हरामी अंकल ने बहन की सिल कार में तोड़ी

loading...

सब से पहले तो मैं आप लोगों को अपनी फेमली के बारे में बताना चाहता हूँ. मेरे घर में मैं मेरी माँ और तिन बहने हे. और मेरी तीनो की तीनो बहने एकदम सेक्सी और हॉट हे. अब मैं अपने अंकल के बारे में बताऊँ. ये अंकल हमारे पडोसी हे और वो एकदम पावरफुल हे और हरामी टाइप के भी. उनकी नजर हर औरत के ऊपर ऐसे घुमती हे की बस उसे चोदा जाए कैसे भी कर के.

मेरा एक दोस्त हे जिसकी इस हरामी अंकल के साथ अच्छी बनती हे. और मेरे इस दोस्त ने ही अंकल के बारे में मुझे सब बताया हुआ हे. मेरा ये दोस्त पैसे के लिए अपनी काफी गर्लफ्रेंड क अंकल के साथ सुला चूका हे. और मेरे इस दोस्त ने ही मुझे बताया की कैसे इस अंकल ने मेरी बहन को भी चोदा हे. मेरे दोस्त ने बोला की मेरी बहन को परेशान कर के अंकल ने उसे अपने वश में किया था.

loading...

ये बात तब की की हे जस मेरी बहन गयारवी में थी और अक्सर जब वो स्कुल में में जाती थी. कभी कभी उसे स्कुल के लिए लेट हो जाए तो मेरे घरवाले इस अंकल को बोलते थे उसकी कार में बहन को स्कुल तक ड्राप करने के लिए. अंकल की नजर मेरी बहन के ऊपर थी क्यूंकि वो बहुत ही सेक्सी थी और स्कर्ट में तो उसकी टाँगे और जांघे एकदम ही सेक्सी और बहतरीन लगती थी.

loading...

और फिर एक दिन जब बहन को स्कुल में ड्राप करने जा रहा था तो अंकल ने गाडी चलाते हुए उसकी जांघ के ऊपर अपना हाथ रख दिया. मेरी बहन ने उसे हटा दिया और अंकल ने मेरी बहन को प्रोपोस कर दिया. लेकिन मेरी बहन रंडी नहीं थी इसलिए उसने मना कर दिया.

लेकिन अंकल तो एक नम्बर का हरामी था. वो ऐसे मेरी बहन को छोड़ने के मूड में नहीं था. अब वो स्कुल के छूटने के टाइम पर डेली बहार आता था और मेरी बहन को लुभाता था. ये अंकल मेरी बहन के लिए महंगी महंगी गिफ्ट्स और मोबाइल ले के आता था और अपने पैसे का शो ऑफ करता था. मैंने भी एक दो बार देखा की अंकल मेरी बहन को सता रहा था. लेकिन उसकी साले की पहचान सब जगह थी इसलिए मैंने पंगा नहीं लिया उसके साथ.

एक दिन मेरी ऑफिस की लिव थी और मैं घर पर ही था. मेरी बहन का हाल्फ डे था स्कुल में और वो स्कुल से आ गई. उसके पीछे पीछे ये अंकल भी आ गया. अंकल को मैंने बहार हॉल में ही उलझा दिया और उसके साथ बातें करने लगा. लेकिन तभी मेरी ऑफिस की मेम का कॉल आया किसी काम की फ़ाइल के लिए और मुझे बहार निकलना पड़ा. मैं वापस आया कॉल ख़तम कर के तो देखा की वो अंकल मेरी बहन के रूम में झाँक रहा था. मैं बहुत ही सरप्राइज हुआ.

फिर एक दिन ये अंकल मेरी बहन की स्कुल के बहार आ गया और उसको बोला की चल कार में बैठ जा. सिस्टर न मना किया तो अंकल ने कहा आज बैठ जा फिर मत बैठना हो तो कभी नहीं कहूँगा तुझे बैठने के लिए. मेरी बहन बैठ गई और अंकल गाडी को सिटी के बहार एक वीरान जगह पर ले गया. मेरी बहन एकदम डरी हुई थी. अंकल ने उसे कहा देख तू चाहती हे ना की मैं तेरा पीछा छोड़ दूँ? मेरी बहन ने कहा हां आप मेरे से उम्र में बहुत बड़े हो. तो अंकल ने कहा बस एक बार अपने कपडे खोल के मुझे अपने बूब्स दिखा दे और टच कर लेने दे. और मुझे एक किस दे दे उसके बाद में मैं तुझे कभी परेशान नहीं करूँगा. बस इतना कर लेने दे तो मैं नहीं परेशान करूँगा. वरना मैं तेरे पापा को बोल दूंगा की तू स्कुल के एक लड़के के साथ सेट हे.

शायद मेरी बहन भी इस परेशानी से छूटना चाहती थी तो उसने कहा की ठीक हे लेकिन आप पहले प्रोमिस करो की परेशान नहीं करोगे आगे से. अंकल ने कहा प्रोमिस.

अब ये सुन के मेरी बहन ने अपनी शर्ट को ऊपर कर दी और अपनी ब्रा की हुक खोल दी. इस बूढ़े अंकल के सामने उसके 34 साइज़ के बूब्स थे जिसे देख के अंकल की आँखों में हवस और वहश आ गई. अंकल ने अपनी सिट को पीछे की और वो मेरी बहन के बूब्स को मसलने लगा. मेरी बहन के मुहं से भी अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह म्मम्मम्म की सिसकियाँ निकल पड़ी.

