कैसे में क्रोस ड्रेसर बना

हेलो दोस्तों मैं हूं मीया मैं मुंबई में रहती हूं. मेरी फैमिली में मेरे मॉम और डेड हे. में इंडियन सेक्स स्टोरीज की रेग्युलर रीडर हूं और मुझे इस पर स्टोरी पढ़ना बहुत पसंद है. और अब मैं आपके लिए अपनी खुद की स्टोरी लाइ हु.

जैसे कि मैंने आपको बताया की मैं मुंबई में रहती हूं. यह स्टोरी भी जो कि मेरे लाइफ का सच्चा अनुभव है वह आज से 6 महीने पहले हुआ है.

मैं एक लड़का बनकर इस दुनिया में आया था पर मुझे शुरूआत से ही लड़कियों जैसे रहना अच्छा लगता था. उनके जैसे कपड़े पहनना, मेकअप करना, जूलरी, चलने का स्टाइल. तो मैं जब भी कोई हॉट लड़की देखता तो सोचता  कि काश मैं भी ऐसा होता. ऐसी ही सोचते सोचते पता नहीं कब मुझ में लड़की बनने की फीलिंग आ गई. मैं बस किसी भी तरह लड़की जैसे दिखना चाहता था. एक दिन की बात है.

जब मैं घर में अकेला था और मुझे बाथरूम आई तो मैं बाथरूम में गया और बाथरुम  करने के बाद मेरा ध्यान मेरी मम्मी की नाईटी पर गया, जो मम्मी ने पिछली रात को पहनी थी. मैंने उसे उठाया तो उसमे से ब्रा और पेंटी नीचे गिरी मैंने बिना सोचे समझे अपने सारे कपड़े उतारे और ब्रा पैंटी पहन ली और नाइटी लेकर बाथरूम से बाहर आ गया.

बाहर आकर मैंने दो टेनिस बॉल लेकर उन्हें ब्रा के कप में डालकर बूब्स बनाए और नाइटी पहन ली. जैसे ही मैंने नाइटी पहनी मुझ में एक अजीब सा झटका लगा और मेरा लंड फुल्ली खड़ा हो गया. मैं मेरा होश खो चुका था, मेरा हाथ अपने आप लंड पर चला गया और मैं लंड हिलाने लगा.

मैंने पूरा माल नाईटी और पेंटि में छोड़ दिया. बाद में मेने सब उतार दिया और जहा से लिया था वही पर रख दिया और अपने कपडे पहन लिए.

अब यह रोज का हो गया और में अब आगे की कहानी एक लड़की बन कर लिखूंगी.

मुझे एक मर्द चाहिए था जो मुझे प्यार करे एक लड़की की तरह. इसलिए मैंने फेसबुक पर अपनी आयडी  बनाई मिया क्रोसी नाम की. पहले दिन सब ठीक रहा अगले दिन मुझे बहुत सारी रिक्वेस्ट आई थी. मैंने सब एक्सेप्ट कर ली. उसी शाम  मुझे एक बंदे का मैसेज आया उसका नाम था अमित. मैंने भी रिप्लाइ किया, ऐसी ही हमारी बातचीत चालू हुई.

मैंने उसे अपने बारे में सब बता दिया

उसने भी मुझे बहुत सपोर्ट किया मुझे भी बंदा बड़ा अच्छा लगा. और मैं चाहती थी कि पहले वह प्रपोज करें. और वहीं हुआ हमारी फर्स्ट डे चैटिंग के एक महीने बाद उसने मुझे प्रपोज किया. मैं बहुत खुश हो गई मैंने भी थोड़े नखरे करने के बाद उसे हां कहा. अब मैं उसकी गर्लफ्रेंड थी और वह मेरी बहुत केर करता था. एक दिन उसने मुझे मिलने के लिए बुलाया और मैं तो उसके लिए तड़प रही थी. तो मैंने भी हां कर दी. और हमने संडे को मिलने का प्लान बनाया.

सन्डे आया उसने मुझे जहां बुलाया था में वहा पर पहुंच गई. वह वहीं पर मेरा इंतजार कर रहा था. फिर वहां से हम उसके फ्रेंड के घर गए जो पास में था. हम अंदर जाते ही उसने दरवाजा बंद कर दिया और मुझे बाहों में भर कर एक जोरदार

किस की. मैंने भी पूरा रिस्पांस दिया.

