मसाज के साथ चुदाई का मजा

loading...

हेलो दोस्तों, मेरा नाम सारिका है. आपने मेरी कहानी पढ़ी पर मुझे कमेंट भी दिए उसके लिए मैं आप सब को थैंक यू बोलती हूं. मेरी उम्र अभी २१ साल है, मेरा फिगर बूब्स ३८, कमर २८, और गांड ३८ की है, मेरी हाइट ५ फुट ४ इंच है, मेरा रंग गोरा है, इतना तो कह सकती हूं जो एक बार मुझे देख ले और उसके लंड खड़ा ना हो तो वह मर्द नहीं.

मैं और मेरे पति संजू अब कोलकाता शिफ्ट हो गए थे. रात को हम कोलकाता के होटल में रुके थे, सुबह हम अपने घर चले गए जो हमने किराए पर लिया था, घर में सारी जरूरत की चीजें थी इसलिए कुछ लाना नहीं था.

loading...

संजू को कुछ काम से ऑफिस जाना था तो चले गए. मैंने अपने और संजू के कपड़े ठीक तरह से रख दिए, रात को संजू ने बताया कि उनको काम से दिल्ली जाना पड़ेगा वह सुबह जल्दी निकल जाएंगे, संजू सुबह अपने काम से निकल भी गए.

loading...

मैं सुबह उठ कर फ्रेश होकर बैठी थी, अब तो पूरा दिन क्या करूं? संजू तो अब रात को आएंगे. मैंने सोचा कि क्यों ना अपनी बॉडी को मसाज करवा लू, पूरा दिन भी निकल जाएगा और मेरी बॉडी रिलेक्स भी हो जाएगी.

मैंने इंटरनेट से एक मसाज पार्लर की अपॉइंटमेंट ली. मैं रेडी होकर मसाज करवाने निकल गई, दो तीन दिन पहले ही वेक्स और बाकी सब करवाया था, इसलिए पार्लर जाने की जरूरत नहीं थी. मैं मसाज पार्लर गई वहां काफी अच्छा वेटिंग रूम था. वहां के ऑनर मुझसे मिलने आए.

ऑनर – सॉरी मैडम आपने जिस के साथ अपॉइंटमेंट फिक्स की थी, वह लड़की आज अवेलेबल नहीं है.

मैं – तो मेरी अपॉइंटमेंट कैंसिल कर दि आपने?

ऑनर – नहीं मैडम, आपको कोई और अटेंड करेगा और थोड़ा टाइम लगेगा.

मैं – ओके, कितना टाइम लगेगा?

ऑनर – ३० मिनट आपको वेट करना पड़ेगा.

मैं – ओके आई हेव नोट चोइस नाउ, आई विल वेट.

ऑनर – मैडम, आप चाहो तो हमारे यहां के मेल पर्सन बहुत अच्छा मसाज देते हैं, और काफी फीमेल भी मेल पर्सन का मसाज ही पसंद करती हैं.

(मैंने सोचा वेट करने से अच्छा है मेल पर्सन से मसाज करवा लू.)

मैं – पर आप के एंप्लोई से मिलना चाहती हूं, फिर आपको बताती हूं.

ओनर के कहने पर वह एम्प्लोई मेरे पास आया और कहा हेलो मैडम मेरा नाम विष्णु है, मैडम आप बिल्कुल फिकर ना करें, आप जैसे कहोगे मैं आपकी मसाज कर दूंगा. मैं तो विष्णु के देखते ही रह गई. एकदम हैंडसम था, उसकी उम्र करीब २५ साल थी और हाइट ६ फुट थी. दिखने में किसी फिल्मी हीरो से कम नहीं था. मैंने हां कह दिया.

विष्णु – मैडम आप यहां चेंज कर सकती हैं.

मैं – ओके माय नेम इज सारिका और मुझे नाम से ही बुलाओ.

विष्णु – सारिका आपको क्या करवाना है?

मैं – फुल बॉडी मसाज करवानी है.

विष्णु – सारिका आप चेंज कर के बाहर आ जाइए, आपको किसी चीज से एलर्जी तो नहीं है ना?

मैं – नहीं मुझे किसी चीज से एलर्जी नहीं है.

मैंने देखा तो वहां दो पीस बिकिनी रखी थी, और मुझसे कहा आप शावर ले कर बाहर आ जाइए. मैंने शोवर लिया और टू पीस वाली बिकिनी पहनकर बाहर आ गई.

मैंने कहा आप यहां पेट के बल लेट जाओ, मैं सीधे लेट गई. विष्णु ने मुझे पूछा कि वह मेरी बैक से मैसेज की शुरुआत कर सकता है? मैंने हां कह दिया और कहा विष्णु तुम्हे  जैसे ठीक लगे वैसे मसाज करो. विष्णु ने मुझे पेट के बल लेटने को कहा.

