प्रिया की चुदाई का सपना पूरा हुआ

हेलो दोस्तों, मेरा नाम राकेश है. मेरा खुद का बिजनेस है. मेरी उम्र २९ साल है. मेरी हाइट ५ फुट ९ इंच है मेरा रंग गोरा है और मेरा लंड ६ इंच का है. जब मैं कॉलेज में पढ़ता था तो  मेरी एक जूनियर थी और उसका नाम प्रिया था. वह कॉलेज की होटेस्ट लड़की थी. सभी लड़के उसके दीवाने थे. जब उसका लेक्चर फ्री होता तो सब लड़के अपना लेक्चर छोड़ दिया करते थे. लेकिन मेरी उससे कभी बात नहीं हुई, क्योंकि हमारा लेक्चर अलग होता था

मेरी ग्रेजुएशन कंप्लीट हो गई थी. और मैं अपने घर के बिजनेस में बिजी हो गया था.

एक दिन मैंने कंपनी में अपने लिये पर्सनल सेक्रेटरी रखने के लिये इंटरव्यू ले रहा था. तब मेरा ध्यान उस पर पड़ा. वह अभी भी उतनी हॉट लग रही थी जितनी कॉलेज में थी. जब मैंने उसको देखा तो उसको अपने केबिन में बुला लिया. उसने ब्लैक जींस और व्हाइट टी शर्ट पहनी थी. जिसमें से ब्लैक कलर की ब्रा साफ साफ दिख रही थी.

मैंने उससे पूछा तो बोली की इंटरव्यू के लिए आई हूं. एक्चुली उसको मेरे बारे में पता नहीं था कि मैं भी  उसी कॉलेज में था. मैंने उसको अपनी सेक्रेटरी के काम पर रख दिया.

उसने थोड़े दिनों में ऑफिस जॉइन कर लिया. ज्यादा काम होने के कारण मैं उसके साथ अकेले में बात नहीं कर पाया. एक महीने के बाद मैंने उसको बताया कि मैं भी उसी के कॉलेज में पढ़ रहा था. उसको विश्वास ही नहीं हुआ. मैंने उसको कहा कि आज भी तुम उतनी ही हॉट हो जितनी कॉलेज के दिनों में लगती थी.

प्रिया : थैंक यू सर.

राकेश : फिर हम थोड़ा थोड़ा क्लोज हो गये. फिर हम हंसी मजाक भी करने लगे.

उसने बताया कि उसकी अभी शादी नहीं हुई है

मेरे दिमाग में फिर उसको चोदने का ख्याल आने लगा. मैंने उससे पूछा कि तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड है क्या?

उसने बोला नहीं है, मैं सिंगल हूं.

मैंने कहा कि इतनी तो हॉट हो तुम फिर भी सिंगल कैसे हो सकती हो? उसने बताया कि उसका बॉयफ्रेंड था, अब नहीं है.

ऐसे ही कुछ दिन निकल गए ऑफिस में.

एक बार मुझे कंपनी के काम से आउट ऑफ स्टेट जाना था. तो मैंने प्रिया को कहा कि हमें बाहर जाना है तो वह मीटिंग के लिए डॉक्यूमेंट कंप्लीट कर ले.

मैंने एक होटल में रुम बुक कर लिया था मैंने उसको चोदने का पूरा प्लान बना दिया था.

हम दोनों टैक्सी में चले गए हम मीटिंग से बहुत समय पहले पहुंच गए थे तो हम सीधा होटल के रुम में चले गए. मैंने एक ही रूम बुक किया था तो वह रूम में मेरा साथ थी. प्रिया ने दूसरे रूम के लिए कुछ नहीं बोला मुझे.

फिर हमने लंच किया. और हम लोग मीटिंग के लिए निकल गए.

हमारी मीटिंग रात को खत्म हुई. तो मैंने कहा कि काफी रात हो गई है तो आज रात होटल में रुक जाते हैं. तो प्रिया भी मान गई.

हम दोनों होटल के रुम में पहुंच गए. हमने डिनर किया और फ्रेश हो गए.

और फिर हम एक ही बेड पर लेट गए.

