माँ के साथ गोवा में हनीमून

loading...

हेलो दोस्तो मेरा नाम अंकित है और मैं पटना का रहने वाला हूं, मेरी उम्र २१ साल है और मैं बी,एस.सी.  कर रहा हूं. मेरे घर में मेरे पापा, मां और मैं हूं. हमारा परिवार छोटा और बहुत सुखी परिवार है. मेरे पापा बैंक में जॉब करते हैं और उनकी पोस्टिंग फिलहाल लखनऊ में है.

अब मैं आपको अपनी मां के बारे में बताता हूं. मेरी मां की उम्र ३९ साल की है और बिल्कुल मेंटेन है. उनका फिगर देखकर के आज भी लगता है कि वह ज्यादा से ज्यादा ३० साल की होगी. मैं हमेशा उनके साथ सेक्स करने के सपने देखा करता था पर मुझे मौका और हिम्मत दोनों ही नहीं होता था.

loading...

मेरी मां भी पापा के साथ ज्यादा सेक्स नहीं कर पाती है क्योंकि पापा की पोस्टिंग आउट ऑफ सिटी है. घर में बस मैं और माँ ही रहते हैं. मैं मां से ढेर सारी बातें किया करता हूं. मेरी मां काफी ओपन माइंडेड है, वह घर में हमेशा साड़ी पहनती है.

loading...

में जब भी उनकी क्लीवेज को देखता हूं मेरा मन मचलने लगता है, और उनके बूब्स दबा देने का मन करता है. मां के बूब बहुत बड़े और शेप  में है. अब मैं आपको स्टोरी पर ले कर आता हूं. बात तब की है जब मेरा दूसरा साल का एग्जाम खत्म हुआ था और हमारी फैमिली छुट्टी मनाने गोवा का प्लान बनाई हुई थी.

मैं, पापा और मां तीनो जाने वाले थे. हम लोग सैटरडे शाम की फ्लाइट से गोवा जाने वाले थे, तभी फ्राइडे को पापा को इमरजेंसी मीटिंग के लिए कॉल आ गया. जिसमें उन्हें बेंक के चेयरमैन की मीटिंग में जाना था. मैं और मां बिल्कुल उदास हो गए हमारी उदासी देख कर पापा से रहा नहीं गया और वह हमें जाने के लिए बोले.

मैं तो मान गया पर माँ का जाने का मूड नहीं हो रहा था, फिर भी पापा ने जीद की तो मम्मी में जाने के लिए रेडी हो गई, अगले दिन सैटरडे को मैं और मा शाम को गोवा की फ्लाइट लेकर करीब ११ बजे रात में गोवा पहुंच गए, रात को हमने कोटेज ले लिया और डिनर करके सो गए.

सुबह मैं और माँ ब्रेकफास्ट करने के बाद बीच पर जाने के लिए निकल पड़े, बीच पर पहुंचते ही मजा आ गया. वह बिल्कुल अलग दुनिया लग रही थी. मैं तो बस बिकिनी में लड़कियों को ही घूर रहा था, सबके क्या क्लीवेज थे. मेरी मां को भी बहुत अच्छा लग रहा था.

मां साड़ी पहनी हुई थी, मैंने मां को पानी में चलने को कहा तो मां बोली कैसे जाऊं मैं तो बीच के लिए ड्रेस लाई नहीं, तो फिर मैंने कहा चलो खरीद लो, फिर वह बोली कि बहुत महंगा मिलेगा यहां.

तो मैंने कहा कि आपको कैसी ड्रेस चाहिये? मां बोली बीच के ड्रेस तूझे नहीं पता? मैंने कहा आप बिकिनी पहनोगी?

माँ ने कहा, हां बिकिनी ही तो पहनते हैं बीच पर. मैंने कहा चलो फिर खरीद लेते हैं अगर आपको पहनना है तो. मैं अंदर ही अंदर बहुत खुश हो रहा था.

माँ ने कहा पर वह बहुत महंगी मिलेंगे. मैंने कहा फिर आप तो अंडर गारमेंट्स पहनी होगी ना उसी में आ जाओ, वह भी तो बिकनी की टाइप की है ना??

मा ने कहा अरे वह मैं किसी के सामने कैसे पहन कर घूम सकती हूं?

मैंने कहा हद है माँ आपको बिकीनी में कोई प्रॉब्लम नहीं है पर ब्रा पैंटी में सबके सामने शर्म आती है, मैं गुस्सा होकर बैठ गया..

मा ने कहा चलो यह भी सही है, ब्रा पैंटी में ही बीच पर घूमती हूं. बात तो बराबर है मैंने फिर मां को छेड़ते हुए कहा कि क्या बात बराबर है? मां ने मुस्कुराते हुए कहा चल हट ऐसे कोई मां से बात करता है? फिर माँ ने अपनी साड़ी उतारी, यह सब कुछ सब लोग बीच पर देख रहे थे.

