सामने वाली कुवारी चूत

हेलो दोस्तों, मैं हूं आपका लवगुरु. यह मेरी पहली ओर रियल कहानी हे, यह मेरी मनपसंद और मेरी रियल कहानी है, मैं जो भी करता हूं वह सब आप दोस्तों और मेरे दोस्तों को बताता हूं. मेरा यह मानना है की सेक्सी और चुदाई की स्टोरी का अपना ही एक लाजवाब मजा है दोस्तों, क्योंकि यह जो हम रीड करते हैं वह सब जब रियल में हो जाए तो उसकी बात ही क्या है. आप सब दोस्त लड़के और लड़कियां अपनी सीट गर्म कर लो लड़के अपने लंड को पकड़ ले और लड़कियां अपनी चूत में उंगलीया सेट कर ले, क्योंकि अब स्टोरी स्टार्ट हो रही है आप सब के सामने.

यह बात उस टाइम की है जब मेरी उम्र करीब २० साल की थी मैं उस टाइम कराची में रहता था. मेरी पढ़ाई पूरी होने वाली थी, तब मैं लाहौर अपने मामू के घर चला गया. शायद लाहोर जा कर मुझे कोई जॉब मिल जाए, पर मैंने वहां अपने मामू से बोल के कंप्यूटर सेंटर ओपन करवा लीया. वहां पर धीरे धीरे आस पास के बहुत सारे लड़के और स्टुडट लडकियों का आना शुरू हो गया था. उन स्टूडेंट में से एक बहुत खूबसूरत लड़की आलिया थी, वह मेरे मामू के घर के सामने ही रहती है. उनका खुद का घर हे और वह अपने माँ, और बाप के साथ रहती थी. उस के हमारे मामू के साथ बहोत अच्छे सम्बन्ध थे और मामू ने कहा था की तू अलिया के पास से फिज नहीं लेना. तो मेने कहा की ठीक हे.

अलिया के मम्मे बहुत बड़े बड़े थे और वह बहुत सेक्सी थी, उस की गांड की दरार उसकी ड्रेस में से साफ साफ नजर आती थी और उसे देख के उस के पीछे चलने वाले लोग अपना आप खो बैठते थे. वहां के आस पास के रहने वाले सारे लड़के उसे तरसी हुई नज़रों से देखते थे, सब लड़के उस की जम कर चुदाई करना चाहते थे पर आलिया किसी भी लड़के को भाव नहीं देती थी और अगर कोई लड़का उसे छेड़े या छेड़ने की कोशिश भी करता था तो वह उस से लडने लग जाती थी.

आलिया के बदन में से बहुत जबरदस्त खुशबू आती थी. जो भी उस के पास से निकलता था वह उस का दीवाना हो जाता था. अलिया के फिगर की तो कोई बात ही मत करो मतलब कि उसका फिगर ऐसा था कि लड़का देख कर पागल हो जाए कि बस इसकी चुदाई करनी है, उसका फिगर का नाप कुछ ३६-२४-३६ था. आप ही बताओ हे ना कमाल और जबरदस्त फिगर.

एक दिन वह अकेली कंप्यूटर सेंटर पर आई हुई थी और मैं फिर उसे अपने कंप्यूटर पर सिखाने लग गया. मैंने मेरे कंप्यूटर में पहले से ही बहुत सारी सेक्सी मूवी रखी हुई थी. जब वह मेरे साथ बैठ कर कंप्यूटर सीख रही थी तभी उनमें से एक वीडियो के उपर गलती से क्लिक हो गया और वीडियो चल गई. उस वीडियो क्लिप में एक लड़का एक लड़की की बहुत जबरदस्त चुदाई कर रहा था. यह सब देख कर आलिया थोड़ा सा घबरा गयी और शरमाने लगी और मुझे कहने लगी यह क्या है? क्या चल रहा है? आपको शर्म नहीं आती? तभी मैंने उस से कहा कि इसमें शरमाने वाली क्या बात है? इस वीडियो में लड़का लड़की अपनी सेक्स की प्यास बुझा रहे हैं और यह प्यास तो सब में होती है, बस यह सुन कर उस ने अपनी आंखें नीची कर दी और अपने होठों को अपने दातों के नीचे दबाने लगी. मैं इस मौके की कब से तलाश कर रहा था.

फिर मेने सोचा की इस से अछ्हा मौका मुझे बाद में नहीं मिलेगा तो मैंने देरी ना करते हुए अपना एक हाथ उस के होंठों पर रखा और उसे चुम्मा करना शुरू कर दिया. मैं उस के लिप्स को चूस रहा था मानो उस के लिप्स में रस भरा हो. फिर मैंने अपनी जुबान उस के मुंह में डाल दी और उस के मुंह को अपने टंग से चोदने लगा और उसे अपनी टंग चूसा भी रहा था. फिर मैंने ऐसे ही उसकी टंग के साथ किया और वह बहोत मजे ले कर मेरी जीभ को अपने मुह में ले कर चूस रही थी और में उसकी गर्म गर्म सांसो को महसूस कर सकता था और मुझे तो बहोत ही मजा आ रहा था. मुझे ऐसा लग रहा था की में स्वर्ग में घूम रहा हु और वह अप्सरा मुझे प्यार कर रही हे.

