मेरी रंडी बहन रितु

loading...

मैं एक २४ साल का लड़का हूं, मैं कॉपी राइटर की नौकरी करता हूं मुंबई में. मैं मुंबई में ४-५ साल से रह रहा हूं, वैसे तो मैं महाराष्ट्र के अकोला डिस्ट्रिक्ट का हूं.

मेरी बहन को डिस्क्राइब करूं तो वह २१ साल की है, सांवली है थोड़ा. स्लिम फिगर है लेकिन उसके फीचर बहुत ही अच्छे हैं. वह दिखने में बहुत सुंदर तो हे ही. मेरे दोस्त ने एक बार कहा था कि अरे बुरा मत मानना लेकिन यार तेरी बहन तो किसी माल से कम नहीं, इस बात पर मैंने बुरा तो नहीं माना लेकिन उसे मैंने बहुत मारा. मेरे दोस्त कभी यह कहते नहीं दिखते थे, लेकिन वह शायद मेरी रितु की एक झलक के लिए मरते थे.

loading...

वैसे तो मेरी बहन एकदम सिंपल सी थी, कॉलेज जाती थी, आती थी, पढ़ाई करके सो जाती. कभी उसकी कंप्लेंट या न्यूज़ हमें नहीं सुनने को मिली, मैं हमेशा चाहता था की रीतु का कोई बॉयफ्रेंड न हो, वह पढ़ाई करें और अच्छी सी जिंदगी जिए. पहले साल में हमने एक मोबाइल फोन उसे लेकर दिया. वह बहुत खुश हो गई. वह रोज कॉलेज से आकर मुझे फोटोस दिखाती थी और हम बहुत बातें करते थे.

loading...

करीब २-३ महीने के बाद यह सब कम होने लगा, वह ज्यादा बातें नहीं करती थी. पढ़ाई में भी मार्क्स कम थे, और वह कॉलेज से देर से आने लगी, मुझे पहले तो लगा कि हां यह तो कॉलेज लाइफ है, इस उमर में नये फ्रेंड बनते हैं, मस्ती होती है, लेकिन यह कुछ ज्यादा ही होने लगा था.

मैंने उसे एक दिन अपना मोबाइल का पासवर्ड डालते देखा, मेरे अंदर ख्याल आया कि शायद मैं एक बार देख लूं, ताकि मुझे तसल्ली हो जाए की रितु कोई गंदी हरकत तो नहीं कर रही है, वह नहाने गई और मैं उसके फोन को चेक करने लगा. उसमें मुझे कुछ खास नहीं दिखाई दिया, लेकिन तब उसी वक्त एक मैसेज आया, मैंने देखा उसमें लिखा था, कि हाय रितु डार्लिंग, आज कहां चले? जल्दी बताओ आज दिन भर घूमने का मूड है.. लव यू.

मेरा दिमाग चकरा गया, मेरी बहन को कोई डार्लिंग कह रहा है. और उसके साथ घूमना भी चाहता है. मैंने फोन वैसे ही रख दिया, और मेरे बेडरूम में जाकर बैठ गया.  कुछ देर बाद रीतु ने अपनी बैग, स्कार्फ और अपना मोबाइल उठाया और मैसेज को पढ़ा और थोड़ी स्माइल करते हुए टाइप करने लगी, मैं बहुत नाराज था लेकिन मै ऐसा कुछ नहीं करना चाहता था जिससे रितु को कोई परेशानी हो.

वह निकल पड़ी और मेने भी अपनी बाइक निकाली और उसकी कॉलेज की तरफ निकल पड़ा, वह अपने कॉलेज के गेट के सामने खड़ी थी. और तभी वहां एक लड़का आया, और उसे गाल पर किस किया. मेरे तो रोंगटे खड़े हो गए. वह दोनों गाड़ी पर बैठ निकल पड़े, मैं भी उनके पीछे जा रहा था, उन्होंने पेट्रोल भरा और फिर निकल पड़े, कुछ देर बाद वह एक पार्क के सामने आए और गाड़ी पार्क कर दी, टिकट निकल कर वहां अंदर गए, कुछ ही देर बाद मैंने भी टिकट निकालने गया तो टिकट वाला टिकट फाड़ते हुए अपने दोस्त से कह रहा था कि अरे वह आज भी लेकर आया है,  लगता है आज ठोकेगा उसे हां हां हाहा.. जी हां वह मेरी बहन ऋतु के बारे में बात कर रहा था, मैं अंदर गया और चुपके से उसे ढूंढने लगा. तभी मुझे वह दिखाई दिए वह तालाब के पास जा रहे थे, और वह तालाब के पास एक पेड़ के नीचे बैठ गए. और गले में हाथ डाल कर बातें कर रहे थे, मैं एक दूसरे पेड़ के पास खड़ा हो कर यह सब देखता रहा, मुझे यकीन नहीं हो रहा था कि यह मेरी बहन है.

