होटल में माल की चुदाई

में हिमाचल का रहने वाला हूं और मेरी गर्लफ्रेंड भी हिमाचल की है. उसकी उम्र २१ साल है और मैं २० साल का हूं. वो मेरे से एक साल बड़ी हे. हमारी बात २ साल पहले फेसबुक के थ्रू  होनी शुरू हुई, पहले हम फ्रेंड थे और उसके बाद मैंने प्रपोज कर दिया और हम गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड वाले रिलेशन में आ गए. मेरे और उसके घर के बीच में ५० किलोमीटर का फासला है, और हम फोन पर या व्हाट्सअप पर बात किया करते थे. हमारा रिलेशन को चलते ६ महीने से ऊपर समय हो गया था.

हम फोन पर नॉन वेज बातें करते थे, सेक्स के बारे में हमने काफी बातें शेयर की थी.

फिर एक दिन हमने मिलने का प्लान बनाया.

हम मिलने का प्लान बनाने लगे की कहां पर मिलेंगे. फिर मैंने उसे कहा कि मैं होटल में एक रूम बुक कर लेता हूं और वह मान गयी. लेकिन हमने यह भी डिसाइड किया कि हम सेक्स नहीं करेंगे बस किस वगैरा ही करेंगे.

फिर मिलने का दिन आया.

उसने अपने घर पर बहाना कर दिया कि मैं फ्रेंड के साथ जा रही हूं, उसका टेस्ट है पठानकोट में.

वह सीधा पठानकोट पहुंची और बस स्टैंड से उस को मैंने पिक किया, अपनी बाइक पर, हम वही थोड़ा घूमें पार्क वगैरा में और शाम को ५ बजे के करीब में उसे लेकर और होटल चला गया.

वहा मैंने पहले से ही रूम बुक कर लिया था वहां पर उसे ले गया..

हम थोड़ा फ्रेश हुए और बातें वगैरा करने लगे, हमने रात के लिए रूम बुक किया था, ७ बजे के करीब मैंने उससे कहा कि चलो पोर्न मूवी देखते हैं और वह मान गयी.

लेकिन उसने तब भी कहा कि हम सेक्स नहीं करेंगे.

लेकिन मैं फुल तैयारी में गया था कंडोम वगेरा लेकर. फिर हम पोर्न देखने लगे.

वह मेरी गोदी में सर रख कर पड़ी थी और मैं बेड के साथ लगा हुआ था, उसके हाथ में फोन था और वह बड़े गौर से देख रही थी.

तभी मैंने उसके बूब्स पर हाथ रख दिया और दबाने लगा.

उसने कुछ ना कहा और मूवी देखती रही.

फिर मैं उसके सूट के अंदर हाथ डालकर ब्रा के बीच में से बूब्स को पकड़ लिया और दबाने लगा, वह थोड़ी कसमसाने लगी मैं निपल को उंगलियों में लेकर खींचने लगा लेकिन वह मूवी देखती जा रही थी..

मैंने फोन पकड़कर साइड में रख दिया और उसको ऊपर करके किस करने लगा. किस करने के साथ बूब्स भी दबा रहा था, हमने कम से कम आधा घंटा एक दूसरे को चूना चाटा वह बहुत ज्यादा गर्म हो चुकी थी, किस के दौरान मैंने उसकी चूत पर भी हाथ फेरा और उसने कुछ नहीं कहा, बलकी किस करती रही.

फिर मैंने उसका कमीज उतार दिया उसने भी मेरा कमीज उतार दिया और मुझे ऊपर से नंगा कर दिया, उसने अभी भी ब्रा पहनी थी.

मैं ब्रा के ऊपर से बूब दबा रहा था वह आह्ह आयी यौऊ अहह इई अहह ययय आवाज निकाल रही थी.

मैंने उसकी ब्रा के हुक भी खोल दिया और उसके बूब्स को आजाद कर दिया और लगा दबाने..

फिर मेने एक बूब को पकड़कर किस करना स्टार्ट किया और नीपल को काटने लगा..

वो गरम हो रही थी और ज्यादा और मीठी मीठी आवाजें निकाल रही थी.

काफी देर मैंने बूब्स चूसा कभी एक को कभी दूसरे को..

मैंने उसे सीधा लेटाया और उसकी सलवार को उतारना चाहा, पहले उसने मना किया और मैंने उसको इतना गर्म कर दिया कि उसने बाद में कुछ नहीं कहा सलवार को उतार देने के बाद वह सिर्फ पेंटी में थी और शरमा रही थी.

मैंने भी अपनी पेंट उतार दी और अंडरवेअर में आ गया, फिर मैं दोबारा उसके ऊपर चढ़ के लिप किस करने लगा. मेरा लंड उसकी चूत के ऊपर रगड़ रहा था, मुझे बहुत मजा आ रहा था, मैं नीचे लेट गया और वह मेरे ऊपर चढ़ गई.

