मम्मी, मेरा दोस्त और मैं – [भाग 1]

मेरा नाम अरुण हैं और मैं गुवाहटी का रहनेवाला हूँ. मैं एक कम्पनी में अकाउन्ट्स ला काम देखता हूँ. मेरा एक दोस्त हैं जिसका नाम जीशान हैं. वो भी उसी कम्पनी में दुसरे डिपार्टमेंट में काम करता हैं. हम एक 3 बीएचके फ्लेट में रहते हैं. सब कुछ बढ़िया चल रहा था.

अब मेरी माँ की चुदाई की स्टोरी पर आते हैं. ये स्टोरी आज से १ महीने पहले की हैं. मेरी मम्मी दूसरी जगह पर रहती हैं, वहाँ हमारा अपना घर हे. मेरे पापा ५ साल पहले डेथ हो गया था. मैं अपने पेरेंट्स का अकेला ही संतान हूँ.

तो माँ ओ वहां अकेले रहने में कोई प्रॉब्लम भी नहीं होआ था में महीने में एक बार घर जाता था. फिर एक दिन माँ ने कहा की वो गुवाहटी आना चाहती हैं १ महीने के लिए. तो मैं उन्हें ले आया, हमारा फ्लेट काफी बड़ा था इसलिए कोई प्रॉब्लम नहीं था रहने में.

फिर कुछ दिन हो गए और मम्मी का सोसायटी में कुछ औरतो से जान पहचान हो गई. और मुझे और ईशान को भी अच्छा लगा क्यूंकि हमें खाना बनाना नहीं पड़ता था.

हम एक साथ ९ बजे ऑफिस जाते थे और शाम को ७ बजे वापस आते थे अगर कोई दूसरा काम न हो तो. मम्मी घर पर अकेली रहती थी. एक दिन ईशान का तबियत ठीक नहीं था तो उसने मुझे कहा की वो घर जा रहा हैं.

मैंने कहा की ठीक हैं जा तू, टेक केर. उसने घर आके देखा तो डोर लोक था, उसने सोचा की मम्मी कही पड़ोस में किसी औरत के वहां गई होगी. तो उसने अपनी की से डोर को ओपन कर लिया. अन्दर घुसते ही उसने जो नजारा देखा तो उसका तबियत २ सेकंड में ही ठीक हो गया. उसने देखा की मम्मी हमारे ड्राइंग रूम में बिलकुल नंगी एक चादर ओढ़ के सो रही थी. लेकिन चादर फिसल के एक बूब को ही ढंक रही थी. मम्मी का बाकी का पूरा बदन एकदम नंगा था! सामने टीवी चल रहा था, टीवी में एक अनरेटेड मूवी चल रही थी, जो की मेरे पेनड्राइव में था जो मैं टीवी में लगा के रखता था. लेकिन मम्मी सो गई थी, इसलिए उन्हें पता नहीं चला की ईशान घर आया गया था. आप ये कहानी हिंदी पोर्न स्टोरीज़ डॉट कोम पर एन्जॉय कर रहे हैं.

ईशान ने मुझे फोन किया और सब कुछ बताया. तो मैंने कहा की वेट क्या कर रहें है बे एन्जॉय कर ले! रात को मैं भी एन्जॉय करना चाहता हु, सब कुछ सेट कर के रख देना मेरे लिए भी. उसने कहा भाई तू टेंशन मत ले, मैं ये सब मामले में एकदम आगे हूँ.

फिर उसने धीरे से माँ के ऊपर से चादर को खिंच लिया. अब उसे मम्मी का पूरा बदन दिख रहा था. मम्मी का साइज़ बहुत ही बढ़िया था जिसे देख के किसी का भी चोदने को मन करें. ३६ की बूब्स, ३० की कमर और गांड भी ३६ का. मम्मी की हाईट ५ फिट ६ इंच हैं. मैंने एक बार मम्मी को नंगा नहाते हुए देखा था. वैसे मम्मी को घर में भी न्यूड सोने की आदत हैं. इशान ने मम्मी के न्यूड बदन को देखना चालू कर दिया और अपने मोबाईल में मम्मी के न्यूड फोटोस लेना चालू कर दिया.

उसने फोटो इसलिए खींचे की अगर मम्मी ना माने तो उससे ब्लेकमेल किया जा सके. फिर ईशान ने एक ऊँगली माँ की चूत में डाल के अन्दर बाहर करना चालू कर दिया. मम्मी की चूत से पानी निकल रहा था और ईशान की ऊँगली पर लग रहा था.

