बुआ की लड़की को गलती से बाथरूम में नंगी नहाते देख लिया

मेरी बुआ की लड़की आनंदी बहोत ही सुंदर लड़की थी. वो अभी अभी जवान हुई थी और उसे देखकर तो किसी भी लड़के का दिल उस पर आ जाता. जब मैंने 2 महीने पहले बुआ के घर गया तो आनंदी को देखकर मेरी नियत बिगड़ गयी. फ्रेंड्स एक जवान और खूबसूरत लड़की में जो बात होनी चाहिए वो सब आनंदी में थी. अब वो पहले की तरह छोटी नही थी. उसका कद भी 5 फुट 5 इंच हो गया था. बदन अब काफी निखर आया था और छाती तो पूरी तरह से विकसित हो गयी थी. जब मैंने उसे पहली नजर देखा तो पहचान ही नही सका. अब वो जैसे कोई औरत लगती थी. लम्बी चौड़ी और उसके बूब्स अब 36 इंच से भी जादा बड़े हो गये थे. आनंदी से उस समय नीला प्रिंटेड कमीज पहना था और नीली रंग की चुस्त लेगी पहनी थी. उसकी छाती पर दुप्पटा नही था. मैंने देखा तो हक्का बक्का रह गया. वो मेरे को देखकर स्माइल देने लगी. खुले काले लम्बे बालों में किसी भी लकड़े का लंड आनंदी को देखकर टनटना जाता. मेरे साथ भी ऐसा ही हुआ.

हाय फ्रेंड्स मेरा नाम अनमोल है.
आनंदी: अरे अनमोल भाई!! तुम कब आये??
मैं: सुबह ही आया हूँ. पर तू तो कितनी बड़ी हो गयी है. मैं तो पहचान ही नही सका
आनंदी: सब लोग यही कहते है
मैं: अब तो तेरी जल्दी ही शादी करने होगी
ये बात सुनकर वो हंसने लगी. मेरे से खड़े होकर बाते करने लगी. मेरी पढाई के बारे में पूछ रही थी पर मेरी नजर बार बार उसके ठोस और सुडौल दूध पर चली जाती थी. मैं भी जवान था तो खुद को रोक नही सका. बार बार उसके रसीले गोल दूध देखकर सेक्स करने का दिल कर रहा था. कुछ देर बाद वो चली गयी. मैं सीधा अपने कमरे में गया और दरवाजा बंद करके मैंने मुठ मार दिया. बार बार मेरी आंखों में मेरी बुआ की सेक्सी और जवान लड़की आनंदी का चेहरा आ रहा था. मैं कुछ दिन बुआ के घर रहा. हमेशा नजर आनंदी पर चली जाती. बुआ बार बार मुझसे कहती की उसकी शादी के लिए कोई लड़का बताऊं. ये सोचकर मेरे को बड़ा बैड फील होता. मन ही मन सोचता था की कौन वो लड़का होगा जिसे फर्स्ट टाइम आनंदी के साथ चुदाई करने को मिलेगा. जरुर वो लड़का बहोत बुलंद किस्मत वाला होगा तो इतनी जवान और खूबसूरत लड़की को चोदने को उसे मिल जाएगा. ये बात सोचकर मैंने दूसरे दिन भी मुठ मार दी. बुआ ने मेरे को जबरदस्ती रोक लिया और कहा की इतने दिनों बाद आया हूँ. अब तो कम से कम 15 दिन रहना होगा. मैं बुआ के घर रुक गया.
