लेंडलेडी की प्यास बुजाई

हेलो दोस्तों कैसे हैं मैं हूं सचिन गुजरात से यह मेरी पहली सेक्स स्टोरी है यह मेरी सच्ची कहानी लिख रहा हूं और यह घटना मेरे साथ पिछले हफ्ते घटी थी. मैं एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हूं और मेरी उम्र २३ साल है, और मैं अहमदाबाद में एक पिजी में रहता हूं. मेरी मकान मालकिन का नाम हेतल है. और वह बहुत ही सुंदर और हॉट है. उसकी उम्र ३४ साल है और उसका फिगर ३४-३०-३४ है. थोड़ी मोटी है और गांड तो बहुत मस्त है. मन करता हे की चाटते रहो रहो और थप्पड़ मार के लाल कर दो. वह हमेशा साड़ी पहनती है वह हमेशा दुखी लगती है.

इस दिन मैंने उनके और उनके हस्बैंड के झगड़े को सुना तो पता लगा कि वह सेटिसफाइड नहीं है. मैंने सोचा मैं ट्राय करता हूं क्योंकि वह बहुत हॉट और सबसे खास बात उसकी नाभि थी एकदम गोल और स्मूथ थी. मैंने सोचा मैं उनको सिड्यूस करता हूं और अपने बिस्तर पर लाता हूं. अगले दिन मुझे चांस मिला वह जब मेरे रुम के सामने की सफाई कर रही थी हर रोज की तरह. वह अच्छा मौका रहता  उनको ताड़ने का मुठ मारने का. मैंने उनको सोचकर बहुत बार मुठ मारी है.

अगले दिन वह मेरे रुम के सामने सफाई कर रही थी. उनके हबी बाहर गए हुए थे 2 दिन के लिए. मैंने सोचा उनको अपना लंड दिखा दू और रिएक्शन देखता हूं. में सोने की एक्टिंग करने लगा और लंड बाहर निकाल लिया. मेरा लंड ५ इंच का है बाकि लोगो की तरह ८-१० इंच का नहीं है.

मैंने सोते हुए अपनी चादर को हटा के शोर्टस उतार दी. जैसे ही उन्होंने देखा तो वह शौक हो गई और गुस्सा भी दिखा रही थी. पर थोड़ी देर बाद वह चली गई, मेरी फट गई थी और उसी दिन शाम को वह आई, साड़ी भी नाभी के नीचे थी और थोड़ा सा क्लीवेज दिख रहा था. अगले दिन मैंने फिर से ऐसा ही किया, अब वह नहीं गई नहीं बल्कि वह पास आने लगी

उन्होंने धीरे से लंड को किस कर दिया और जाने लगी फिर मैंने एकदम से हाथ पकड़कर अपने ऊपर गिरा दिया और उनको किस करने लगा. पहले तो वह विरोध कर रही थी पर वह भी साथ देने लगी और हमारा वाइल्ड किस चला रहा था. मैंने उनकी साड़ी निकाल दी. उन्होंने मेरे पूरे कपड़े निकाल दिए. मैंने उनका ब्लाउज और ब्रा निकाल दी और वह सिर्फ पेंटिं में थी. उनके ३४ के बूब्स बहोत मजेदार और बहुत मस्त है. मैंने उन्हें बहुत मसला और काटा अपने दांतों से वह तब मोन कर रही थी.

उसके बाद सबसे सेक्सी पार्ट नाभि में जीभ से चाटने लगा और आधे घंटे तक चाटा. फिर से चूत चाटने लगा और वह १० मिनट चाटने के बाद उसको बाथरुम में ले गया और उसे कहा की मुतो. पहले तो वह घबरा गई फिर मूतने लगी. मैंने अपना मुह लगा दिया वहां और चाट गया जब तक पूरा नहीं निकला. उसके बाद साफ कर के चूत चाटने लगा और बोबे दबाने लगा और ऊपर से नीचे तक जीभ चलाने लगा.

कभी मैं पेर से जांघ और चूत की तरफ आता, तो कभी चूत से नीचे जाता, तो कभी नाभि से निपल पर.

