गर्लफ्रेंड ने प्लास्टिक के लंड से मेरी गांड मारी

loading...

यह कहानी मेरी और मेरी एक्स गर्लफ्रेंड नेहा की हे. इसमें में आपसे शेयर करने वाला हु की कैसे में अपनी गर्ल फ्रेंड का गुलाम बन कर रहा और किस तरह से में उसकी सेवा करता हु. नेहा मुझे अपना नोकर बनाकर रखती थी और अपने मजे के लिए मुझे यूज करती थी. में उसका पालतू कुत्ता, सूअर भी बन कर रहता था. वो मुझे सीसी भी बनाती थी और अपनी फ्रेंड्स के साथ भी मुझे शेयर करती थी.

में एक प्रायवेट कम्पनी में काम करता हु और गुडगाँव में रहता हु, नेहा एक सोफ्टवेर फर्म में टीम लीड हे. उसकी उमर ३० साल हे और फिगर ३४-२६-३६ हे, बो बहुत ही ब्यूटीफुल हे, उसे देख कर ही लोगो के लंड खड़े हो जाते हे, उसके ३४ के चूचो में खो जाने का मन करता हे.

loading...

सेटरडे को सुबह १० बजे में उनके फ्लेट पर आ गया, अन्दर घुसते ही में बेडरूम में गया और कपडे निकाल कर नंगा हो गया. और उनकी वहा पड़ी एक पेंटी पहन ली. यह उनका पहला रुल था मेरे लिए की मुझे उनकी सेवा या तो नंगा हो कर या फिर उनके सेलेक्ट कीये हुए कपड़े पहन कर करनी हे. में जब भी उनकी सेवा करने आता हु मुझे ऐसे ही रहना पड़ता हे. जब तक वो कुछ और पहनने के लिए ना दे. अब में उनकी पेंटी पहन कर बेडरूम में गया.

loading...

वह बेड पर लेटी हुई थी सिर्फ पेंटी में. लगता था की रात पार्टी से आकर कपड़े निकाल कर सो गयी थी, उनके कपड़े रूम में बिखरे पड़े थे. में उनके पैरो में बैठ गया और उनके पैरो को किस करने लगा. उस अहसास से वह जागी और मेरी तरफ देखने लगी.

आ गया मेरे कुत्ते, साले तू इतना जल्दी आ जाता हे मुज से गालिया खाने, साले तुजे और कोई काम नहीं हे क्या? चल बहन के लोडे चाय बना कर ला ना मेरे लिए..

जी मालकिन, में उठकर किचन में जाकर चाय बनाता हु. और ५ मिनिट में दोबारा रूम में आता हु, वो उठकर सोफे पर बैठ जाती हे.

उन्होंने चाय की सिप ली.

चाय तो बढ़िया बनाई हे तूने. सिख गया तू. ले इनाम में तुजे भी देती हु. चल मेरी पेंटी निकाल और इसे सर पे पहन ले और चूत वाले हिस्से को नाक पर रख.

उसने अपने चुतड हवा में उठाये और मेने हाथ डालकर पेंटी निकाल ली और अपने सर में पहन ली. वाह क्या खुशबु आ रही थी मालकिन की चूत की.

हम्म, मुह में ले कर चूस इसको. मेरे चूत के पानी का मजा ले.

मेने उसकी पेंटी को मुह में लेकर चूसने लगा, मेडम की चूत की खुशबु सूंघ कर ही मेरा लोडा खड़ा होने लगा पर पेंटी ने बड़ा होने लगा.

हाहाह. देख साले कुत्ते का लोडा कैसे तड़प रहा हे चड्डी में. चल मुझे फ्रेश हो कर आना हे, तुजे भी ले कर चलती हु.

उन्होंने मुझे बालो से पकड़ा और बाथरूम ले कर चल दी. में भी उनके पीछे झुक कर चलने लगा. वो कमोड पर जा कर बैठ गयी और में उनके पैरो के पास निचे बैठ गया, बिलकुल उनकी चूत के सामने. उन्होंने मूतना स्टार्ट किया और अपनी दो उंगली मूत में गीली कर के मुझे चाटने को दे दी.

ले सूअर की औलाद चाट अपनी देवी का मूत. जब तक वो फ्रेश हुई में उनकी उंगली चाट रहा था.

चल जा कर कमरा ठीक कर, और में उठकर कमरे में आ गया. सामान और कपडे उठाने लगा.

वो बाथरूम से आयी और आकर टीवी देखने लगी, में कमरा ठीक कर दिया था. और बेड पर टॉवेल बिछा कर खड़ा हो गया. मालकिन आ कर टॉवेल पर उलटी लेट गयी. में ड्रावर से मसाज ओइल निकाल कर उनके पैरो पर आ गया. अपनी पेंटी निकाल कर नंगा हो गया, मसाज करते वक्त मुझे नंगा रहना पड़ता हे.

में उनके पैरो पर तेल डाल कर ऊपर से निचे मसलने लगा, फिर उनकी जांघ पर मालिश करने लगा, फिर उनके ऊपर आ कर कमर पर मसाज करने लगा. फिर कमर से निचे आकर उनके चुतड को मसलने लगा, फिर में झुककर उनके गांड के छेद पर जीभ फेरने लगा. ऊपर से निचे तक उनकी गांड चाटने लगा.

