बिल्डिंग वाली आंटी को चोदा

loading...

हेलो दोस्तों मेरा नाम विराट है और मैं दिल्ली के निर्माण विहार में रहता हूं. मेरी उम्र २४ साल है और मैं पढ़ाई कर रहा हूं. हमने निर्माण विहार में १ अगस्त से फ्लैट शिफ्ट किया था. वहां पर ३ फ्लोर थे, दूसरे फ्लोर पर फैमिली, तीसरे फ्लोर में मैं और मेरा रूम मेट रहते हैं, जो जॉब करता है. दूसरे फ्लोर पर दोनों हस्बैंड वाइफ जॉब करते हैं, पहले फ्लोर पर पर मीना आंटी हाउसवाइफ और उनके हस्बेंड शॉप चलाते हैं, तो पूरी बिल्डिंग में सिर्फ मैं और मीना आंटी होते थे.

मीना आंटी की उम्र ३४ साल की है, उनकी फिगर क्या बोलूं? पूरी सेक्सी आंटी है. ३७-३४-३७ होगी, बड़े बड़े बूबे चूतड़.. मजा आ जाता उसे देख कर.. वह हमेशा मैक्सी पहन के रहती है..

loading...

स्टोरी ऐसे शुरू हुई हम सामान शिफ्ट कर रहे थे धीरे-धीरे से.. तो रोज आंटी से बात हो जाती थी आते जाते.. वह पूछती कब शिफ्ट हो रहे हो? पानी कब आता कब जाता हे ऐसे केजुअल बाते हो जाति थी. फिर हम जब शिफ्ट हो गए तो एक दिन आंटी कपड़े सुखाने हमारे फ्लोर पर आई और हमारे फ्लैट की बेल बजाई.. वह पूछने लगी हो गई सारी सेटिंग? मैंने कहा हां बस धीरे धीरे हो जाएगी..

loading...

आंटी पूरी भीगी हुई थी तो मिक्सी में उनके बूब्स चुत्तड साफ दिखाई दे रहे थे. जिससे मेरा ८ इंच लंड खड़ा हो गया, मेने अंडरवियर पहना हुआ था तो आंटी ने नोटिस कर लिया, क्योंकि अंडरवीयर में खड़ा लंड छुप नहीं सकता आप सबको पता है.. फिर वह स्माइल कर के चली गई, फिर मेंने उनके नाम की दो बार मुट्ठ मारी. तो ऐसे ही आंटी अगले विक फिर से भी कपड़ेसुखाने हमारे घर पर आइ और मेरे रूम में आ गई..

आंटी – और क्या कर रहे हो?

में – कुछ नहीं पढ़ाई कर के थक गया तो ऐसे ही बैठा हु.

आंटी – में भी फ्री हो कर बोर हो जाती हु तो सोचा की तुमसे बाते करलू.

में – क्यों नहीं? जब दिल करे आ जाया करो.

आंटी – तेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं हे क्या?

में – अभी तो नहीं हे, ब्रेकअप हो गया था.

आंटी – ओह्ह, तो फिर मुश्किल हो जाता होगा.

में – किस चीज का?

आंटी – नोटी स्माइल देते हुए, गर्लफ्रेंड के बिना किस बात का मुश्किल हो जाता हे तुजे नहीं पता?
में – हां आंटी बस हाथ से काम चला रहा हु और आपका कैसा चल रहा हे?

आंटी – बस अंकल तो ७ बजे से ८ बजे तक शॉप फिर खाना खा कर सो जाते हे.

में – ओह्ह, फिर आप का गुजरा कैसे होता हे?

वह – बदमाश.. फिर शरमाते हुए कहा फिंगर से..

में – तो में कोई हेल्प कर दू?

आंटी – बदमाश मुज में क्या मजा आयेगा? एज हो गयी हे मेरी.

में – आपकी फिगर देख कर और गोरा रंग देख कर बड़े बड़े लंड खडे हो जाते होंगे.

आंटी – अच्छा जैसे तेरा उस दिन हो गया था.

में – हँसने लगा और मोका देख उनको अपनी तरफ खीच लिया.

