मेरी चुदक्कड मामी

हेलो दोस्तों, मैं सनी हूं वडोदरा से और यह मेरी पहली कहानी हे. मेरी उम्र २१ साल है और मुझे कहानी पढ़ना बहुत पसंद है अब मैं अपनी कहानी शुरू करता हूं. यह मेरी मामी की कहानी है जो दुबई में रहती है.

मेरे मामा और मामी दुबई में सेटल हे और कुछ दिनों के लिए अकेली इंडिया आई हुई थी तब की है. मैं १५ साल का था. यह कहानी ६ साल पुरानी है जो की में आज आपको पेश करने वाला हूं मेरी मां का नाम पद्मा है. तब उनकी उम्र ३९ साल थी.

वह थोड़ी मोटी है. उनका फिगर ३६-३०-३८ हे. उनके बूब्स और बड़ी है जिसे देख के किसी का भी लंड खड़ा हो जाए, वह ज्यादा तर सलवार कमीज पहनती है और कभी कभी साडी. घर में टी शर्ट और नाईटी ये सब पहनती हे. उनका फिगर देख कर आप अंदाजा लगा सकते हे क्या कयामत हे मोटी हैं लेकिन सेक्स के लिए परफेक्ट है.

यह तब की बात है जब उन्होंने हमारे घर के पास एक फ्लेट खरीदा था जो कि मेरे अंकल ने काफी सस्ते में दिलाया था, क्योंकि मेरे अंकल की फ्रेंड का ही फ्लेट था उनका नाम है कानजी भाई. उनकी उम्र ६० साल है वह और वह एक बार दुबई जा चुके हैं. और वह मेरी मामी के साथ पहले भी मिल चुके थे और वहा पर मेरी मामी के घर पर रुके थे. इसीलिए उन के रिलेशन मेरी मामी के साथ अच्छे थे.

मेरी मामी दुबई से अकेली आई हुई थी इसीलिए मेरी मा ने मुझे उनके साथ रहने को कहा और तब मेरा वेकेशन चल रहा था तो मुझे भी उनके साथ रहने में कोई प्रॉब्लम नहीं थी तब मैं छोटा था इसलिए.

वह मुझे चॉकलेट वगेरा सब खूब देती थी. इसी लिए मुझे उनके साथ मजा आता था.  जब एक बार में दोपहर को सोया था. वैसे तो में सोता नहीं लेकिन हम रात को मूवी देखने गए थे इसीलिए मैं सोया हुआ था और अचानक मेरी नींद खुली तो मामी बेड पर नहीं थी. तब मैं मामी के साथ सोया हुआ था. क्योंकि मैं तब छोटा था तो मेने रूम से बाहर निकल कर देखा..

तो मामी की आवाज सुनाई दे रही थी दूसरे रूम से और दरवाज़ा भी थोड़ा सा खुला था तो मैं वहां पर थोड़ी जगह में से देखने लगा तो मुझे मेरी आंखों पर यकीन नहीं हो रहा था कि मैंने क्या देख रहा हूं. मामी पूरी नंगी थी और साथ में कानजी अंकल थे.

वह मामी के ऊपर चढ़े हुए थे और अपनी कमर से झटके मार रहे थे और मामी आह ओह्ह की आवाज़ निकाल रही थी अंकल जोर जोर से धक्के लगा रहे थे.

अंकल भी आह्ह ओह्ह हहह औऊ मम्म आवाज निकाल रहे थे और उनकी चुदाई की आवाज गूंज रही थी. और मामी को होठो में होंठ डाल कर किस कर रहे थे. मामी अपनी जीभ बाहर निकाल रही थी और अंकल जी उसकी चीभ को चूस रहे थे मैं. क्या मस्त नजारा था पहली बार में लाइव चुदाई देख रहा था.