विष्णु ने कहा कि सारीका आपको प्रॉब्लम ना हो तो आपकी बिकिनी उतार कर सफेद कपड़ा रख देता हूं, वैसे भी मुझे रिलेक्स होना था तो मैंने विष्णु से कहा तुम्हें जो करना है वह करो. विष्णु ने पीछे से मेरे ऊपर के पीस को निकाल दिया, और पेट के बल लेटी थी, वहां कपड़ा रखने की जरूरत नहीं थी. विष्णु ने पहले ऊपर कपड़ा रख दिया और मेरी पैंटी उतार दी.

अब मैं विष्णु के सामने नंगी थी सिर्फ मेरी गांड को कपड़े से ढका हुआ था. उसने मेरी बेक पर तेल लगाया और मसाज करने लगा. विष्णु के हाथ ऊपर से नीचे की तरफ मेरी बेक पर घूम रहे थे और बीच बीच में कुछ जरूरी पॉइंट भी दबाने लगा.

फिर उसने मेरी जांघ पर ओइल लगाकर मसाज करना शुरू किया. उस टाइम बहुत अच्छा लग रहा था. विष्णु ने मुझे पीठ के बल लेटने को बोला और मेरी चूत और बूब्स को कपड़े से ढक दिया, फिर उसने मेरी नेक पर मसाज करना शुरू कर दिया.

वह ऐसे मसाज दे रहा था कि मुझे यहां से उठ कर जाने का मन नहीं हो रहा था. विष्णु ईतने अच्छे से मसाज कर रहा था कि मैं एकदम रिलैक्स फील कर रही थी, और मेरी बॉडी को बहुत सुकून महसूस हो रहा था.

फिर उसने मेरे पेट पर मसाज करना शुरू किया, आयल लगाकर धीरे धीरे मेरे पेट पर मसाज करने लगा, मेरे नवल पर ऑइल लगाया, अंदर छेद में उंगली से मसाज करने लगा और वह मुझे बहुत बेचैन बना रहा था. फिर उसने ओइल लगाकर पैर को मसाज किया.

वह बारी बारी से मेरी बॉडी के अलग अलग हिस्से में मसाज कर रहा था, पर मेरा मन चुदाई के लिए बेचैन हो रहा था. मैं मन मन ही मन सोच रही थी यह अगर मुझे चोद दे तो कितना अच्छा लगेगा.

एक घंटे के बाद उसने मुझे कहा कि आपका मसाज हो गया है, मैंने कहा अभी पूरा नहीं हुआ है, मेरे प्राइवेट पार्ट की मसाज भी कर दो तुम्हें अगर प्रॉब्लम ना हो तो, मैं तुम्हें इसके लिए एक्स्ट्रा पे करूंगी.

विष्णु ने कहा सारिका मुझे कोई प्रॉब्लम नहीं है मैं किसी भी बॉडी पार्ट पर मसाज कर सकता हूं, विष्णु ने मेरे बूब्स और चूत पर से कपड़ा निकाल दिया और मैं उसके सामने पूरी नंगी थी और वह शोर्ट में था.

विष्णु तुम भी अपना  शोर्ट निकाल दो मुझे अकेले नंगे होने में शर्म आ रही है. विष्णु ने मेरी बात मान कर वह की नंगा हो गया, फिर उसने ऑयल लिया और मेरे बूब पर लगा दिया, विष्णु ने धीरे धीरे मेरे बूब्स को नीचे से ऊपर की तरफ मसाज करना शुरू किया, और मैं पूरी तरह से बेचैन हो गई. मैं चुदने को बेकरार हो गई थी.

मेरे बूब को हल्के हाथों से मसाज करते करते फिर जोर से करने लगा और १० मिनट बाद मेरे बूब्स लाल हो गए थे. विष्णु ने मेरे निप्पल को अपने हाथो से मसलने लगा और ऐसे करके मेरे निप्पल खड़े हो गए थे.

विष्णु ने पीछे मेरी चूत में देखा तो मेरी चुत ने अपना पानी छोड़ दिया था, मेरी चूत पूरी तरह से गीली हो गई थी.

विष्णु ने मेरी चूत को खोला और हाथ फेरने लगा और मेरे मुंह से निकल गया अहह औऊ हहह  क्योंकि मैं अब बहुत ज्यादा गर्म हो गई थी और चुदना चाहती थी, विष्णु ने अपनी एक उंगली मेरी चूत में डाल दी और धीरे से अंदर बाहर करने लगा, एजी औउ अह्ह्ह हह हहह विष्णु जोर से करो बहुत मन हो रहा है, प्लीज और जोर से  करो.

विष्णु ने मेरी आवाज सुन कर दो उंगली डाल दी और जोर जोर से मेरी चूत चोदने लगा और दूसरे हाथ की उंगली मेरी गांड में घुसा दी और जोर जोर से दो छेद में उंगली से चुदाई हो रही और मैं अहहह औऊ ओह्ह हहह औऊ ओह हहह अम्म विष्णु और तेज करो बर्दाश्त नहीं होता..

थोड़ी देर बाद फिर से मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया, मैं थोड़ा रिलैक्स हुई थी पर चुदने का मुड अभी भी था. पर मेरी चुदाई विष्णु ने कैसे की वह मैं आपको अगली कहानी में बताऊंगी.

loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age