वह दोनों बहुत खुश दिख रहे थे, मेरी बहन उसे लिपट कर बैठ गई थी, और तभी उस लड़के ने मेरी बहन के पिछवाड़े पर हाथ रखा, और सहलाने लगा, रितु ने कुछ नहीं किया, उसने फिर उसके बूब्स दबाये आए और गले पर किस किया, और रितु का हाथ पकड़ा और अपने पेंट की जीप के पास रखा, तो रितु ने आंख एकदम से हाथ हटाया, उसने वह फिर किया और इस बार उसने हाथ नहीं हटाया, दोनों ने एक दूसरे की तरफ देखा और किस कर दिया, कोई मामूली किस नहीं था, यह बहुत डीप किस था. वह लड़का मेरी बहन रितु के बड़े मजे ले रहा था, वह बहुत देर तक किस कर रहे थे और फिर उठे और चल पड़े.

फिर क्या बताऊं आपको कि कहां कहां घूमें यह दोनों.. उन्होंने ४-५ घंटो तक सिर्फ गाड़ी चलाई, भेल पूरी खाई, यह सब मैं देख रहा था. लेकिन मैं वह दृश्य नहीं भूल पाया जहां वह लड़का मेरी बहन के साथ कर रहा था चुम्मा-चाटी.

करीब एक हफ्ते बाद हालत वैसे ही थी, मैं टूट गया था मेरी बहन एक आवारा लड़के के साथ अश्लील हरकत कर रही थी, मेरी समझ में कुछ नहीं आ रहा था, तभी एक दिन की बात थी, मैं अपने दोस्त के यहां जाने वाला था, मोम और डेड तो वैसे ही दिल्ली गए थे.

तभी रीतु का फोन बजा, उसने झट से उठाया और अपने बेडरूम में चली गई. और दरवाजा बंद कर लिया, मैं भी दरवाजे पर कान लगा के सुन रहा था, उसने कुछ इस तरह से बात की.

हां बोलो. आज नहीं.. चुप करो ना.. सुन तो लो.. तुम मेरे घर आओगे. १ बजे.. उस वक्त कोई नहीं रहेगा. शायद चार पांच घंटे के लिए.. चुप कर मुझे शर्म आ रही है.. नहीं बोलूंगी.. कुत्ता.. वह लेकर आना.. चल बाय.. लव यू बेबी.

मैं समझ गया आज कुछ होने वाला है और यही मौका है रितु को रंगे हाथ पकड़ने का.

मैं नहा के तैयार होकर निकल पड़ा, ठीक १२:३० बजे और एक गली के कोने में जाकर खड़ा हो गया, और उस लड़के का इंतजार करने लगा. तभी जोर से एक बाइक पहली गली से सीधे मेरे घर की तरफ गई, मैं समझ गया वही लड़का है. मैंने भी गाड़ी निकाली और धीरे धीरे सामने बढ़ा. वह बाइक मेरे घर के सामने खड़ी थी, और वह लड़का मेरे घर के दरवाजे पर था. वह बहुत सीधे कपड़े पहन के आया था. कुछ ही देर में दरवाजा खुला. रितु ने उसे अंदर खींच लिया, मैं झट से कंपाउंड वॉल कूदकर अंदर गया, और पिछली खिड़की के पास जाकर खड़ा हो गया. वहां से घर के अंदर अच्छा नजारा मिल रहा था.