पहले आंटी किस में साथ नहीं दे रही थी फिर धीरे धीरे साथ देने लगी,. में किस करते करते पीछे से उनकी मेक्सी उठा कर गांड को रब करने लगा और उसने मेरा लंड चड्डी में पकड़ रखा था, उसके सेक्सी सॉफ्ट बोबे मेरी चेस्ट पर आ रहे थे और हम किस का मजा ले रहे थे, आंटी बिलकुल पागल हो गयी थी ,फिर मेने उसे बेड पर फेंका और उनकी टाँगे खोली और मेक्सी अंदर घुस गया, उनकी चूत पर बाल थे और में उस में उंगली डाल ने लगा और उसे जीभ से किस करने लगा आंटी तड़प रही थी और जल्दी ही आंटी का पानी निकल गया और में पि लिया.

तो गरमी लगने लगी आंटी को.. मेने उन की मेक्सी निकाल दी और उन्हें पूरा नंगा कर दिया क्या कमाल का फिगर था, मेने देखा की बड़े बड़े चुचे और गांड, फिर में उन के बूब्स पर टूट पड़ा और निपल को चूस चूस कर लाल कर दिया.

आंटी की पूरी बोडी को किस किया, गांड पर थप्पड़ मारा और गांड के होल को भी खूब चूसा. फिर आंटी ने मेरा लंड पकड़ उसे मुह में लिया और मजे से चूस ने लगी. में जन्नत में था और मेरा लंड ने पानी छोड़ दिया, फिर आंटी ने मुझे ऊपर से निचे किस करने लगी लंड खड़ा हो गया. आंटी पागल हो गयी कहने लगी विराट अब और न तडपाओ प्लीज़ चोद दो मुझे फाड़ दो मेरी चूत को..

तो मेने उनकी टाँगे खोली और गांड के निचे तकिया लगा दिया फिर में लंड धीरे धीरे डालने लगा उन्हें दर्द हुआ क्योंकि मेरा लंड उन के पति से बहुत बड़ा था, तो उन्हों ने मुझे पीठ पर नाख़ून से नोच दिया और वह सेक्स की बहुत प्यासी थी, उसके चेहरे पर एक ख़ुशी थी की उसे लंड मिल गया हे.

तो मेने धक्के मारने चालू कर दिया आंटी को खूब मजा आ रहा था और मुझे भी बहुत मजा आ रहा था, रूम में पच पच पच की आवाजे आ रही थी क्यूंकि उनकी जांघे मोटी थी और आवाजे आ रही थी, मेने उनको जोर जोर से बहुत देर तक चोदा, वो अहह उऔ ओह हां इह हां ऐई विराट अहः उह ऊऔ आज तो मजा आ गया कहने लगी.

मेने धक्के मारते मेरा पूरा पानी उनके अंदर निकाल दिया और आंटी पूरी खुश लग रही थी, वह मुझे हग कर के सो गयी,. मेरा लंड कुछ देर के बाद फिर खड़ा हो गया, आंटी हसने लगी अब क्या चाहिए इसे? मेने कहा आपकी गांड चाहिए, वो मुझे मना नहीं कर पाई क्योंकि मेने उसे बहुत खुश कर दिया था.

मेने उनको घोड़ी बनाया और गांड को किस कर के थप्पड़ मारा फिर लंड पर तेल लगाया और अंदर डालने लगा तो आंटी की चीख निकल गयी विराट निकालो बहुत दर्द हो रहा हे. में रुक गया और फिर धीरे धीरे से एक ज़टका मारा और लंड पूरा अंदर चला गया..

आंटी की गांड बड़ी थी तो होल भी खुला था ज्यादा तकलीफ नहीं हुई, आंटी को फिर मजा आने लगा और गांड हिला कर मेरा साथ देने लगी, फिर हम ने एक साथ बाथ लिया और वहा भी चोदा. आंटी ने मुझे साबुन से साफ किया. एक दिन मेरा रात को मन किया तो मेने आंटी को टेरेस पर बुलाया और वहा पीछे से मेक्सी उठा कर हंटर मूवी की तरह चोदा.

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age