मैंने उससे कहा कि कॉलेज में काफी लड़के तुम्हारे दीवाने थे.

प्रिया ने पूछा कि तुम नहीं थे क्या?

मैंने कहा हा में भी था. क्योंकि तुम बहुत हॉट और सेक्सी हो.

उसने कहा मुझे पता है कॉलेज में सभी लड़के मुझे घूरते ही रहते हैं

मैंने पूछा तुम्हारा ब्रेकअप क्यों हुआ?

तो प्रिया थोड़ी देर चुप रही.

फिर उसने कहा कि वह कभी मुझे सेटिसफाइड नहीं कर पाया और उसकी गलती निकालता था. उसको हमेशा मेरा जिस्म चाहिए .था उसने कभी मेरे फीलिंग्स की कदर नहीं की.

मैंने कहा तो यह बात है.

प्रिया अचानक मेरे पास आई और मेरे लिप्स पर किस कर दिया, और बोलीआई लव यू राकेश. मुझे कभी छोड़ कर मत जाना.

मैं तो बस यही मौका देख रहा था मैं उसके ऊपर चढ़ गया और किस करने लग गया. मैंने उसकी टी शर्ट उतार दी और उसके बूब्स  को दबाने लगा. उसने रेड कलर की कलरफुल ब्रा पहनी हुई थी.

प्रिया ने मेरी भी टी शर्ट उतार दी मैं ऊपर से पूरा नंगा हो गया था. मैंने उसकी नाक पर किस किया फिर उसकी गर्दन के नीचे किस किया.

और मैं एक हाथ से उसके बूब्स को दबा रहा था. फिर मैंने उसकी ब्रा खोल दी और उसके बूब्स  बाहर निकल आए. मैंने उससे उसका साइज़ पूछा तो उसने बताया  ३२-२८-३४ हे.

फिर मैं उसके पिंक निप्प्ल्स को चूस रहा था मैंने उसकी निपल पर दांत का निशान कर दिया, और प्रिया चिल्ला रही थी.

अब मैंने जींस उतार दी और अपनी पैंट और अंडरवेअर भी उतार दी. वह मेरा ६ इंच का लंड देख कर बोली आज तो चुदाई का पूरा मजा लुंगी तेरे लंड से.

मैंने कहा डार्लिंग तेरा ही है. मैंने उसका मुंह मेरे लंड पे डाल दिया और वह सक करने लग गई. मैंने उसकी पैंटी को खींच कर निकाल दिया जो एकदम गीली हो चुकी थी. उसकी चूत पर हल्के हल्के बाल थे.

मेरा रस उसके मुंह में ही निकल गया और वह उसे पी गई.

मैं उसकी चूत पर आया और उसकी चूत को चाटने लग गया वह सिसकियां ले रही थी वह गर्म हो चुकी थी. मैं १० मिनट तक उसकी चूत को चाटता रहा. अब उसका निकलने वाला था, तो मैं उसका सारा रस पी गया. उसका चूत रस बहुत ही टेस्टी था.

फिर वह बोली अब मत तड़पाओ. चोद डालो अपनी  रंडी को जल्दी से.

फिर मैंने अपना लंड पकड़ कर उसकी चूत पर लगाने लगा और धक्का मारने पर मेरा पूरा लंड उसकी चूत में चला गया और प्रिया उछलने लग गई.

मैने ३० मिनिट तक उसकी चूत मारी और उसकी चूत में ही मैने माल निकाल दिया.

फिर मैंने उसको कुत्ती बनने को कहा और वह बन गई. मैंने अपना लंड पीछे से चूत में डाल दिया वह बहुत आवाजे निकाल रही थी. और उसका रस तिन बार निकल चुका था. मेरा लंड अभी भी उसकी चूत को मार रहा था. वह रुकने को कहने लग गई, मैंने कहा जानेमन आज तो जन्नत का मजा लो पूरा.

फिर मेरा रस उसकी चूत में निकल गया. हम दोनों बेड पर लेट गए. उस रात मैंने उसको चार बार चोदा और सुबह तक हम दोनों की बस हो गई थी. हम सुबह टैक्सी से वापस आ गए.