मेरी बुआ की गुलाबी चूत सालों से प्यासी थी

अरे दोस्तों मेरा नाम अंकित है, और मैं अभी २१ साल का हूं. यह मेरी पहली सेक्स कहानी है जो मैं आपके सामने पेश करने जा रहा हूं. अगर कोई गलती हो जाए तो माफ कर देना. यह मेरी स्टोरी मेरी बुआ की है जो है बहुत मस्त औरत है उनका फिगर ३४-३०-३६ है, और वह जब चलती है तो उनकी गांड लेफ्ट राइट करती है, तो वह देखकर तो किसी मरे हुए आदमी का भी लंड बड़ा हो जाए.

चलो अब स्टोरी पर आता हूं. यह स्टोरी तब की है जब मैं १२वीं क्लास में था. घर पर इशु के कारण मेरी बूआ हमारे साथ ही घर में रहती थी, और मेरे साथ ही मेरे बेड पर सोती थी. पहले उनके लिए मेरे मन में कोई गलत इंटेंशन नहीं था. पर एक रात में नींद नींद में मेरा हाथ उनकी चुचियों पर रख दिया और वह बहुत ही सॉफ्ट चुचिया थी, बिल्कुल कॉटन की तरह सॉफ्ट और मैंने जब उन्हें दबाया तो मजा ही आ गया. उस दिन से मैं मौके ढूंढता था कि कैसे अपनी बुआ को चोद दू या उन्हें नंगा देखु. फिर मैं जब वह नहाती थी तो उन्हें बाथरूम के की होल से देखता था. जब वह कपड़े बदलती थी तब देखता था और क्या बताऊं दोस्तों?? बहुत मस्त गांड थी, देखते ही खड़ा हो जाता था और फिर मैं उनके नाम की जाकर मुठ मारकर आता था.

रात को जब सोती थी तो उनके पास आ कर रात को नींद नींद में उनके चूची दबाता था. उन्हे चूसता था और चूत पर हाथ भी फेरता था, और वह बहुत गहरी नींद में सोती थी. उन्हें पता भी नहीं लगता था तो मैं रात के पूरे मजे लेता था.

उन का पति उन्हें ५ साल पहले छोड़ गया था, तो उनके अंदर की हवस की आग थी. तो मैंने उसी का फायदा उठाया और जिस दिन घर पर कोई भी नहीं था, तो मैंने उनसे बात करना शुरू किया.

मैंने कहा : बुआ आपसे एक बात पूछूं?

उसने कहा पूछो.

मैंने कहा बुआ इतने साल हो गए आपका सेक्स करने का मन नहीं करता??

बुआ ने कहा करता है पर कंट्रोल कर लेती हु, अब करु भी तो किसके साथ??

मैंने कहा बुआ आप बहुत सेक्सी और हॉट लगते हो, बिल्कुल २५ साल की लड़की की तरह.

बुआ ने कहा थैंक्स अंकित तू बता तेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है??

मैंने कहा नहीं है बुआ.

बुआ ने कहा तूने कभी किसी को चोदा है?

मैंने कहा नहीं बुआ मौका नहीं मिला..

बुआ ने कहा बना कोई गर्लफ्रेंड और कर के देख मजा आता है.

मैंने कहा बुआ गर्लफ्रेंड बनाऊंगा तो आप जैसी सेक्सी, नहीं तो नहीं.

उसने कहा मैं ही बन जाऊं??

इतने ही मेड आ जाती हे और वह दूर हो जाती है, और दूर दूर से मस्त स्माइल देती है पूरे दिन.

फिर रात को जब हम साथ बेड पर थे तो मैं बोला

मैंने कहा बुआ आप गर्लफ्रेंड बनोगी मेरी??

बुआ ने कहा हां बन जाऊंगी, पर गर्लफ्रेंड की तरह ट्रीट करना पड़ेगा.

मैंने कहा मतलब?

बुआ और मैं कीस करने लगते हैं.

बुआ ने कहा की यह सब करना पड़ेगा.

मैं किस कर के बुआ के चुचे दबाने लगा और उनकी नाइटी उतार देता हूं और फिर उन की चुचिया चुसने लगता हूं. उस दिन उन्होंने ब्रा नहीं पहनी थी मेरे लिए.

पूरी दबा दबा के चूची चूसता हूं उनकी और एक हाथ उनकी पेंटी में डालकर उन की चूत रगड़ता हूं अपने हाथ से, और फिर एक फिंगर अंदर डालते ही उनकी मुंह से आवाज आह्ह हहह हहह निकलती है और उस से मैं और एक्साईट होकर पूरी अंदर डाल देता हूं, और वह मौन करने लगती है अह्ह्ह औऊ ययय इईई अंकित चोद दे अपनी बुआ को पूरी अंदर डाल दे.