अब ईशान अपने घुटनों के ऊपर आ गया और उसने मम्मी की चूत पर जबान लगा दी. वो मम्मी की चूत को चाटने लगा था. चूत पर जबान की गर्मी लगते ही मम्मी की आँख खुल गई. मम्मी ने ईशान से कहा बेटा तू कब आया? और तू मेरे साथ ये क्या कर रहा हैं? ईशान भी अब क्या बोलता! मम्मी ने ईशान के सामने अपनी चूत और बूब्स को ढंकने के लिए उसके ऊपर अपने हाथ रख दिए!

उसने कहा की आंटी आप को बिना कपड़ो के देख के मैं अपनेआप पर कंट्रोल नहीं कर पा रहा था. फिर मम्मी ने कहा की बेटा मत कर ये मेरे साथ, तू मेरे बेटे का दोस्त हैं और उसकी ही उम्र का भी हैं, ये सब ठीक नहीं हैं हम दोनों के बिच में.

फिर ईशान ने कहा की आंटी आप जूठ मत बोलो, आप को भी तो मजा आ रहा था जब मैं आप की चाट रहा था, तभी तो उसमे से पानी आ रहा था बहार. मम्मी ने कहा ये सब करेगा तो गिला तो होगा ही न. ईशान भी मानने वाला नहीं था उसने माँ की तारीफ़ करना चालू कर दिया और कहा, आंटी आप भी ना जाने कितने सालो से सेक्स नहीं करने के बावजूद कितनी सेक्सी हो! और आप को न्यूड देख के तो किसी का भी दिल और दिमाग ख़राब हो जाएगा!

माँ को अब और कोई चारा नहीं दिख रहा था. वो उठ के अपनी गांड को मटका के वहाँ से जाने लगी. तो ईशान ने पीछे से जा के उसे कस के पकड़ लिया और माँ के बूब्स को भी दबाने लगा. मम्मी टी पहले से ही गर्म थी क्यूंकि ईशान ने उसकी चूत को चाटा था. और अब ये अब करने की वजह से उसके ऊपर सेक्स का नशा और भी चढ़ रहा था. वो भी मजे ले रही थी ईशान के ये सब करने की वजह से.

माँ को भी काफी सालों के बाद सेक्स का फिल हो रहा था और किसी मर्द का टच उसे बहुत लम्बे समय के बाद मिला था. ईशान ने माँ को कहा उसके बेडरूम में चलने के लिए. और बेडरूम में उसने मम्मी को बेड पर लिटा दिया. फिर वो मम्मी के ऊपर कुत्ते की तरह टूट पड़ा. वो मम्मी के पैर की उँगलियों को चाटना लगा, फिर वो धीरे धीरे पैरो को किस कर के मम्मी की अन्दर की थाईस की जा पहुंचा. फिर और क्या अब मम्मी भी काफी गर्म हो चुकी थी. तो मम्मी ने खुद ही ईशान के मुहं को पकड़ के अपनी चूत पर लगा दिया.

अब ईशान को भी समझ आ गया था की इस औरत को सेक्स का भुत चढ़ चूका था. वो बड़े बेरहमी से मम्मी को चूत को चाटने लगा और दो हाथ से उसके बड़े बूब्स को भी मसलने लगा. मम्मी की ये चुदाई आप हिंदी पोर्न स्टोरीज़ डॉट कॉम पर एन्जॉय कर रहे हो. ईशान मम्मी को थप्पड़ भी मार रहा था, और मम्मी की चूत के अंदर तक अपनी ऊँगली को डाल के फिंगर भी कर रहा था. अब मम्मी भी सेक्स की भूख में पागल होती जा रही थी.

अब मम्मी उठ के ईशान के सारे कपडे खोलने लगी और उसे पूरा नंगा कर दिया. ईशान के ७ इंच लम्बे लांद को बहार निकाल के मम्मी और भी जोश में आ गई थी. मम्मी ने निचे बैठ के इस बड़े लंड को अपने मुहं में ले लिया और वो उसे चूसने लगी. मम्मी ने कम से कम २० मिनिट तक उसके लंड को चूसा अब ईशान ने मम्मी को बेड में लिटा दिया और अपना लंड मम्मी की चूत पे रगड़ने लगा.