वह लड़का बाथरुम में गया लेकिन उसने दरवाजा नहीं लगाया, मुझे सब ठीक से दिख रहा था. उसने जिप खोली और अपना पेनिस अपने हाथ में लिया, और अपनी फोरस्किन पीछे कर दी, यह देख कर मेरे रोंगटे खड़े हो गए. वह आज मेरी बहन को चोदने वाला था, मेरे दिल में ख्याल आया कि मैं उनको रोक दूं, मैं कभी इतनी नहीं चाहूंगा कि मेरी बहन किसी आवारा लड़के से चुद जाए, करीब १०-१५  मिनट बाद वह अपने रूम में गए, मैं  उसके रूम के ऊपरी हिस्से वाले विंडो से जांक रहा था, वह दोनों स्मूच कर रहे थे. मेरी बहन सलवार में थी और बाल बिखरे हुए थे. वह बहुत सेक्सी लग रही थी, वह लड़का रीतु के मुंह के अंदर अपनी जीभ डाल कर मजे ले रहा था, यहां वहां दबा रहा था, तब रितु बोली

तुमने लाया है कंडोम?

उसने हंसते हुए कहा मेरी जान आज तू मेरी एक दिन के लिए बीवी है, तुझे जी भर कर चोदूंगा और जोर से हंसने लगा.

मेरी बहन ने अपने हाथ अपने फेस पर रखकर शरमा कर बोली, मुझे नहीं करना घर जाओ अभी तुम.

अरे अभी तक तुझे मैंने अच्छे से देखा भी नहीं है, तुझे आज कुछ कर दूंगा मैं हल्के  से वह बोला.

प्रॉमिस करो तुम हलकेसे करोगे, तुम ने जो वीडियो दिखाई थी उसमें वह लड़का बहुत गंदे तरीके से वह कर रहा था, रीतू बोली.

वह क्या? वह हंस कर बोला.

तुम्हे पता है ना, तुम मेरे साथ करोगे रीतू बोली.

देख अगर तू ठीक ठीक नहीं बोलेगी, तो मैं चला जाऊंगा. साफ साफ कहो क्या करूंगा मैं तुम्हारे साथ? मैं सुनना चाहता हूं वह हंसकर बोला, और ऐसे बोलो कि जैसे मैं तुम्हारा हस्बैंड हूं,

ओके ओके ठीक है जी सुनो यह क्या तुम मुझे आज चोदोगे हल्के से, रीतू बोली.

अरे जान आज तुझे जन्नत की सैर करवाऊंगा, पकड़ोगी हाथ में? वह हंसकर बोला.

बहन ने उसे झट से गले लगाकर बोला तुम भी ना कुछ भी बोलते हो, मुझे शर्म आ रही है.

और वह दोनों वापस किस करने लगे मैं यह सब देख रहा था, सोच रहा था कि कैसे वह एक स्लट बन गई.

करीब १० मिनट उन्होंने किस किया और फिर उसने रीतु का सलवार निकाल दिया वह अपने ब्लैक कलर की ब्रा में बहुत सेक्सी दिख रही थी, उसने उसे गले लगाया और ब्रा का हुक खोलने लगा.

फिर उसके बूब्स पर अपनी जीभ से चूसने लगा, बहुत गर्म सिन था, मेरी बहन रीतु के बूब्स बहुत कामुक है, वह छोटे थे पर काफी अच्छे दिख रहे थे. उसने उसे झट से बेड पर लेटा दिया और वापस उसके बूब्स को चाटने लगा, मेरी बहन भी सबका बहुत मजा ले रही थी, उसकी आंखें बंद कर के आवाजें निकाल रही थी, फिर वो और नीचे गया और उसकी पैंटी खोल दी. अब मेरी बहन ने रीतु पूरी तरह नंगी हो गई थी, वह लड़का बहुत खुश था. उसने अपनी उंगली रीतु के चूत में डाल दी, रितु ने चादर को जोर से पकड़ा और कोई आवाज नहीं निकाली, और वह बहुत उत्तेजित हो गई थी. फिर उस हल्के ने अपनी दो उंगली डाली और साथ ही साथ जीभ से रितु की चूत को सहला रहा था, करीब १५ मिनट तक उसने रितु की चूत को गर्म किया.

फिर दोनों ने किस किया और वह बहुत धीरे से बोला, अब मेरी बारी.

रितु ने कहा, मुझे बताओ किस तरह से करते हैं, मुझे नहीं आता.

