मोम डेड की चुदाई एनिवर्सरी वाली नाईट पर

loading...

हाई दोस्तों मेरा नाम करन हैं और मैं दिल्ली से हूँ. मेरी उम्र अभी 20 साल हैं. मैं इस साइट पर नया हूँ तो लिखने में कोई गलती हुई हो तो मुझे माफ़ कर देना. आज की ये कहानी 100 प्रतिशत सच्ची हैं और मेरी मोम डेड की हैं.

मेरे घर में मैं अपने माँ बाप की इकलोती औलाद हूँ. मेरे मोम का साइज़ 36 30 36 है. और वो हमेशा घर पर ही रहती हैं. और मोम घर में सलवार कमीज और जींस टॉप पहनती हैं.वैसे तो मोम बड़ी अच्छी हैं और किसी के साथ भी काम से ज्यादा बात नहीं करती हैं. मोम की स्यूट का गला कुछ ड्रेस में काफी बड़ा हैं और उनके बूब्स भी दिख जाते हैं लेकिन मैंने माँ को कभी गलत नजर और इरादे से नहीं देखा था. पर जब जवानी चढ़ती हैं तो सब कुछ होने लगता हैं.

loading...

उस दिन मोम डेड की एनिवर्सरी थी तो हम सब बहार रेस्टोरेंट डिनर करने के लिए गए थे. मोम ने ग्रीन कलर का टॉप और ब्लू जींस पहनी हुई थी. डेड ने वाइट शर्ट और ब्लेक पेंट पहनी हुई थी. मैंने केजुअल ड्रेस पहना हुआ था. तब मैं 10वी में पढ़ता था और मेरी उम्र कच्ची ही थी.

loading...

नयी नयी जवानी चढ़ी हुई थी मुझे. वहां रेस्टोरेंट मैं सब लोग मोम को देख रहे थे. मोम का टॉप काफी डीप था. और उनकी ब्रा की स्ट्रिप भी दिख रही थी. जब वो थोड़ी सी भी निचे होती थी तो उनके बड़े बड़े दूध जैसे सफ़ेद दूध दिखने लगे थे. हमने डिनर किया और वापस घर पर आ गए. उस वक्त डेड ने मोम के कान में कुछ कहा जो मुझे सुनाई नहीं दिया.

मेरा सोने का वक्त हों गया था इसलिए मैं अपने कमरे में सोने के लिए चला गया. हमारे घर में दो कमरे हे. एक मेरा कमरा और एक में मेरे मोम डेड सोते हैं. नयी जवानी चढ़ी थी इसलिए सेक्स के बारे में जानने की बहुत दिलचस्पी सी थी मुझे. मैं जानता था की आज उनकी एनिवर्सरी हैं इसलिए मोम डेड जरुर कुछ करेंगे.

मैंने मन ही मन इरादा कर लिया की आज मैं मम्मी और पापा को चोदते हुए देखूंगा. मैंने धीरे से अपने रूम का दरवाजा खोला और धीरे धीरे बाथरूम की तरफ गया. बाथरूम का एक रोशनदान सीधा मेरे पेरेंट्स की रूम की तरफ हैं.

मैंने बाल्टी को लगाईं और उसके ऊपर चढ़ के देखने लगा. रूम का नजारा देख कर मेरे होश ही उड़ गए. मेरे डेड वाइट अंडरवेर में थे और मोम अपने कपडे उतरा रही थी. मोम ने टॉप उतारा हुआ था और वो वाइट नेट वाली ब्रा में थी. उन्होंने पेंट उतारी तो निचे ब्राउन कलर की पेंटी दिखने लगी. मेरा तो लंड को मम्मी की ब्रा पेंटी को देख के खड़ा हो गया. मोम क्या मस्त लग रही थी. मोम की पेंटी काफी सेक्सी थी. तब डेड ने मोम को पकड़ लिया. मोम कहने लगी रुक तो जाओ. डेड से अब मोम को ऐसे देख के वेट नहीं हो रही थी. उन्होंने मोम को पकड़ के किस करना चालू कर दिया. 10 मिनीट तक वो मस्त समुच करते रहे और अपनी जबानो को लड़वाते रहे.

फिर मोम की ब्रा को डेड ने खोल दिया. क्या सिन था वो! मोम के मोटे मोटे बूब्स और पिंक निपल्स सेक्सी लग रहे थे. तभी मोम ने डेड का लंड पकड़ लिया और अंडरवेर को उतार दिया. डेड का कलर थोड़ा सांवला हैं.