फिर मां ने अपना पेटिकोट उतारा उसके बाद माँ ने अपनी ब्लाउज उतार दी. मै अंडरवियर में था मेरा लंड बिल्कुल खड़ा हो गया, मां ने बहुत छोटे साइज की ब्रा पहनी थी, जिसके कारण उसका बूब पूरा नजर आ रहा था. फिर मैंने किसी तरह कंट्रोल कर के मां का हाथ पकड़कर पानी में गया.

वहां मैंने और माँ ने ढेर सारी मस्ती की, फिर थोड़ी देर बाद हम अपने कॉटेज के लिए निकल लिए, मां कोटेज तक ब्रा पैंटी में ही गई, कॉटेज में मां चेंज करने जा रही थी तभी मैंने मां से कहा कहां जा रही हो? तो वह बोली कि चेंज करके आती हूं.

मैंने कहां क्या चेंज करोगी बैठो ना ऐसे ही. क्यों चेंज करती हो? शाम को तो फिर जाना ही है बीच पर. वैसे भी अब आप का जिस्म ढक कर क्या करोगी? मुझे जो देखना था वह तो मैंने देख लिया है. यह सुनकर माँ बिल्कुल शरमा गई पर मेरे पास ही बैठ रह गई.

शाम को फिर मैं और मां बोन फायर के लिए गए वहां, हम दोनों अकेले बैठे बात कर रहे थे. माँ उस टाइम बहुत उदास हो रही थी. मैंने उदासी का कारण पूछा तो मां ने बताया कि गोवा में आओ और आपका कोई पार्टनर ना हो तो मजा नहीं आता.. मैं समझ गया मां को सेक्स करने का मन है. और पापा साथ में नहीं है. फिर मैंने बात को पलट दिया और मां से पूछा कि आप कभी गोवा पहले आई थी?

माँ ने कहा हां, मैं कॉलेज में अपने बॉयफ्रेंड के साथ आई थी.

मैं हैरान हो गया, फिर भी मैंने पूछा उस टाइम तो आपने बहुत मस्ती की होगी?

मां ने कहा मस्ती तो की थी पर उस टाइम बात कुछ और ही थी.

रात को फिर मैं और माँ कॉटेज पहुच गए, रात को मां ने कपड़े चेंज नहीं किए, वह ब्रा पैंटी में ही थी बस शायद ब्रा का पिन थोड़ा लूज कर लिया, वह बिल्कुल मेरे बगल में सोई हुई थी.

मैं मां को पकड़ कर सो गया, मैं उनके पेट को और कभी जांघो पर पीठ को सहलाता था. मैंने मां को एक किस भी किया था. हम दोनों २ घंटे तक ऐसे ही पड़े हुए थे. फिर मैंने मां से पूछा कि मैं आप अपने बॉयफ्रेंड के साथ ऐसे ही सोई थी? मां ने शरमाते हुए कहा तुझे क्या लगता है?

मैंने कहा मुझे लगता है कि आप दोनों सेक्स कीया होगा. मां ने कहा हां, मैंने कहा इसका मतलब आप पापा के अलावा और किसी के साथ सेक्स की हुई हो?

मां ने कहा तो इसमें बुराई क्या है? मैंने शादी के बाद कोई भी नहीं किया.

मैंने कहा की शादी के बाद भी एक बार कर लो इसमें बुराई क्या है?

मां ने कहा कर तो लू पर कोई मिले तब ना? वैसे भी मुझे सेक्स करने का बहुत मन है, पर तेरे पापा को टाइम ही नहीं मिलता. अब मेरा कोई बॉयफ्रेंड नहीं है जो मुझे चोद सके.

मैंने कहा अरे मैं हूं ना. मैं आपको मस्त चोदुंगा, आपको पूरा सेटिस्फेक्शन दूंगा.

मा ने कहा तू मेरे साथ सेक्स करना चाहता है? हा आहा हा हा.

मैंने कहा क्यों नहीं कर सकता?

माँ ने कहा अभी तू बच्चा है रे.

मै सुनकर बोला एक बार मौका दो फिर देखो मैं कितना बड़ा मादरचोद हूं.

मा ने कहा चल आज तेरे से चुदवा कर देखती हूं पता तो चले मेरा बेटा कितना बड़ा हो गया है, पर यह बात तू किसी को बताना नहीं.

मैंने कहा आप टेंशन मत लो मैं किसी को नहीं बोलूंगा.

उसके बाद मैंने मां का ब्रा और पैंटी खोला और कस के मां के बूब्स को दबा रहा था, मैंने जानवर की तरह उन को चूसना शुरू कर दिया और वह आवाज करने लगी.

चूची चूसने के बाद मैंने अपना अंडर वियर खोला और मां को अपना लंड चूसने को बोला, वो पहले तो मना कर रही थी पर मैंने उनको मना कर अपना लंड चुसवाया.

मैंने कहा माँ आप बिल्कुल रंडी की तरह लंड चूसती हो.

मां ने कहा अब तो प्रेक्टिस छूट गई है, तेरे पापा कभी चुसवातेही नहीं है ना, मेरा बॉयफ्रेंड मुझसे बहुत चुसवाता था.

मैंने कहा वह आपको रोज चोदता था? मां ने कहा हां.

