला. जल्दी जल्दी अंदर तक धक्के मारने लगा जिससे उसे और ऐश मिले. वो दोनों टांगो को फैलाकर मेरे लंड का स्वागत चूत के भीतर कर रही थी. उसके 36 इंच की चूचियां पर काले काले बड़े बड़े गोले निपल्स के चारो तरफ उसकी खूबसूरती में चार चाँद लगा रहे थे. बोस की सुंदर बीबी के रूप में मैं आँखों से पी रहा था और लंड से चोद रहा था. कुछ देर बाद तो मैं जोर जोर से चूत में धक्के देने लगा. उसके उपर चढ़ गया और उसे दोनों हाथो से अपने सीने में भींच लिया. फिर होठो पर खूब किस्सी ली और उसके लबो को चूस चूसकर उसको चोदा. काफी मनोरंजक दृश्य बन गया था वो फ्रेंड्स. मैं उसे उसी तरह से चोदा जैसे मेरा बोस उसको पेलता था. फिर अंत में मैं उसकी चूत में ही आउट हो गया. अपना गर्म गर्म पानी मैंने उसकी बुर के छेद में ही निकाल दिया. फ्रेंड्स अब बोस की बीबी को मेरा 6 इंच का लंड रोज की खाने की आदत हो गयी है. मुझे अच्छी सैलरी भी देती है और खूब सेक्स करवाती है.