मैंने उस के पूरे चेहरे को चूमा और अपना एक हाथ उसके बड़े बड़े बूब्स पर रखा और तब मुझे एक झटका सा लगा, पर मैंने उस के बूब्स दबाने शुरू कर दिए. फिर मेरा एक हाथ उस की सलवार के अंदर चला गया और मेरी उंगलि भी एक सॉफ्ट सॉफ्ट चूत को सहलाने लगी.

फिर आलिया पागल होने लगी उसके मुंह से आह आऊ अहह ओह अहह औउ ओज्ज ओह ओम्म एस औऊ ओह्ह मम्मा अम्मा आई औउ ओमम्म ओह्ह एस  आह की आवाज आने लगी और उसकी सांसे गर्म होने लगी. अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा था, मन कर रहा था कि इस के सारे कपड़े उतार कर आलिया को चोद डालू और उसकी कुवारी चूत का रस पि लू. और उसी टाइम मुझे मामू की बोलने की आवाज सुनई दी और हम दोनों सीधे होकर बैठ गए. अलिया मुझे बार बार उस की तिरछी नजरों से देख रही थी और थोड़ी देर के बाद वह वहां से चली गई. फिर में अपने काम में लग गया. और में तो अपना काम करते करते भी सिर्फ अलिया के बारे में सोच रहा था की इस माल को कब पकड़ने का चांस मिल्लेगा और कब में अपने लग की आग को उसकी चूत में शांत करूँगा.

फिर अगले दिन वर मेरे पास नहीं आई, मैं बहुत परेशान हो रहा था. मेरा लंड सिर्फ उसी का इंतजार कर रहा था, उस रात मेरी मामा की लड़की का बर्थडे था तो हमने मनाया. मेरी कजिन भी एक पाकिस्तानी हीरोइन जैसी लगती है, जिसे देख कर मेरा लंड उसे सलामी देता था, पर क्या करूं वह मेरे कजिन थी और मैं उस के साथ कुछ नहीं कर सकता था. पर रियल में मेरा लंड अलिया के लिए तड़प रहा था, मुझे डर था कि कही वह मुझसे नाराज ना हो जाए.

पर वह अगले दिन आ गई, उसे देख कर मैं बहुत खुश हो रहा था. मैंने पूरी क्लास के सामने उसे खड़ा किया और पूछा कि आलिया क्यों नहीं आई आप? तो उस ने कहा कि सर मेरी तबीयत ठीक नहीं थी, और वह मुझे अपनी गर्म नजरों से देख रही थी. फिर मैंने थोड़ी देर बाद क्लास की छुट्टी कर दी और आलिया को रोक लिया क्योंकि वह कल नहीं आई थी और उसे कूछ समजाना जरुरी  था.

फिर क्या अलिया को मैंने फिर से सेक्सी वीडियो लगा कर दे दी, उस वीडियो में एक गोरा लड़का एक लड़की के बूब्स चूस रहा था. वह देख के आलिया पागल होने लगी   और मैंने भी देर ना करते हुए उस को किस करना स्टार्ट कर दिया, और फिर उस के बोबे को दबाने स्टार्ट कर दिया. फिर मूवी में उस ने देखा कि वह गोरा लड़का उस लड़की के मुंह में अपना लंड डाल रहा था, यह उत्तेजित सिन देख कर आलिया जोश में आने लगी और वह पागल सी होने लगी.

मैं अब उसका हाथ पकड़ा और अपने लंड की तरफ लाने लगा, और उस ने भी मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ लिया और उसे सहलाने और दबाने लगी, अब मेरा लंड खड़ा होने लग गया था, अब मैंने देर ना करते हुए आलिया का कमीज उतार दिया और बूब्स को चूसना स्टार्ट कर दिया और उस के निप्पल को बार बार मैं अपने दांत से काट रहा था. जिस से आलिया के मुंह से आह औउ ओह अहह औउर नहीं हह्ही अहह बस इईह ओःह्ह ओह्नन प्लीज़ आह्ह होःह बस ओह अहह हो ओई आह आह बस करो आवाज आने लगी थी.

अब मैंने अपनी पेंट की जीप खोल दी और उस के सामने अपना लंड कर दिया. अब अलिया के आँखों में चमक आ आयी और उस ने अपना मुंह खोला और मेरे लंड को प्यार से चूसने लगी. मुझे बहुत मजा आने लग गया था. मैंने अपना एक हाथ उस की सलवार मे दीया और अपनी उंगलियों से उस की चूत को सहलाने लगा और चूत को मेरी उंगलियों से चोदने लग गया.