फ्रेंड्स दूसरे ही दिन आनंदी के सेक्सी बदन के दर्शन हो गये. मैं तौलिया लेकर जब बाथरूम में गया तो वो पहले से स्नान कर रही थी. मैंने उसे पूरा का पूरा नंगा देख लिया. वो झेंप गयी. अपने नंगे जिस्म पर वो पानी डाल रही थी. मेरे को उसका पेट, कसे कसे तने दूध, और चूत भी दिख गया. मैं जल्दी से बाहर आ गया. रात में पास ही मोहल्ले में कोई प्रोग्राम था. बुआ की सहेली की लडकी का संगीत का प्रोग्राम था. वो वहां चली गयी. हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम
बुआ: बेटा अनमोल!! देखो वहां पर गाना वाना होगा और तू तो जानता है की मुझे गाना गाना कितना पसंद है. देखो मुझे आने को 12 बज जाएंगे. तुम और आनंदी खाना खा लेना. और देखो मेरा इंतजार मत करना. सो जाना तुम दोनों

मैं: अच्छा बुआ
फिर बुआ संगीत में चली गयी. मैंने आनंदी के साथ ही खाना खाया पर आज कुछ बात नही हुई. सुबह मैंने उसे बिना कपड़े के देख लिया था उसके बाद न तो मेरी हिम्मत थी  हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम बात  करनी की और न उसकी. फिर मैंने सोचा की इसे लाइन देता हूँ. अगर आनंदी गर्म हुई तो पट जाएगी और मेरे को चूत भी दे देगी. मैंने ही बात करना शुरू किया.. हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम
मैं: बहन!! तुमको कोई लड़का पसंद आया क्या?. बुआ तो बोल रही थी की 5 लड़को की फोटो आई थी
आनंदी: मेरे को एक भी पसंद नही आया
मैं: अब तो तू अपने पिया के घर जाएगी. तेरे को खूब प्यार करेंगे और किस भी खूब करेंगे
मेरी बात सुनकर आनंदी मुस्कुरा दी. वो चहक रही थी. पिया (साजन) का नाम सुनकर वो मुस्कुरा रही थी. उसे देखकर लग रहा था की उसका बस चले तो आज ही चली जाए
आनंदी: अनमोल!! मेरे पिया जी क्या सिर्फ मेरे को किस करेंगे???
मैं: तेरे साथ गरमा गर्म सेक्स करेंगे. तेरे को खूब मजा देंगे और तेरा तो अपनी ससुराल से आने को मन ही नही होगा
मैंने बोला. फिर अब हम दोनों ही खुलने लगे. हम दोनों की जवान थे. मेरी ऐज 24 साल थी और आनंदी मेरे से सिर्फ 1 साल छोटी थी. यानी 23 की थी. वो भी अब जवान लड़की हो गयी थी. दोनों अब सेक्स की बात करने लगे.
आनंदी: अनमोल!! क्या तूने कभी सेक्स किया है???
मैं: किया तो नही है पर चुदाई फिल्म बहोत देखी है. मेरा भी सेक्स करने का बहोत मन है. अगर कोई सुंदर सेक्सी लड़की मिल गयी तो चुदाई कर लूँगा
मेरी बात सुनकर आनंदी बहक गयी. उसने अपनी कुर्सी मेरे पास ही खिसका ली.
आनंदी: अनमोल!! तू मेरे साथ सेक्स करेगा बोल??
मैं तो सुनकर चौंक गया
मैं: पर तू किसी को बोलेगी तो नही
आनंदी: मैं किसी को नही बोलूंगी. आज मम्मी भी घर पर नही है. चलो दोनों चुदाई करते है
उसके बाद मेरी भी मूड बन गया. मैंने अपनी बुआ की लड़की को पकड़ लिया और दोनों एक दूसरे को बस देखे जा रहे थे. अजीब पल था वो. मेरे को समझ नही आ रहा था की आनंदी को चोदू या न चोदू. कल को बात खुल गयी तो बुआ से रिश्ता बिगड़ जाएगा. फिर सोचा की ऐसे बाते कोई लडकी किसी से नही कहती है और आज जब आनंदी का भी चुदने का मन है तो क्यों न सेक्स का मजा लिया जाए.