मेने 69 पोजीशन कर लंड मुंह में दीया वह चूसने लगी. १० मिनट बाद हमने एक दूसरे के मुंह में पानी निकाल दिया. वह फिर से चूसने लगी मैं उनकी गांड का छेद चाट रहा था. लंड फिर से खड़ा हो गया अब उसे रहा नहीं गया और बोली डाल दे अब. फिर मैंने लंड को उनकी चूत पर सेट किया और धक्के लगाने लगा. १५ मिनट बाद अलग अलग पोजीशन के बाद उनकी नाभि पर पानी निकाल दिया.

फिर हमने खाना खाया और फिर हम थोड़ी देर सो गए. जब मैं उठा तो उनकी गांड ऊपर की तरफ थी. मेरा फिर खड़ा हो गया दो बार झड़ चुका था पर एक बार की और हिम्मत थी. फिर उसके बाद में उनकी गांड को चाटने लगा वह उठ गई. फिर चूत चाटते चाटते गांड में एक उंगली डाली तो वह उछल गई और समज गयी वह मना करने लगी.

पर थोड़ी देर मनाने और गर्म करने के बाद वह मान गई.

तब मैंने तेल लगाया उनकी गांड और अपने लंड पर और धीरे से टोपा डाला उन्हें दर्द हो रहा था, पर मैंने एक धक्का दिया और वह जोर से चिल्लाना चाहती थी. पर मैंने उनका मुंह दबा दिया. उनकी आंखों में आंसू थे और मैंने रहम नहीं करते हुए दूसरा धक्का दिया. इस बार पूरा अंदर था वह निकालने को बोल रही थी और रो रही थी. में उन्हें और धक्के लगाने लगा उन्हें भी अच्छा लगने लगा इस बार मुझे 20 मिनट लगे और मेने गांड में ही पानी निकाल दिया. वह बहुत खुश हुई मुझसे और ५००० रूपये देने लगी. मैंने बोला आगे के महीने का किराया मत लेना.

उसके पति टूर पर जाएंगे १५ दिन के लिए तब मैं और वह ही रहेंगे. फिर मजा आएगा और भी चीजें करेंगे. जैसे बाथरूम में, टेरेस पर और धीरे से और किंकी करूंगा उन्हें, मूतना एक दूसरे के साथ और नहाना, देखते हैं क्या क्या होता है.

कुछ दिनों बाद उसके पति टूर पर चले गए, जैसे ही टूर पर गए वह टीवी  देख रही थी. मैं पीछे से गया और उसकी कमर और एक बूब को जोर से दबा कर किस करना चालू कर दिया वह बहुत गरम हो गई थी. फिर उसने मेरे सारे कपड़े उतार दिए और मैंने उनके. अब हम दोनों पूरे नंगे थे और किस कर रहे थे. एक घंटे के बाद बाथरुम में गए और किस करने लगे शावर शुरू किया और एक दूसरे को साबुन लगा रहे थे.  फिर मैं नहा कर वहीं पर नीचे बैठ गया उसकी चूत चाटने लगा उसको सूसू करने को बोला और मुंह लगा दिया फिर उसने मेरे मुंह में मुतना चालू कर दिया और मैं ईतना गरम हो गया कि मेरा वहीं निकल जाता पर कंट्रोल किया. उसके बाद मैं खड़ा हो गया और उसको मुंह में लेने को बोला और उसने चूसना चालू कर दिया.

थोड़ी देर बाद उसको बिना बताए उसके मुह में मुतने लगा उसने बाहर थूक दिया और नहाने लगे एक दूसरे को साफ किया. फिर बेड पर ले गया उसको फिर उसकी चूत चाटने लगा बालों वाली और पुरे शरीर पर किस करने लगा, काटने लगा, फिर उससे रहा नहीं गया और लंड डालने के लिए तड़पने लगी.

फिर मैंने एक झटके में घुसा दिया वह चिल्ला उठी और 15 मिनट की चुदाई के बाद उसकी चूत में जड गया. फिर हम सो गए और शाम को भी उसकी चूत और गांड मारी और मूत पिलाया. उसने अपनी एक दोस्त को भी चुदवाया पैसे लेकर वह अगली स्टोरी में बताऊंगा.