अलिया और ज्यादा जोश में आ गयी थी. और वह औऔ हो अहह ऐउह ओःह औउ ओह अहह हो अहह अम्म ओहाह्ह औऔ हो अहह आऊ कर रही थी. फिर मैंने आलिया के मुह से अपना लंड निकाला और उस की सलवार उतार दी, फिर उस के पैर खोल दिए और मैं लाल गुलाबी चूत देखने लगा. मैं अब नीचे बैठ गया और अपना सिर उसकी चूत के सामने रखा और चूत को चाटने लग गया, अब आलिया से रहा नहीं जा रहा था वह पूरी तरह पागल होने लगी, और वह बहोत जोर जोर से आया ऊया ह्होह अहह अम्म ओह हां येस्स और करो चुसो मेरे राजा आह हो अह हहह और अंदर तक करो अह हो अहह ओहः मम येस्स आई येस्स. फिर मेरा भी दिल रहा था कि इस गुलाबी चूत में अपना लंड डाल दू.

अब मेने अलिया को घोड़ी बनाया और अपना लंड  उसकी चूत पर रखा और मेने अलिया से पूछा इस चूत में पहले कभी किसी का लंड गया की नहीं गया? आलिया ने जवाब दिया नहीं. बस अब क्या था? मेरी खुशी दोगुनी हो गई और मैंने अपना लंड  आलिया की चूत में डालने के लिए धक्का दिया, उधर आलिया बोली सर आऊ ह हां होःह मम पोह्हः औउ ओह अहह म्मम्म दर्द हो रहा है. मैंने कहा डार्लिंग पहले पहले दर्द ही होता है.

फिर मजे ही मजे है. मैंने अलिया के बूब्स को पकड़ लिया और उसे अपने वश में कर लिया और मैंने जोर से धक्का मारा, आधा लंड उस की चूत में चला गया था और अलिया चीखने लगी आओ हो ऊया ह्ह्हो अहह अम्म ओह अहह हो अह्ह्ह  निकालो सर मर गई आज तो मैं आऊ ओह अह्ह्ह

पर मैं नहीं रुका, मेने दूसरे धक्के में पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया, और वह रोने लगी पर मैं उसके बूब्स को दबाने लगा. फिर थोड़ी देर में वह सेट हो गई और चुदाई के मजे लेने लगी. फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत में से निकाल दिया और वह बोली सर क्या हुआ कुछ प्रॉब्लम है? प्लीज करो ना. मैंने कहा डार्लिंग इंतजार का फल मीठा होता है.

मैंने आलिया को सीधा किया और उस की लेग ओपन की और लंड को उसकी गुलाबी चूत के अंदर डाल दिया और दोनों हाथों से उसके बोबे को दबाने  लगा. अब अलिया अपने होश खो रही थी, उसे नहीं पता था कि क्या हो रहा है उसके साथ? अब चुदाई का नशा उस के सर पर चढ़ गया था.

अब वह कहने लगी थी सर जोर जोर से मारो अब उसका पानी निकलने वाला था तो मैंने अपना लंड जोर जोर से और स्पीड में अंदर बाहर करने लगा. अब देखते ही देखते अलिया का पानी निकल गया और वह मुझ से लिपट गई और बोली आई लव यू, तो मैंने कहा आलिया अब मेरा भी निकाल दो, अब मुझे नीचे आने दो, तो वह मेरे ऊपर आई और चुदने लगी, मुझे भी अब बहुत मजा आने लग गया था. वह मेरे लंड के ऊपर नीचे हो रही थी.

तब मैंने कहा कि अलिया अब मुझे अपनी गांड का मजा दे दो तो वह मान गयी. फिर से मेने उसे घोड़ी बनाया और उस की गांड पर थूक लगाया और अपना लंड  उस की गांड के ऊपर रखा. ईतने में वह बोली दर्द होगा फिर से. मैंने उसको समझाया जान पहले पहले दर्द होगा फिर सब ठीक हो जाता है और बाद में मजे मजे ही होते हैं बस, इसीलिए वह मान गई.

फिर मैंने धीरे धीरे लंड उस की गांड में उतार दिया और मैं उस की गांड को चोदने लग गया. अलिया भी मजे ले रही थी, तब मुझे लगा कि मेरा पानी निकलने वाला है तब मैंने अपना लंड उसकी गांड से निकाला और अलिया के मुंह में डाल दिया और अपना पानी भी उसके मुंह में भर दिया. और तभी हमने अपने कपड़े डाले और सीधे हो कर बैठ गए.

कुछ देर बाद मामु आ गये और कहां अच्छी चल रही है ना क्लास आलिया मेरा भांजा कैसा टीचर है? तो अलिया ने कहा की इसके जैसा  टीचर तो मैंने अपनी जिंदगी में नहीं देखा, बहुत अच्छे टीचर है, यह सुन कर मामू जान खुश हो गये और  चले गये. और उधर अलिया की नशीली नजरे मुझे बुला रही थी.

One Reply to “सामने वाली कुवारी चूत”

Comments are closed.