मैं: आनंदी!! मैं तेरे को चुदाई का मजा दूंगा पर तू प्रोमिस कर की ये बात बुआ जी को नही बोलेगी
आनंदी: अनमोल!! तू पागल है क्या?? कोई लड़की अपनी चुदाई की बात किसी को नही बोलती है
उसके बाद मैं रिलैक्स हो गया. उसके साथ किस करने लगा. दोनों खड़े होकर किस करने लगे. ऐसा लग रहा था की वो भी मेरी तरह कई साल से चुदने को व्याकुल थी. मैं भी इधर व्याकुल था. कितने दिनों से सोच रहा था काश कोई सेक्सी लड़की मिल जाए तो उसकी चूत में लंड घुसाकर चोद लूँ. आज देखो किस्मत चमकी है. मैंने उसे सीने से लगा लिया तो उसके 36 इंच के बड़े बड़े दूध मेरे सीने में चुभने लगे. पर आह हह कितना मजा आया फ्रेंड्स. मैं भी जोश से भर गया और आनंदी को मैंने कंधे से पकड़ लिया और लिप्स से लिप्स जोडकर किसिंग करने लगा. वो भी मेरे को सेक्सी लड़की जैसे किस कर रही थी.
हम दोनों ही अनाड़ी थे. वो भी नही चुदी थी और मैंने भी आजतक किसी लड़की को नही चोदा था. काफी देर तक किसिंग होती रही. मैं तो किसी पोर्न एक्टर की तरह उसके गुलाबी होंठों को पीने लगा. इसमें आनंदी काफी गर्म हो गयी. आज मेरे को पता चला की अगर किसी लड़की को सेक्स के लिए राजी करना है तो उसके लिप्स पर खूब देर तक किस करो. लड़की पट जाएगी. फिर हम दोनों ही आनंदी के कमरे में चले गये. वो बिस्तर पर लेट गयी.
मैं: आनंदी!! मेरे को अपने सेक्सी दूध दिखा दे. कल मैंने हल्का सा देखा था पर आज तो पास से देखना है
मेरी बात सुनकर उसने अपना सूट उपर को उठा दिया. उसके बड़े बड़े सुडौल दूध ब्रा में कसे थे. आनंदी ने अपनी ब्रा को उपर किया और दोनों दूध को बाहर निकाल दिया. ओह्ह इतनी रसीली चूचियां मैंने आजतक नही देखी थी. मैं तो मचल गया और उस पर जैसे टूट पड़ा. तुरंत ही अपने हाथ दोनों दूध पर रख दिए और सहलाने लगा. अब मेरी बुआ की लड़की “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा हा” करने लगी. वो भी तरह तरह की आवाज निकालने लगी. मैं बार बार दूध ही देख रहा था. मैं आज अपनी आँखों को सेक रहा था. कितनी बड़ी बड़ी रसेदार चूचियां थी. आनंदी कब जवान हो गयी मेरे को तो पता ही नही चला. उसके बाद मैंने वही किया जो कोई भी लड़का करता. मैंने उसके दूध को पकड़कर मुंह में ले लिया और चूसने लगा. आनंदी को वी बहोत सेक्सी लग रहा था. मैं अच्छी तरह से दूध चूसने लगा. वो बार बार मचल रही थी. मैं बार बार हाथ से दूध को दबा देता था. बार बार मसल रहा था जिससे उसे खूब प्लेसर मिले और वो मेरे को बार बार अपनी चुत चोदने को दे. मैं काफी देर तक दूध सकिंग करता रहा. अब तो आनंदी भी सेक्सी हो गयी. मेरी पीठ में डाल डालकर हाथ से पीठ को उपर नीचे टच करने लगी. मेरे को भी काफी अच्छा लग रहा था.

फिर हम दोनों ने अपने अपने कपड़े उतारना शुरू कर दिया. मैंने अपनी शर्ट पेंट उतार डाली. आनंदी ने खुद ही अपना सलवार कुरता निकाल दिया. वो फिर से बेड पर लेट गयी. काफी देर तक उसके दोनों दूध को मैंने सक किया. हाथ से दबा दबाकर लाल कर दिया. वो “……अई…अई….अई……अई….इसस्स्स्स्स्…….उहह्ह्ह्ह…..ओह्ह्ह्हह्ह….” करने लगी. मैंने सोचा की आज इसको अपना लंड चूसा दूँ. मैंने भी उसके हाथ को पकड़कर लंड पर रखवा दिया. फ्रेंड्स आपको बता दूँ की मेरा लंड 6 इंच भी जादा लम्बा है और काफी मोटा भी है. आनंदी मेरे लंड को ध्यान से देखने लगी.
