लंड चूसने में मजा आ गया

हेलो दोस्तों मेरा नाम मनीष है और मैं बहुत हिम्मत जुटा कर आप लोगों को अपनी यह कहानी बताने जा रहा हूं क्योंकि मुझे पता है कि मैं अपने आप को नहीं रोक पा रहा हूं. पहले में मेरे बारे में बता देता हूं. मेरी उम्र २८ साल है, और मे नोएडा की एक कंपनी में काम करता हूं. और मेरी शादी को ३ साल हो चुके हैं.

अब मैं स्टोरी पर आता हूं. मेरे और मेरी बीवी के रिलेशन ठीक चल रहे थे शादी के बाद. पर २ साल बाद ही मुझे अब बीवी पर उतना इंटरेस्ट नहीं रहा तो मैं बाहर भी दूसरी लड़कियों पर ट्राई करने लगा और जैसा की आप जानते हैं कि जब कोई लड़का किसी लड़की के साथ कुछ करता है तो वह अपने दोस्तों से जरूर शेयर करता है.में भी मेरे फ्रेंड के साथ सब कुछ शेयर करता था.

एक दिन उस फ्रेंड ने मुझे अपने रूम पर बुलाया यह बोलकर कि आ पार्टी करते हैं, बियर पिएंगे रूम पर बैठकर. उसे पता था कि मैं ज्यादा नहीं पीता तो उसने मेरे लिए एक केन और खुद के लिए दारु खरीद ली. दोनों ने बैठकर उसके रुम पर ड्रिंक किया और खाना खाया. फिर वो मुझे बोलने लगा कि आज मेरे रूम पर ही रुक जा.

पहले तो मैंने मना कर दिया तो वह नहीं माना और बोलने लगा कि तू घर जाएगा ड्रिंक करके तो कल भाभी जी मुझे कॉल करके गालियां देगी कि मेरे हस्बैंड को नहीं बिगाड़ो, तो फिर मेने हां कर दिया और घर कॉल करके बोल दिया कि आज रात घर नहीं आऊंगा.

उसके बाद हम दोनों बातें करने लगे. बहुत देर तक बातें करने के बाद सोने की तैयारी करने लगे तो मैंने फ्रेंड से बोला कि मुझे जींस पहनकर नींद नहीं आएगी प्लीज मुझे एक शॉर्ट्स हो तो दे दो, और उसने बोला कि उसके पास नहीं है, एक ही है जो कि वह पहना हुआ था. वह बोला कि कौन सा कोई लड़की है रूम पर तू अंडरवेअर में ही सो जा.

तो मेने भी जींस निकाल दी और दोनों एक ही रजाई में घुस कर सोने लगे. ५ से  १० मिनट बाद गुड नाइट बोल कर वह सो गया और मुझे भी नींद आने लगी पर नींद में उसका पैर मुझे टच कर रहा था पैरों में, और मैंने नीचे सिर्फ अंडरवियर पहना हुआ था.

तो मुझे कुछ अजीब सा फील हो रहा था और अच्छा भी लग रहा था, और धीरे धीरे मुझे सेक्स चढ़ रहा था पर मैं जानता था कि मुझे ऐसा नहीं करना है. और कुछ देर बाद मेरे दिमाग मेरे कंट्रोल से बाहर हो गया और मैंने सोच लिया कि अब कुछ भी हो मुझे कुछ तो कर लेना चाहिए, अगर कल मॉर्निंग में फ्रेंड कुछ बोलेगा तो बोल दूंगा कि मुझे ड्रिंक नहीं सहन होती, नशे में हो गया होगा.

उसके बाद मैंने जान बूझकर करवट लिया उसकी तरफ और ऐसा प्रेटेंड किया की नींद में हूं और अपना हाथ उसके शोर्ट के ऊपर रख दिया और धीरे धीरे रब करने लगा. मुझे उसके लंड मैं हरकत फिल हो रही थी और मैं जानता था कि अब तक उसकी भी नींद खुल गई है और उसने कोई रिएक्शन नहीं दिया.

तो मेने धीरे से अपना हाथ उसके शॉर्ट्स के टॉप पर लेकर आया और धीरे धीरे हाथ अंदर डालने लगा और मुझे फील हो रहा था कि वह भी हाथ को अंदर डालने देने के लिए मुझे स्पेस दे रहा था, जैसे ही मेरा हाथ उसके लंड तक पहुंचा और मैंने उसके लंड को पकड़ा, उसने मुझे अपनी तरफ खींच लिया और मैं समझ गया कि वो जाग रहा है.

फिर मैंने कोई शर्म नहीं की और रजाई हटाई और उसका शोर्ट और अंडरवियर हटा दी, जैसे ही मैंने उसकी अंडरवियर हटाई मैं उसका लंड देख कर दंग रह गया. बहुत बड़ा लंड  था उसका, फिर उसने मुझे इशारा किया की अब सक भी कर ले तो मैं अपने आप को रोक नहीं पाया.

और मैंने उसके लंड को मुह में डाल दिया. यह मेरा फर्स्ट टाइम था तो मुझे उसके लंड का टेस्ट बहुत अच्छा नहीं लगा पर मुझे ऐसा करने में मजा आ रहा था. फिर उसने मुझे लंड के साथ साथ अपनी गांड को भी चुसवाया और मुझे भी कोई प्रॉब्लम नहीं हुई उसकी गांड को चाटने में.

फिर उसने मुझे कहा की गांड में लेगा क्या? पहले तो मैंने हां बोल दिया पर जैसे ही उसने थूक लगाकर मेरी गांड में लंड डाला मेरा सारा भूत उतर गया सेक्स का दर्द की वजह से तो उसने लंड बाहर निकाल दिया पर उसका लंड आधा अंदर चला गया था और अभी उसको अपना लंड का पानी निकालना था.

उसने बोला कि चल मुंह में ही ले ले. पर मैं मना कर रहा था क्योंकि उसने लंड को जब गांड में डाला था मेरी तो उसमें कुछ लग गया था, पर उसके बाद वह नहीं माना और मुझे गालियां देने लगा और मेरा सिर पकड़ कर मेरा मुंह उसके लंड में रखने लगा.

तो पहले तो मैंने बहुत कोशिश की नहीं लूंगा मुह मैं पर जब वह नहीं माना तो मुझे उसके लिए मुंह में लेना पड़ा और फिर उसने मेरे मुंह में ही सारा माल निकाल दिया तो में आधा माल पि गया और जब नहीं पिया गया तो थूक दिया.

उसके एक हफ्ते के बाद उसने मुझे एक बार मुह में लंड डाल दिया और फिर वह कंपनी से जॉब छोड़ कर चला गया.