आह्ह, कुत्ते चाट अपनी मालकिन की गांड, इसीलिए तू पैदा हुआ हे भड़वे.

मेने अपनी जीभ उनकी गांड के छेद में डाल दी और उसे अन्दर ही घुमाने लगा.

आह्ह साले रंडी की औलाद, चूस अपनी मालकिन की गांड.

भोसडी के, बहन के लोडे, तू पैदा ही हुआ हे औरत की गांड को चाटने के लिए, साले चाट अपनी मालकिन को.

काफी देर चाटने के बाद मालकिन कि चूत ने पानी छोड़ दिया और फिर मेने उनको सीधा कर के उनकी चुचिया पर मसाज करने लगा.

मसाज करने के बाद में बाथरूम में चला गया और मेडम को नहाने की तैयारी करने लगा. फिर उनको उठा कर बाथरूम में लेके आया और स्टूल पर बैठा दिया. पहले उनके बाल ढोने लगा और उनके शरीर पे साबुन लगा कर अच्छी तरह से मसलने लगा.

मालकिन अब नहाकर बहार आ गयी थी, मेने उनके शरीर को पोछा और सोफे पर बैठा दिया बाल सुखाने के लिए. में फिर मालकिन की पहनी हुई चड्डी और ब्रा ले कर बाथरूम में धोने चला गया. मालकिन की ब्रा और पेंटी में हमेशा अपने हाथो से धोता हु ताकि वो ख़राब ना हो. मेडम इसका इनाम मुझे लव बाईट दे कर करती हे.

मेडम अब ड्रेसिंग टेबल के सामने बिठाकर तयार होने लगी, में उनके पैरो में जा कर बैठ गया, उन्होंने मुझे रेड कलर का नेल पेंट दिया और मेने उनके नेल्स पर लगाया. उनका पैर मेरे लोडे पर दबाव डाल रहा था. मेडम के गोर गोरे पैर बहुत ही सुंदर थे, मन कर रहा था की उनकी पुजा करता रहू जिंदगी भर.

फिर वो उठकर अलमारी से एक ब्लेक कलर की बेबी डोल निकाल कर पहन लिया. उनकी सेक्सी चुचिया और गांड अब बेबिडोल से छुप गयी. सिर्फ सेक्सी लेग्स ही दिख रहे थे, में युही नंगा अपने लोडे को ले कर बैठा रहा. फिर वो सोफे पर जा कर बैठ गयी और मुझे अपने पास बुलाया. में कुत्ते की तरह चल कर उनके पास गया. उन्होंने मेरे कंधो पर पैर रख लिए और में अब उनकी जांघ के बिच में था. मेडम की चूत बिलकुल मेरे सामने थी.

आह मेरे डौगी को अच्छा लग रहा, मालकिन की चूत देख कर.

जी मालकिन.

मेरा कुत्ता चूत चाटेगा.

जी मालकिन.

आह्ह स्श्हह्ह शो स्वीट, बताओ फिर किसका कुत्ता हे तू?

मालकिन आपका कुत्ता हु, आपकी सेवा मेरा धर्म हे.

आह, चल चूत को सूंघ और चाट, जब तक में मूवी देखती हु.

फिर वो दो घंटे तक मूवी देखती रही और में उनकी चूत को सहलाता रहा, बिच में दो बार जड़ भी गयी थी वो और मेने उनकी चूत का पानी पिया २ घंटे तक.

फिर वह उठी और मुझे बालो से पकड़ कर बेड पर धक्का दे दिया, में बेड पर जुक गया और मेरे पैर जमींन पर थे. उन्होंने मेरी गांड पर थप्पड़ मारा.

साले अब आ गयी तेरी चुदाई की बारी, अब में तुजे बनाउंगी रांड साले. साले लुगाई अपनी चूत भी इतनी नहीं चुद्वाती जितनी तू गांड मरवाता हे अपनी लडकियों से. २ थप्पड़ मार कर वो अलमारी से स्ट्रेपओन, कंडोम लेने चली गयी.

२ मिनिट के बाद मेडम स्ट्रेपओन बाँध कर, उस पर कंडोम लगा कर मेरे पीछे आ गयी. और प्लास्टिक के लोडे को मेरी गांड पर मारने लगी. फिर गांड पर लोडा सेट किया और धक्का दे कर अंदर घुसा दीया, बहुत दर्द हो रहा था.

आःह्ह, मेडम प्लीज़.

साले रांड हे तू मेरी, बोल साले की तू रांड हे.

हाजी मेडम, में आपकी रांड हु, प्लीज़ आराम से.

बहन के लोडे रांड आराम से नहीं लेती, भड़वे, अब तू चुदेगा ले साले ले और ले.

साले तू रंडी हे, तुजे तो में अपनी दोस्तों से भी चुदवाउंगी, सबका मूत पिलाऊंगी तुजे, सबकी गांड चाटेगा तू, भेन्चोद.

हां मेडम, में आप सब की रंडी बनूँगा, मूत भी पिऊंगा.

तुजे तो हम अपनी बीवी बनाएँगे, देखता जा तू अब.

१५ मिनिट तक ऐसे ही गांड चुदवाने के बाद में वही गिर गया.

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age