आनंदी: अनमोल!! तेरा लौड़ा तो काफी मोटा है
मैं: हां बहन!! मैं इस पर सांडे की तेल की मालिश करता हूँ. तू इसे मुंह में लेकर चूस फिर तेरे को काफी मजा आएगा
मेरी बात सुनकर आनंदी मेरे लंड को हाथ से फेटने लगी. अब मैं भी …..सी सी सी सी….हा हा हा…करने लगा. क्यूंकि मेरे को भी मजा मिल रहा था. अब आनंदी किसी सेक्सी लड़की की तरह लंड चूसने लगी. डर डरके आखिर उसने लंड मुंह में ले लिया और चूसने लगी. अब तो मेरे को हेवन जैसा फील हो रहा था. कवी सोचा नही था की इतनी जवान खूबसूरत लड़की मेरा कंट सकिंग करेगी. मैंने उसके सिर को पकड़कर नीचे को दबा दिया जिससे लंड उसके मुंह में और अंदर चला जाए. उसने 15 मिनट मेरा सक किया यानी लंड चुसा. हिंदी पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम
मैं: आनंदी!! तेरे को अब मेरे लंड पर बैठना है. मैं तेरे को सिखा दूंगा फिर तेरे को चुदाई में काफी मजा मिलेगा
उसके बाद मैं लेट गया. वो मेरे उपर कमर पर आकर बैठ गई. फ्रेंड्स मेरा 6 इंच लंड किसी चाक़ू की तरह तेज धार दिख रहा था. जैसे ही आनंदी मेरे रोकेट जैसे लंड पर बैठी तो वो सीधा चूत में घुस गया. थोडा खून उसकी चूत से निकला. मैंने उसे किस किया और चुदाई करने लगा. धिरे धिरे मैं उसकी पतली कमर पकड़कर नीचे से चूत में धक्के मारने लगा. अब वो चुदने लगी और “अई…..अई….अई… अहह्ह्ह्हह…..सी सी सी सी….हा हा हा…” कहने लगी. मैं धक्के देता रहा जिससे चूत का रास्ता खुल जाए और लंड आराम से चूत में जा सके. कुछ समय बाद वो भी सीख गयी. अब वो भी अपनी कमर नचा नचाकर चुदवाने लगी. मेरे को बहोत मजा मिलने लगा. वो मेरे लंड की सवारी करने लगी जैसे लोग मोटर साइकिल चलाते है. उसने अपने हाथों की ऊँगली मेरे हाथो में फंसा दी. उसके बाद तो हम दोनों की अच्छी मैचिंग हो गयी. अब तो बुआ की लड़की किसी शादी शुदा औरत की तरह चुदाई के लम्बे धक्के देने लगी. वो मेरी तरफ आगे को झुक गयी और अपनी गांड उठा उठाकर सेक्स करने लगी. मेरी तो गांड ही फट गयी. बार बार “आऊ…..आऊ….हमममम अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा..” कर रहा था क्यूंकि आनंदी बड़ी तेज तेज चूत को मेरे लंड पर पटक रही थी. अब वो सेक्स में पूरी तरह से गर्म हो गयी थी. ऐसा लग रहा था सब कुछ अपने आप हो रहा है. दोनों में खूब चुदाई हुई. आनंदी ने हजारो बार अपनी चुत को मेरे लंड पर पटका. फिर हांफकर चुत का पानी छोड़ दिया. अब मैं भी झड़ गया. वो मेरे को किस करने लगी. मेरे गाल को अपने हाथो से सहलाने लगी.