मम्मी से और रहा नहीं जा रहा था और वो बोली, बेटा और मत तडपाओ और अपने लंड को मेरे अन्दर डालो जल्दी से. ईशान बोला आंटी तू आज बस देखती जा, मैंने तुझे कैसे एक रंडी की तरह चोदता हूँ, बहोत खुजली है न तेरी इस चूत में. ये बोल के उस्न्ने अपना लंड मम्मी की चूत पर रख दिया और धक्के मारने लगा लेकिन मम्मी की चूत टाईट थी और उसका लंड फिसल गया.

उसने फिर से थोडा टाइम मम्मी की चूत में ऊँगली की और अपने लंड को भी रगड़ दिया. और फिर उसने एक जोरदार धक्का दिया और उसका लंड मम्मी की चूत को चीरते हुए अन्दर चला गया. मम्मी जोर से चीख पड़ी. फिर मम्मी को बड़ा मज़ा आने लगा था और जोर से सिसकियाँ ले रही थी आह्ह्ह्ह इस्स्स्सस्स्स्स अह्ह्ह्हह्ह उईईई ह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह, आईईइ अह्ह्ह्हह, मजा आआआ रहाआआआ हेएएएएएएएए बेटाआआआआ, ऐसे ही करते जाऊऊऊऊऊऊऊ!

फिर कुछ देर ऐसे ही चोदने के बाद ईशान बेड पे सो गया और मम्मी उसके ऊपर बैठ गई. इस बार मम्मी ने ईशान का लंड पकड़ के अपनी चूत पे सेट किया और उसके ऊपर उछलने लगी. मम्मी के उछलने की वजह से मम्मी के दोनों बड़े बूब्स भी उछल रहे थे और ये देखकर इशाल को बहोत ही होर्नी फिल हो रहा था और वो और भी जोर से मम्मी की चूत चोदने लगा.

मम्मी भी बहोत जोर जोर से चिल्ला रही थी, अईई अह्ह्ह्ह ऊऊऊऊ अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह्हह्ह्ह, बेटा काश तू मेरा पति होता तो मैं हर दिन तुझसे ३-४ बार चुद्वाती, तुझे काम पर भी जाने नहीं देती मेरे राजा. ईशान बोला फिर क्या हुआ अब तो तुझे चोद ही रहा हूँ न मेरी रंडी आंटी. फिर मम्मी बोलने लगी, कितने दिनों से ऐसे लंड के मजे लेने से मैं तड़प सी रही थी बेटा.

फिर ईशान बोला अगर इतना ही मन था तू अपने बेटे को बोल देती, वो तो स्कुल के टाईम से ही आप के बारे में सोच के हिलाता आया हैं अपने लंड को. फिर मम्मी बोली पता हैं बेटा, लेकिन आसपास में खबर होने से नाम खराब होने के डर से किया नहीं कभी मैंने अपने बेटे के साथ, उसका लंड भी तेरे जैसा बड़ा हैं मैंने देखा हैं.

फिर इशान बोला तो फिर बहोत अच्छा हुआ आज रात को तेरे दो बेटे मिल के तुझे रंडी की तरह चोदेंगे.. फिर ईशान ने मम्मी को डौगी स्टाइल में ले के मम्मी को चूत को ठोकी. फिर करीब आधे घंटे के बाद मम्मी चीख के झड़ गई ईशान के लंड पर. और थोड़ी ही देर में ईशान भी झड़ने वाला था तो उसने अपना लंड निकाल कर मम्मी के मुह के पास रख दिया और अपना माल मम्मी के ऊपर ही गिरा दिया.

अब मम्मी उठी और ईशान के लंड ओ पकड़ के खींचते हुए बाथरूम में ले गई और उसने शावर चालू कर दिया. और फिर एक दुसरे को मसल मसल के साफ़ करने लगे वो दोनों. इतने में ईशान का फिर से खड़ा हो गया और उसने मम्मी को गोद में उठा के फिर से चोदा. और इस बार तो वो बाथरूम में मम्मी को चोदते हुए उसकी चूत में ही झड़ गया.

दोनों नाहा के बेड में न्यूड ही सो गए. वो लोग बहुत थक चुके थे. वो लोग इतने थक गए थे की कुछ पता ही नहीं चला, फिर दोनों १ घंटे ऐसे ही साथ में सोये रहे. इतने में मैं भी घर आ पहुंचा और डोर अंदर से लोक था तो मुझे पता चल गया की अन्दर क्या चल रहा हैं. फिर मैंने अपनी की से डोर खोला और अन्दर घुसा.

दोस्तों उसके बाद क्या हुआ वो आप कहानी के दुसरे भाग में पढना न भूले!!