ऐसा २० मिनट तक चलता रहा फिर अंकल ने अपना लंड निकाला बाहर ८ इंच का लंड था. २ इंच मोटा अंकल खड़े हुए और मामी भी उठी और बेड पर ही बैठी रही. अंकल ने मामी के मुंह में लंड डाल दिया. मामी चूसने लगी अंकल ने मामी का सर पकड़ लिया और जोर जोर से अपनी कमर हिला कर अपना लंड मामी के मुंह में डालने लगे. मामी के मुह से बहुत सारा थूक निकल रहा था वह गप गप लंड अपने मुंह में ले रही थी अंकल अहह ओह्ह हहह ओही हह कर रहे थे.

फिर अंकल ने मामी को बेड पर झुका दिया और वह पीछे जाकर अपना लंड मामी की गांड में ठक ठक मारने लगे मामी बोल रही थी जानू क्यों तड़पा रहे हो? अंकल बोले जान तेरी गांड इतनी मोटी है मजा आता है उसपे चपट मारने में. फिर अंकल ने मामी की चूत में पीछे से लंड डाला और लंड तो आराम से अंदर चला गया लगता है मामी ने चूत में बहुत से लंड लिये है और जोर से झटके मारने लगे. मामी भी अहह ओह हहह हिओहोई आवाज निकाल रही थी और धक्के खाने लगी. और मुझसे चुदवाने लगी.

अंकल मामी की गांड पर चपट मार के चोद रहे थे जोर जोर से ठप ठप ठप की आवाज़ आ रही थी. भाभी भी गांड मटका रही थी क्या सीन था? मेरा भी उस बार पहली बार लंड खड़ा हुआ था.

इसी पोजीशन में अंकल मामी को १० मिनट चोदते रहे. अब अंकल खूब जोर जोर से धक्के मारने लगे. ठप ठप लगता था वह जडने वाले थे और झटके से अपना लंड चूत में से निकाल लिया और जट से मामी को अपनी तरफ मोड़ कर उनके मुंह में दे दिया.

और उनका सर पकड कर मामी के मुंह को चोदने लगे और जोर जोर से आह ओह हहह ओह हहह करने लगे और एक जोर का झटका मारा और और उसी पोजीशन में ही खड़े रह गये और अहह ओह्ह हां ओह अह्ह्ह कर रहे थे. उन्होंने सारा वीर्य मामी के मुंह में निकाल दिया और लंड पूरा मुंह में होने के कारण मामी के मुंह ने सारा वीर्य गले में उतर गया. फिर अंकल ने अपना लंड निकाला और सीधे लेट गई और जोर जोर से आह्ह अहह ओह्ह हहह कर रहे थे और मामी सीधी दौड़ कर बाथरूम में चली गई.

फिर दो तीन मिनट में मामी बहार आई और अंकल की छाती पर सर रख कर लेट गई और अंकल के निपल चूसने लगी. अंकल के पेट को चाटने लगी, नाभि में अपनी जीभ डालने लगी. अंकल कुछ रिस्पॉन्स नहीं दे रहे थे और जब मामी ने अंकल के लंड को पकड़ा तो अंकल हड़बड़ उठे और जोर से आह ओह्ह करने लगे.

मामी यह देख कर हंसने लगी और बोली कि क्या आप भी एक बार की चुदाई से इतने ढीले हो गये वहां दुबई में अरबो के लंड क्या कमाल के होते हैं साले २ बार तो आराम से चोद लेते हैं, लंड भी बडे बडे नाभि तक फिल करवाते हैं.

अंकल बोले थोड़ा रुको मैं पानी पीकर आता हूं. कह कर रूम से बाहर आ रहे थे और मैं दूसरे रूम में जाकर सो गया फिर पता नहीं क्या हुआ? अंकल हॉल में जाकर बैठ गए और किसी से फोन पर बात करने लगे. थोड़ी देर बाद वह रूम में गए और मैं अपनी जगह पर वापस आ गया.