फिर मैं पीछे हटी और उसने मेरे कपड़ों के बारे में पूछा क्योंकि मैं वहां लड़का बनकर गई थी. उसने बोला वह बाथरुम में है. जाव चेंज कर लो जल्दी से. मैंने बाथरूम में जाकर देखा तो वहां एक ब्रा पेंटी का सेट एक वीग और एक कॉटन की रेड नाईटी थी. मुझे लगा ही था वह नाईटी लेगा क्योंकि मैंने उसे बताया था कि मुझे नाईटी बहोत पसंद है. मैंने अपने सारे कपड़े उतारे. मेरे बाल तो मेने पिछली रात ही साफ कर लिए थे. पूरी नंगी होके सबसे पहले मैंने ब्रा और पेंटी पहनी. मैं बूब्स बनाने के लिए कुछ ढूंढ रही थी तभी मेरी नजर पीछे पड़ी 2 वोटर बलून पर पड़ी जो अमित ने रखे थे. मुझे बहुत प्यार आया यह देखकर उसके लिए.

मैंने जल्दी से दोनों बलून अपने ब्रा में डालें और नाइटी और विग भी पहन कर बाहर आ गई. जैसे ही मैं बाहर आई अमित बेड से उठा, मेरे पास आया, मुझे हग कर के बोला बहुत खूबसूरत लग रही हो. मैं हल्के से शर्माते हुए नीचे देखी उसने मेरा सर उठा कर दो मिनट का स्मूच दिया और पूछा की नाईटी कैसी लगी? मैं कुछ ना बोली बस उसे पागलों की तरह किस करने लगी. उसे उसका जवाब मिल गया था. और उसने मुझे उठा कर बेड पर लेटाया और मेरे ऊपर आकर मुझे एक दम जोर से किस करने लगा. मैं भी जवाब दे रही थी. वह मेरे बोबे दबाने लगा. मैंने भी जोश में आकर उसका लंड उसकी पैंट के ऊपर से सहलाना चालू कर दिया.

अब हमें किस करते हुए एक दूसरे को सहलाते हुए 15 मिनट हो चुके थे. मैं बहुत ज्यादा गर्म हो गई थी. मैंने अमित को लेटाया उसकी पेंट और अंडरवियर दोनों साथ में उतार के फेंक दी. उसका लंड देखकर मैं पागल सी हो गई थी, वह था भी तो इतना बड़ा और प्यारा.

मैंने एक बार अमित की आंखों में देखा और उसका इशारा समझ गई मैंने धीरे से अपना होठ उसके टॉप पर रखे और एक छोटी सी किस की. मेरे किस करते ही अमित की मुंह से आह निकली. फिर मैंने धीरे धीरे अमित का लोडा चूसना स्टार्ट किया. हाय क्या बताऊं? क्या मजा आ रहा था?

उसे चूसते हुए 2 मिनट ही हुए थे कि उसने अपने हाथो से मेरा सर अपने लंड पर दबा दिया. और मेरे मुंह को चोदने लगा. करीब 5 मिनट मेरी मुह की चुदाई के बाद वह उठा और बोला जान अब मुझ से वेट नहीं हो रहा है. मैं भी सेम फील कर रही थी.

उसने मुझे उठा के घोड़ी बनाया. उसे पता था कि मुझे नाईटी  पसंद है तो उसने वह नहीं उतारी. फिर उसने मेरी नाइटी मेरे कमर तक की और मेरी पेंटी निकाल कर मेरी गांड चाटने लगा मुझे बहुत ही मजा आ रहा था.

अब उसने तेल लेकर मेरे गांड के होल पर लगाना चालू किया. तेल लगाते लगाते उसने एक उंगली मेरी गांड में डाल दी मैं बहुत जोर से चीखी. धीरे धीरे वो उंगली मेरे अंदर बाहर कर रहा था ऐसे करते करते उसने चार उंगली मेरे अंदर डाल के अंदर बाहर कर रहा था.

अब मुझसे इंतजार नहीं हो रहा था. मेने उसका लंड पकड़ा और अपनी गांड की तरफ ले गई. वह मेरा इशारा समझ गया उसने अपनी उंगली निकाली.

और अपने लंड पर तेल लगाकर मेरी गांड पर सेट किया और एक धक्का मारा और वह आराम से मेरे अंदर चला गया, क्योंकि उसने मेरी गांड में चार उंगली डाली थी तो आराम से मेरे अंदर पूरा चला गया.

अब वह मेरी गांड बहुत जोर जोर से मार रहा था, मैं भी जोर जोर से आहें भरके उसे उकसा रही थी, वह लगभग 20 मिनट मुझे चोदने के बाद उसने अपना पानी मेरे गांड में डाल दिया और मेरे ऊपर गिर कर सो गया मैं भी सो गई.