अंकल ने बहन के दोनों बूब्स को पकडे और वो उसे चूसने लगा. मेरी बहन भी गरम हो ताहि थी. और उसके मुहं से भी अब आवाजें कुछ तेज ही निकल रही थी. इस ठरकी अंकल ने अब देरी न करते हुए उसकी कच्छी में हाथ डाला और वो उसकी जवान चूत के ऊपर अपने हाथ को फेरने लगा. मेरी बहन की वर्जिन चूत के ऊपर पहली बार मर्दाना टच हुआ था इसलिए वो एकदम से उछल ही पड़ी.

अब उसके मुहं से दर्दभरी आवाजें निकलने लगी थी. अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह अंकल छोड़ दो दर्द हो रहा हे मुझे, मत करो ये सब आप ने प्रोमिस किया था की बस बूब्स चूसेंगे. अंकल ने कहा, अरे कुछ नहीं होगा तुझे मेरी जान अपने अंकल के ऊपर भरोसा कर. और ये कह के अंकल ने अपना लंड निकाल के मेरी बहन के हाथ में दे दिया. अंकल का लंड लम्बा चौड़ा और रंग में एकदम काला था. इतने बड़े लंड को देख के तो मेरी बहन और भी डरने लगी थी.

मेरी बहन अब मना करने लगी थी. अंकल ने बोला हाथ में लेके तो देख. और फिर मेरी बहन ने लंड को अपने हाथ में पकड़ा और फिर अंकल ने उसके माथे को झुकाया तो मेरी बहन ने लंड को मुहं में लेने से साफ़ मना कर दिया. मेरी बहन ने कहा पागल हो क्या कितना गंदा और काला हे ये तो. लेकिन अंकल ने मेरी बहन के बाल पकडे और अपने हाथ से उसके मुहं को जबरदस्ती खोल के अपने लंड को मुहं में डाला.

शायद मेरी बहन को भी लंड का सवाद अच्छा लगा. वो कुछ नहीं बोली, अंकल ने उसके बाल पकडे रखे और वो उसको मुहं में ही चोद देने लगा. अंकल का लंड मेरी बहन के गले तक घुसा हुआ था. और वो जोर जोर से धक्के दे रहा था. कुछ देर में अंकल के लंड का पानी मेरी बहन के मुहं में ही निकल भी गया.

अब अंकल ने मेरी बहन की स्कर्ट को निचे कर दिया. और उसके शर्ट और ब्रा को निकाल के फेंक दिया. मेरी बहन को कार में एकदम नंगा कर दिया था उसने. और फिर अंकल ने मेरी बहन के सेक्सी बूब्स को अपने मुहं में ले लिए और उन्हें चूसने लगा. फिर उसका लंड एकदम से वापस खड़ा हुआ तो अंकल ने बहन के हाथ में पकड़ा के कहा इसको हिला मेरी जान. मेरी बहन मुठ्ठी में लंड बंद कर के उसे हिला रही थी. अब अंकल ने मेरी सिस्टर की दोनों टांगो को खिंचा और उसे पीछे की सिट में लिटा दिया.

अब एकदम बेरहम ढंग से अंकल ने उसकी दोनों टांगो को फैला दिया और उसकी चूत को चाटने लगे. मेरी बहन तो जैसे पागल सी हो गई थी चूत चटवाने की वजह से. वो जोर जोर से मोअन कर रही थी और अंकल भी अपनी जबान को पूरा अन्दर कर के उसे चूसने लगा था. बहन की चूत को एकदम से गिला करने के बाद अंकल ने अपने लंड पर कंडोम लगाया और फिर एक सटीक धक्के में पूरा लंड अंदर डाल दिया. मेरी बहन की चूत से खून की धार फुट पड़ी और वो जोर जोर से रोने लगी. अंकल ने अपने हाथ से उसका मुहं बंद कर दिया और गपागप चूत को ठोकने लगा.

मेरी बहन छूटने के लिए बड़ी कोशिश कर रही थी लेकिन इस सांड अंकल के सामने उसकी एक नहीं चली. बहन की चूत का चोदन हो गया और उसकी सिल टूट नहीं बल्कि फट ही गई. कार के अंदर अंकल ने ऐसे झटके लगाए की पीके मूवी के जैसी डांसिंग कार बन गई. मेरी बहन को पसीना छुट गया. एक मिनिट के बाद उसकी चूत भी मस्ती में आ गई. और अंकल ने उसे ढीला छोड़ा. अब मेरी बहन भी अंकल का सपोर्ट कर रही थी.

कुछ देर चोदने के बाद अंकल का पानी निकल गया. उसने लंड चूत से निकाला और बोला, मजा आ गया मेरी जान.

मेरी बहन रोते हुए कपडे पहनने लगी तो अंकल ने डैशबोर्ड से एक गिफ्ट पेक निकाला और बोले, इसके अन्दर आईफोन हे मेरी जान के लिए. देखो पहली बार चूत दी तो आईफोन दे रहा हूँ 30 हजार वाला. आगे भी मिलती रहोगी तो ऐसे बहुत सब सामान की हकदार बनोगी.

आईफोन का नाम सुनते ही बहन भूल गई की उसका क्या हस्र किया था उस अंकल ने. बहन ने गिफ्ट वही खोला और आईफोन को देख के अंकल के होंठो के ऊपर चुम्मा दे दिया.

आईफोन से चुदने की लालची हुई मेरी बहन के पास अब तो एपल मेक भी हे!

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age