उसने अपनी जिप खोली और अपना लंड बाहर निकाला, रितु नर्वस थी वह नाखून चबा रही थी और फिर वह बोला, सुनो तुमने वीडियो देखी है ना, मेरे लंड पर हाथ रखो और आगे पीछे सहलाओ, रितू ने वैसा ही किया और बोली यह ठीक है? वह बोला बहुत खूब. सच कहूं तो आज तक जितनी लड़कियों को चोदा हूं, उन से अच्छी तो तू करती है पगली.

वह हंस पड़ी और मैंने मन में ही कहा सच में मेरी बहन स्लट बन गई है.

उसने कहा अब बस करो, और लंड को मुंह में लो ना.. रितु बोली नही वह मैं नहीं करुंगी.. बिल्कुल नहीं. लड़के ने यह सुनकर मेरे बहन के सर पर हाथ रखा और जबरदस्ती अपना लंड रीतु के मुंह में डाल दिया, रितु बहुत अजीब से आवाज निकाल रही थी. उस लड़के ने रितु का मुह चोदा और फिर ५ मिनट बाद बोला रीतु यार तू बहुत गर्म है रे, तुझे कुत्ते के समान चोद दूंगा. मेरी बहन अपनी आंखें ऊपर करके एकदम इनोसेंट चेहरा बनाकर बोली प्लीज थोड़ा धीरे करना.

उसने रीतु को बेड पर लेटाया और अपना लंड पकड़ कर डालने ही वाला था कि तभी रितु ने उसे रोका और बोलि रुको, तुमने कंडोम क्यों नहीं लगाया? वह कुछ नहीं बोला और सीधा लंड डाल दिया रीतु की गुलाबी चूत में. वह जोर से चींखी. लेकिन फिर शांत हो गई, वह नजारा भी बहुत गर्म था. वह उसे चोद रहा था पर कुछ ही देर बाद उसने स्पीड बढ़ा दी.

दोस्तों अब क्या बताऊं? मेरी प्यारी बहन मेरे आंखों के सामने करीब आधे घंटे तक अलग अलग पोजीशन में चुदवा रही थी.

बहुत देर के बाद वह थक गया और बोला कि तुझे पता है मैं कब क्या करूंगा?

रितु का चेहरा पकड़ कर बोला, वह करूंगा जो पहले मैंने कभी नहीं किया.

रितु डर के बोली, क्या करोगे बताओ ना?

वह बोला तू आज तेरे मुंह पर मेरा कमशॉट लेगी, लेगीना?

और बिलिव इट और नॉट, रितु हंस कर बोली चलेगा.

और वो बोला मुझे पता था तुझे कम शॉट पसंद है, साली छिनाल कहीं की.

और रीतु बोली अपनी जीभ खोलकर उसके लंड के पास आ कर बोली, तो इस छिनाल की प्यास बुझाओ.

उसने लंड हीलाया और रितु के मुंह पर अपना वीर्य गिरा दिया, वह बहुत थक गया और बेड पर लेट गया.

रितु मजे से सारा कम अपने मुंह से निकाल कर पि रही थी, और बोली कितना टेस्टी है तुम्हारा कम?

और वह हंसकर बोला सच में रितु, यार तुम एक रंडी से भी ज्यादा गिरी हुई है, साली छिनाल..

रितु हंस पड़ी और बोली चलो अब तुम निकलो, मेरा भाई कुछ ही समय में आ जाएगा.

आ जा आराम कर ले, क्योंकि कुछ ही दीन में तेरे साथ और भी कुछ करना है.

रीतू बोली क्या?

वह तो नहीं बताऊंगा तुझे, बस इतना समझ ले कि तू मेरी छिनाल है. तुझे जन्नत की सैर कराना मेरा काम है. चल अब ईधर आकर किस दे मुझे.

रितु ने किस किया और बाथरूम में चली गई.

करीब १५ मिनट बाद वह वहां से निकल गया और मैं भी.

आज मेर बहन को पकड़ने वाला था रंगे हाथ, पर जैसे ही वह बोला कि वह रितु के साथ कुछ और करने वाला है, तब मेरे दिमाग ने  सोचा कि मैं रितु को इस से भी गिरी हुई हरकत करते पकड़ सकता हूं.

loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age