फिर वह मेरे कपड़े निकाल कर मेरा लंड पकड़ती है और मेरा लंड चूसने लगती है,  दोस्तों क्या बताऊं कितना अच्छा ब्लोजॉब आज तक नहीं मिला मुझे, बिल्कुल जन्नत की फीलिंग आ रही थी और मेरे लंड को १०  मिनट चूसती है और मैं उनके मुंह में ही झड़ जाता हूं..

फिर वो मेरा फेस अपनी चूत पे रखती है और कहती है चूस ईसे और मैं उनकी चूत चूसना शुरू कर देता हूं, और वह धीरे धीरे मौन करती है आह्ह औऊ हां ईई हहह  अंकित ऐसे ही चूस.. तेरे फूफा ने कभी नहीं चूसी ईसे.. पूरा रस पि जा इसका.. और फिर तो ऐसी ही मैं अपना लंड उसकी चूत पर लगाता हूं वह मुझे रुकने को कहती है बोलती है कि आवाज होएगी सुन लेंगे सारे तो मैं रुक जाता हूं, और फिर एक हफ्ते तक हमें ऐसे ही चूसते हैं और एक दूसरे को. फिर एक हफ्ते बाद मेरे घर वाले बाहर घूमने चले जाते हैं और मैं और बुआ घर पर अकेले होते हैं, और घर वालों के जाते ही मैं बुआ पर टूट पढ़ता हूं.

बुआ ने कहा अरे थोड़ा रुक अंकीत

मैंने कहा बुआ अब नहीं रुका जाता आ जाओ और उन्हें चूमना स्टार्ट कर देता हूं और उनके चुचे मसलता हूं और चूत भी और फिर उन्हें बेड पर लेटा कर बिल्कुल नंगा हो जाता हूं, और उन्हें भी कर देता हूं. और उनकी चूत चूसने लगता हूं और वह तेज तेज से मौन करती है, अंकित चूस ईसे खा जा आज से तेरी ही है.. बहुत सालों से भूखी है.. खा जा ईसे और फिर हम 69 स्टाइल में आते हैं और चूसते हैं.

फिर मैं उनकी टांगो के बीच में आकर अपना लंड उनकी चूत पर रखता हूं और पुश करता हूं पर लंड अंदर ही नहीं जाता बहुत टाइट चूत थी उनकी और फिर तेल लगा के धक्का लगाता हूं और आधा लंड अंदर चला जाता है और वह चीख पड़ती है कि हाय आह्ह अह्ह्ह औऊ ह्ह्ह ईई फाड़ दी मेरी.. निकाल ईसे बाहर आह्ह औऊ ईई अम्म्मा पर मैं कहां निकालने वाला था? मैंने एक और झटका मारा और पूरा लंड  अंदर डाल दिया वह रोने लगी और बोली निकाल ईसे और मैंने उन्हें चोदना शुरु कर दिया.

थोड़ी देर बाद उन्हें भी मजा आने लगा मैं पूरा लंड बाहर निकलता और फिर पूरा अंदर करता और वह चिल्ला रही थी आह्ह औऊ अह्ह्ह अहह औऊ चोद दे अंकित आज.. मुझे रखेल बना दे अपनी और चोद अपनी बुआ को.. और तेज चोद दे. आज से मैं तेरी रंडी हूं. तू ही चोदेगा मुझे और जो कहेगा वह कुरंगी.. चोद मुझे मैंने उन्हें अलग अलग पोजीशन में चोद रहा था. पहले मैंने चोदा फिर वह उपर आ गई और चुदने लगी और पूरे कमरे में पच पच पच पच की आवाज आ रही थी..

फिर कुत्तिया स्टाइल में आकर मैंने उन्हें बहुत तेज से चोदा उन्हें रोना आ गया और उनकी चूत लाल हो गई और सूज गई और उन से चला भी नहीं जा रहा था.

यह सब होने के बाद मैंने बाहर निकाल कर उनके मुंह में दे दिया और वहीं छोड़ दिया, और उनकी चूत में दे के अपना लंड उन के ऊपर ही लेट गया और फिर बाद में हमने किचन में भी चुदाई किया.

नेक्स्ट स्टोरी में बताऊंगा कि कैसे मैंने उन्हें अगले ३  दिन चोदा और कैसे मैंने उनकी बड़ी गांड मारी और वह कैसे चुद चुद कर बेहोश हो गई और कैसे मेरे दोस्तों ने भी उन्हें चोदा.