उसको मैंने कहा कि वह मेरा लंड हाथ में ले और वह अंडरवियर के ऊपर से ही लंड  दबाने लगी, और फिर मैंने अंडरवेअर उतार दिया और वह लंड पकड़ कर हिलाने लगी..

मैंने उसे कहा कि वह मेरा लंड मुंह में डाले, उसने मना कर दिया पहले तो.

पर बहुत फ़ोर्स करने के बाद वह मान गई और लंड के ऊपर पहले जीभ लगाई और फिर मुंह में डाल दिया और ऊपर वाले हिस्से को आगे पीछे करने लगी.

मैं भी मजे में आवाजें निकाल रहा था और मेरे मजे को देखकर वह लंड को अच्छी तरह से मुंह में लेकर आगे पीछे करने लगी.

फिर थोड़ी देर चूसने के बाद मैंने उसे लेटाया और उसकी पेंटी को भी उतार दिया और चूत में उंगली डाल दी.

वह तडपने लगी.

मैं उंगली को आगे पीछे करने लगा उसकी सिसकिय निकल रही थी अहह आयी ये अऊ ओह हां औउ आयी ये प्लीज़ आह्ह आयी आयी अम्म्म.

मैंने ५ मिनट उंगली की, और फिर दूसरी उंगली भी डाल दी, वह बहुत ज्यादा तड़प रही थी, वह बहुत गर्म हो चुकी थी.

उसी दौरान मैंने कंडोम निकाला और लंड पर चढ़ा दिया और उसकी टांगें साइड में कर दी.

और लंड चूत पर रखा ही था तो उसने कहा कि तुम मुझे छोड़ोगे तो नहीं? मैंने उसे वादा किया कि मैं कभी भी उसको छोड़कर नहीं जाऊंगा..

उसको एक किस कर के लंड को हाथ में पकड़कर चूत पर फेरने लगा

उसकी चूत बिल्कुल शेव की हुई थी. लगता था वह भी पूरी तयारी के साथ आई थी.

घूमते घूमते मैंने लंड का अगला हिस्सा चूत में डालने लगा लेकिन चूत बहुत टाइट थी, लंड आगे नहीं जा रहा था. फिर मैंने जोर लगाना चालू किया तो वह रोने लगी.

में थोड़ी देर रुका और लंड बाहर निकाला तो उस पर खून लगा था.

थोड़ा दर्द कम होने के बाद मैंने लंड फिर घुसाना शुरू किया और प्यार के साथ लंड  पूरा अंदर डाल दिया..

और उसकी आऊउ आह्ह्ह निकल गई.

अंदर डाल कर उसको किस करने लगा ताकि उसका दर्द कम हो जाये.

फिर थोड़ा किस करने के बाद में लंड को अंदर बाहर करने लगा..

पहले तो उसे बहुत दर्द हो रहा था और वह जोर जोर से मआह औउ हहह औउ मर गई बस करो मर जाऊंगी कर रही थी और रो रही थी.

लेकिन बाद में उसको भी मजा आने लगा है और उसकी दर्द कि आवाजे मजे में बदल गई औउ उह्ह ओह उऔ एस स्स्य्य एस एएस ययय और करो अज्ज आयी जोर से करो अहह ययय मजा आया.

उसको भी काफी मजा आ रहा था और मैं भी मजे में था.

फिर मैं झड़ने वाला था और मैंने लंड को बाहर निकाला और कंडोम के पीछे ही मेरा स्पर्म निकल दिया और कंडोम निकाल कर फेंक दिया.

मैं आराम से साइड में लेट गया और वह मेरे लंड के साथ खेलने लगी.

गोलीया पकड़कर जीभ से सहलाने लगी..

मैंने फिर एक बार लंड पर नया कंडोम चढ़ाया और लंड उसकी चूत में डाल दिया और लगा पेलने..

दूसरी बार थोड़ा ज्यादा प्रोग्राम चल और वह मजे ले रही थी.

फिर दूसरी बार करने के साथ उसका भी पानी निकल गया और वह भी आराम से लेट गई.

मैं और वह नंगे ही कंबल लेकर सो गए आराम से. रात को १ बजे के करीब मुझे जाग आई तो मैंने उसको भी जगा दिया और हमने एक बार फिर सेक्स किया और फिर सो गए.

सुबह ७ बजे हम उठे और मैं नहाने चला गया और वो भी मेरे पीछे आ गई.

बाथरुम में हमने एक दूजे को नहलाया और साबुन लगाया और मेरा लंड फिर खड़ा हो गया यह सब करके. फिर मैंने एक बार और उसकी चुदाई कर डाली.

फिर हम तैयार हो गये और खाना खा कर निकल गये उसको बस स्टैंड छोड़ा और वह चली गई, हमारा अब रिलेशन टूट चुका है किसी वजह से, लेकिन वह रात मुझे बहुत याद आती है.

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age