फिर मैं मां को उठाया और बोला चल रंडी अब मेरा लंड का मजा ले. मैंने पहले मां की चूत चाटी और फिर अपना लंड घुसा कर उन्हें जम के चोदना शुरू किया.

मा ने कहा कितना मोटा है रे तेरा लंड? फाड़ दीया मेरी चूत को. मैंने कहा साली रंडी अभी तो तुझे चोदा भी नहीं है.

माँ ने कहा अबे मादरचोद आराम से चोद.

मैंने कहा और मुझे बच्चा समझती थी. आज तो तेरा मस्त मजा लूंगा चोद चोदकर तेरी चूत का भोसड़ा बनाऊंगा. फिर मैंने मां को पैरों के अपने कंधे पर रखा और मां की गांड और चूत को हवा में लटका दिया और धक्के मारने लगा. मां बहुत चिल्ला रही थी पर उसे मजा भी बहुत आ रहा था. मैंने उसकी चूत को बहुत बेरहमी से चोदा  और वह आवाज निकाल रही थी हरामी साले कितना चोदेगा? मैं तभी एक बार मां के अंदर में ही जड़ गया था, फिर थोड़ी देर मेंने अपना लंड चुसवाया और फिर मां को घोड़ी बनने को बोला.

माँ बहुत सेक्सी लग रही थी, मैंने माँ की चूत में पीछे से अपना लंड डाला और बहुत स्पीड में चोदना शुरू किया..

माँ जोर जोर से चीख रही थी पर मुझे चोदने से रोक नहीं सकती थी, उसे भी बहुत अच्छा लग रहा था चोदते चोदते ही मैं मां की गांड पर हाथ से मार रहा था. करीब २० मिनट चोदने के बाद मैं झड़ने वाला था, तभी मैंने मां के मुंह में अपना लंड  डाला और उनके मुंह में ही जड गया.

फिर मां ने मुझे जन्नत की सैर करा दी. उसने मेरे लंड को अपने बड़े बड़े बूब के बीच में रख के मुठ मरवाया. यह मेरे लाइफ का सबसे अच्छा एक्सपीरियंस था. तभी मैंने मां से कहा मां आपने पापा से या अपने बॉयफ्रेंड से गांड मरवाई है?

मां ने कहा उनमें तेरे जीतना दम कहा कि मेरी गांड मार सके??

फिर माँ ने कहा मादरचोद तू कहीं मेरी गांड मारने की तो नहीं सोच रहा? मैंने कहा हां माँ मुझे आपकी गांड मारनी है. क्योंकि मुझे कुछ भी वर्जिन तो मिला नहीं. आपकी चूत तो  दो लंड  से पहले ही चुद चुकी है, और मुह को आपके बॉयफ्रेंड ने चोदा है. बस गांड बची है जिसकी वर्जिनिटी में लूँगा.

माँ ने कहा आयडिया तो अच्छा है लेकिन मेरे से बर्दाश्त नहीं होगा. फिर मैंने मां को किसी तरह गांड मरवाने के लिए पटा लिया, मां को मैंने डॉगी स्टाइल में आने को बोला. फिर मैंने मां की गांड को अपनी जीभ से चाटा और उस पर क्रीम लगा कर उसमें दो उंगली गुसाई.

करीब ५ मिनट ऐसा करने के बाद मैंने अपना लंड मां की गांड में घुसा दिया और मां की गांड मारना स्टार्ट कर दिया. मैंने मां को बुरी तरह गांड में पेला, जिससे माँ झड़ चुकी थी, मैं फिर मां की गांड में ही जड़ गया और मां को एक कुतिया की तरह बेड से फेंक दिया.

और बोला साली रांड तेरी गांड ने जो मजा दिया है मैं कभी नहीं भूलूंगा. तुझे तो मैं अपने दोस्त के साथ मिलकर पेलूँगा. एक ही बार में तेरी गांड और चूत की चुदाई होगी, मजा आ गया तुझे चोद कर. मां बोली और भी कोई गली का कुत्ता हो तो ले आना मुझे अपनी गांड और चूत मरवानी है.

इसके बाद मैंने गोवा में एक फॉरेनर को बुलवा कर चुदवाया और फिर उस फोरेनर के साथ मैंने मां को चोदा. मां घोड़ी बनी हुई थी मैं मां की चूत चोद रहा था और फॉरेनर माँ के मुंह में अपना लंड डाला हुआ था.

फिर उसने मां की गांड में अपना लंड डाल दिया और बुरी तरह मां की चुदाई की. मां को ऐसा देखकर मुझे शर्म तो आ रही थी कि यह फोरेनर मेरी मां की गांड मार रहा है पर मुझे बड़ा अच्छा फील हो रहा था.

यह सब के बाद हम घर वापिस आ गए. माँ घर में वापस साड़ी पहनने स्टार्ट कर दिया और मुझसे बहुत चुदवाती है. मां की नजर मेंरे एक फ्रेंड पर है जिससे वह चुदाना चाहती है वह मां को बहुत सेक्सी लगता है.

loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age