वह मामी को किस करने लगे होंठ में होंठ डाल कर जीभ में मुंह में डालकर फिर मामी के बूब्स दबाकर चूसने लगे. पूरी बॉडी को चाटने लगे. मामी की दोनो टांगे के बीच उनकी जांघो के बीच अपना मुंह डाल कर चूत को चाटने लगे. मामी भी मजे से आह ओह्ह हहह ओह्ह एस करने लगी. ईतने में डोर बेल बजी तो मामी भी गभरा गयी की कौन आ गया अभी?

तो अंकल ने कहां रुको मैं देखता हूं. तुम यहीं रहो में भी ज़टके से रूम चले गया. इतने में अंकल अपने साथ बिल्डिंग के प्रमुख को लेकर आए.

वह काले से हट्टे कट्टे से उनकी उम्र ४५ साल थी. में फिर से मेरी जगह पर आ गया. उन्हें देख मामी शरमा गई. अंकल बोले यह तुझे नाभी तक फील करवाएगा. इसके साथ मिल कर मेने  बहुत रंडी की चूत मारी है. यह कह कर अंकल ने कहा मैं जाता हूं मुझे काम है और वह चले गए. अब मामी को वह प्रमुख ने अपना लंड निकालकर उनके मुंह के सामने रख दिया.

मामी ने लंड देखा तो उनकी आंखों में चमक आ गयी क्योंकि लंड ९ इंच लंबा और ३ इंच मोटा था. और वह सीधा मुह में लेकर चूसने लगी. प्रमुख मामी के सर को  पकड़ कर उनका मुंह को चोदने लगा.

फिर अंकल ने अपने कपड़े निकाल दिए और मामी का बेड पर लिटाकर और उनकी टांगे फैलाकर अपना लंड डाल दिया और खड़े खड़े धक्के मारने लगे.

मामी की चिख निकल गई. अह्ह्ह ओह्ह हहह मर गई प्लीज उईई मांआआअ प्रमुख खड़े खड़े धक्के पर धक्के दिए जा रहे थे. उन्होंने मामी की टांगे अपने कंधे पर रख दी और तेजी से चोदने लगे. ठक ठक जैसी आवाज आ रही थी.

फिर ऐसा १५ मिनट चला फिर मामी को प्रमुख ने उठा लिया और अपनी गोद में उठाकर मामी ने अपने पैर प्रमुख की कमर पर लिपटा दिए और प्रमुख भी ऐसे गोद में उठाकर मामी को चोदने लगे, लेकिन मामी थोड़ी मोटी थी इसीलिए प्रमुख ठीक से चोद नहीं पा रहे थे.

और उन्होंने मामी को ३-४ झटके मार कर बेड पर पटक दिया और मामी को अपने ऊपर ले लिया. मामी अब प्रमुख के ऊपर थी लंड तो अभी भी चूत में ही था. अब मामी अंकल की छाती पर अपने हाथ रख कर प्रमुख के लंड पर उछलने लगी. मामी के फेस से लग रहा था कि अंकल का लंड उन को अंदर तक फिल करा रहा था.

ऐसा १० मिनट चला फिर प्रमुख भी अपने नीचे से कमर हिला के मामी को चोदने लगे. लगता था उनका वीर्य निकलने वाला था और वह आगाह हह्ह्ह अहह करते हुए शांत हो गए और मामी फड़फड़ा उठी क्योंकि प्रमुख का लंड मामी की चूत में ही झड़ गया था और वीर्य की पिचकारी सीधी मामी के पेट तक गई होगी और थोड़ी देर तक वह प्रमुख पर लेटी रही.

फिर १०  मिनट के बाद प्रमुख उठे और कपड़े पहनने लगे. मैं भी रुम में चला गया प्रमुख भी चला गया और मैं फिर से देखने गया की मामी क्या कर रही है? तो मैंने देखा कि मामी अपनी चूत फैलाकर उंगली डालकर प्रमुख का वीर्य निकाल रही थी. फिर उठकर बाथरूम में चली गई और मैं रूम में जाकर सो गया.