फिर मोम बेड के ऊपर बैठ गई. मोम ने फिर डेड का लंड मुहं में ले लिया. डेड का लान 7 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा लग रहा था. ये सब देख के मेरा बुरा हाल हुआ था. मैं अपने लंड को पकड़ के मुठ मार रहा था. मोम डेड का लंड ऐसे सक कर रही थी जैसे पोर्नस्टार हो. कभी लंड को आगे करती तो कभी पीछे. 10 मिनट के बाद मोम ने बेड पर डेड के चेस्ट सक करना चालू कर दिया. डेड पागल हो रहे थे. डेड की चेस्ट पर काफी बाल थे पर मोम उन्हें सक करना एन्जॉय कर रही थी. तभी डेड ने मोम को समुच किया और निचे लिटा दिया. और उनके बूब्स सक करने लगे. एक बूब को सक कर के दुसरे बूब को हात में पकड के दबा रहे थे.

और बूब्स के साथ मस्ती करते हुए भी डेड ने मोम की पेंटी उतार दी. मोम के निचे एक भी बाल नहीं था. द्देद ने मोम से पूछा तो ॐ ने कहा आज हमारी एनिवर्सरी हैं इसलिए झांट बनाई हैं मैंने. तभी डेड ने निचे मोम की चूत को लिक करना चालू कर दिया. लगभग 10 मिनिट मोम के फेस पर ख़ुशी दिख रही थी. और वो जोर जोर से फक मी फक मी अह्ह्ह अह्ह्ह्ह उईई अह्ह्ह्ह येस्स कर रही थी.

फिर डेड ने मोम की टाँगे उठा दी और लंड अन्दर डाल दिया. डेड ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और मोम अआः अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्ह्हह्ह उईईई अह्ह्ह्हह मार डाला, अह्ह्ह्ह आह्ह्ह्ह कर रही थी. द्देद जोर से झटके मार रहे थे और मोम दुगुनी स्पीड से अपनी सिस्कारियां भर रही थी. फिर कुछ देर में मम्मी के ऊपर भी चुदाई क नशा पूरा चढ़ गया. अब वो पापा को जोर से चोदने के लिए कह रही थी. पापा न अपनी चुदाई की स्पीड को और भी बढ़ा दिया. मोम की चूत से चप चप की आवाजें आ रही थी. मोम ने डेड से कहा मैं झड़ गई!

फिर डेड ने मोम को बाहों में लेकर बेड से उठा लिया और मोम को कहा कैसे लगा. मोम ने कहा बहोत मजा आया मेरे को. और मेरा हो गया, लेकिन आप का बाकी हैं अभी. डेड ने कहा आज मैं तुम्हे पीछे चोदना चाहता हूँ मेरी रानी और बहुत महीनो के बाद आज गांड में झड़ने का मन हैं. मोम ने डेड को किस किया और अपनी बड़ी गांड उठा के वो घोड़ी भी बन गई पापा के सामने. मोम के मोटे मोटे बूब्स लटक रहे थे.

मेरे खुद के पसीने छुट चुके थे मम्मी की बड़ी गांड को देख के. अब डेड ने अपने लंड को मोम की गांड में डाल दिया. और गांड में लेने से मोम की आँखों से आंसू निकल पड़े. ये सब नाईट लेम्प के उजाले में एकदम हॉट और रंगीन दिख रहा था.

डेड ने गांड चोदने की स्पीड बधाई और मोम अह्ह्ह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह करने लगी थी. फिर डेड ने झटके और भी तेज कर दिए. झटको के साथ  साथ माँ के मुहं से निकलती हुई मोअनिंग की आवाज भी बढ़ रही थी.

डेड ने करीब 10-12 मिनिट तक माँ की गांड मारी और फिर अपने सब माल को उन्होंने गांड के अंदर ही छोड़ दिया. माँ की गांड से लंड निकाला तो कुछ वीर्य बहार आ गया. फिर मोम डेड बेड पर नंगे ही लेट गए. और फिर एक मिनिट में फिर से मोम ने डेड का लंड पकड़ लिया और उसे हिलाने लगी.

कुछ ही देर में पापा का लंड फिर से खड़ा हो गया. और माँ ने उसे अपने मुहं में ले लिया और चूसने लगी. मोम पापा के मेल निपल्स को दबाते हुए लंड को चूस रही थी. पापा सातवें आसमान पर थे. और 4-5 मिनिट की हॉट सकिंग के बाद मोम के मुहं में ही झड़ गए वो. मेरा भी पानी निकल चूका था लंड को हिला हिला के!

उस रात को मैं करीब 3 घंटे ऐसे बाल्टी पर ही खड़ा रहा. एनिवर्सरी की रात को दोनों ने शायद फुल नाईट चुदाई प्लान की थी. मैं जब गया तो भी दोनों का काम चालु ही था. हर चुदाई के बाद वो कुछ देर रेस्ट करते थे और फिर से सेक्स कर लेते थे!

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age