स्टूडेंट की सेक्सी माँ को चोदा

हेलो दोस्तों मैं संजू अहमदाबाद गुजरात से हु. इस घटना की शुरुआत २०१७ की अप्रैल में हुई थी. मैं अपनी बीएससी फाइनल साल में था और अपने खर्च निकालने के लिए स्कूल स्टूडेंट के ग्रुप को पढ़ाया करता था..

एक स्टूडेंट की मां मुझे अपने फोन  से पॉजिटिव थॉट वाले मैसेज भेजा करती थी जो आगे बढ़कर सेक्सुअल कॉमेडी वाली बन गई मैं थोड़ी सोच में पड़ गया.

दिखने में भाभी एकदम सेक्स देवी थी उसके ३४ साइज के बूब्स देख कर किसी का भी खड़ा हो जाए, मैं कोई गलत सोच नहीं रहा था क्योंकि वह मेरे स्टूडेंट की मॉम थी. एक दिन उसने मुझे सेक्शुअली हॉट फोटो व्हाट्सअप पर भेजी तो उसे कैसे रिप्लाई किया जाए मुझे पता नहीं चला.

तो मैंने रिप्लाई में कुछ नहीं कहा, वैसे तो मैं हमेशा उनके जोक की तारीफ या कोई स्माइली भेजा करता था, तो उसके दुसरे मैसेज में उन्होंने मुझे पूछा कि आप कोई गर्लफ्रेंड क्यों नहीं है मेंटेन करते हो..

मैंने जवाब में यह कहा कि कहां मेरे पास इतना टाइम है गर्लफ्रेंड के लिए.. तो उन्होंने जो कहा मैं कभी सोच नहीं सकता था, क्यों कोई सेक्सी फीलिंग नहीं होती है आपको? उसके जवाब में मैंने कहा मेरी सिचुएशन के हिसाब से अपने आप को काबू में रखना जरूरी है.

भाभी ने कहा जो मैंने कभी किसी सेक्सी हॉट भाभी से सुनने की उम्मीद नहीं की थी क्योंकि मैं ना इतना हैंडसम दीखता हूं और ना कोई अच्छी फिजिक्स है, क्यों काबू में रखते हो? मैं हूं ना शेयर करो तुम्हारी फीलिंग चाहे सेक्शुअल ही सही..

मैंने कहा क्या मजाक करते हो जी? कहां में कहां आप इतनी ब्यूटीफुल लेडी हो, जिसके जवाब में उन्होंने कहा क्या कुछ है की नहीं तुम्हारे अंदर?

मुझे थोड़ा हर्ट सा फील हुआ तो मैंने अपने ६.५ इंच के लंड की पिक्स खींची और उन्हें फॉरवर्ड कि, जिसके रिप्लाई में उन्होंने कहा कल इसे मुझे रियल में देखना है, में तो पागल हो गया यह सुनकर तो मैंने कहा क्यों नहीं जी देख लीजिएगा..

फिर रात को काम से फ्री होने के बाद उनके साथ चैट करते हुए मुझे  पता चला कि भाभी के पति बिजनेस के चक्कर में उनकी सेक्सुअल लाइफ पर बिल्कुल ध्यान नहीं दे रहे थे, तो वह मुझसे अगले दिन मिलना चाहती थी, जब से उन्होंने मेरे लंड को देखा था.

मैंने हां कहा लेकिन लास्ट में गुड नाइट देने से पहले मुझे और शॉकिंग चीज़ बोला कि वह मुझे सुबह उनके जिम जाने से पहले मिलना चाहती थी, बस १ मिनट के लिए क्यों ना हो..

मैंने हां कहा और सोने से पहले मेरे नसीब में इतनी सेक्सी भाभी आ रही है यह सोचकर एक्साइट हो गया था. फिर मैं सो गया सुबह ५:३० बजे भाभी जी की कॉल से उठ गया और उन्होंने कहा कि वह घर से निकल गई है..

मैंने ट्रैक पैंट पहनकर एक सिंपल सी टीशर्ट पहनकर अपनी गाड़ी लेकर उन्होंने जिस जगह आने को कहा वहां पहुंच गया, मेरे घर के पास में और उनकी कार में बैठा तो उन्होंने एक सुनसान जगह जहा थोड़ी अंधेरा जरूर था लेकिन सेफ्टी के लिए वहां गए.. और भाभी जी ने लेट ना करते हुए कहा प्लीज जल्दी तुम्हारा हथियार दिखाओ..

मैंने एक्साइटमेंट में ट्रैक को नीचे किया और कहा आगे आप ही देख लो. जोकी के अंदर मेंरा लंड तना हुआ था जिसे देखते ही भाभी ने अपने हाथ से छुआ और जोकि को नीचे कर दिया.

मुझे थोड़ी शर्म  हुई फिर सोचा जब भाभी खुद कर रही है तो मुझे क्यों शर्म.. और भाभी ने जब अपने हाथ मेरे लंड पर लगाये तब मुझे एक शौक सा लगा और मैंने अपने हाथ भाभी के बूब्स पर रख दिया और दबाया..

भाभीने जरा सा आह उऔ ओह हहह मोन किया आया ऊऊ आराम से करो तो मैं और जोर से करने गया, तो भाभी मेरे लंड को ऊपर नीचे करने लगी, उनके सॉफ्ट हाथ से क्या मजा आया.

में उनके बूब्स को जोर से दबाने लगा, तो भाभी ने कहा प्लीज मैं यहां टी-शर्ट उतार नहीं सकती, तो ऐसा करते हैं शाम को मैं तुम्हारे घर पर आती हूं, तभी जो तुम्हारी मर्जी कर लेना, मैंने तो यह सपने में भी नहीं सोचा था.

तो हम वापस मेरे घर के थोडे नजदीक पहुंच कर मुझे उन्होंने ड्रॉप किया और बाय कहकर मैं घर लौटा. घर पर आ कर फ्रेश होकर मैंने अपने लंड के बाल को साफ किया और भाभी जी की कॉल का इंतजार करने लगा..

करीब दोपहर २ बजे भाभी जी का कॉल आया कि वह अभी मेरे घर के वहां पहुंच रही है,  मैं एक भाड़े के मकान में रहता हूं तो मैंने भाभी से कार कुछ दूर की जगह पार्क करवाया कि किसी को शक ना लगे.

मैं उनको मेरे एक दोस्त की तरह घर पर लाया. दरवाजा खोलकर मैं अंदर गया और फिर भाभी आ कर दरवाजा बंद कर रही थी. जब मैंने अपने सामने इतनी सुंदर भाभी को देखा तो अपने आप को रोक नहीं पाया, मैंने उन्हें पीछे से पकड़ा और नेक पर किस करते हुए दोनों हाथ से उसके बूब्स को एक साथ प्रेस करने लगा.

मेरा लंड उसकी गांड को चुभ रहा था, भाभी नशीली आंखों से मुझे देखते हुए मेरी और मुड़कर मुझे किस किया और मैंने भी किस किया. फिर मैं अपने दोनों हाथों से उनके बूब्स को प्रेस करने लगा. भाभी ने उनकी ड्रेस की हुक पीछे से खोल दी जिससे ड्रेस थोड़ी लूज होकर नीचे आ गई, मैं सरप्राइस हुआ उनकी वॉयलेट कलर की ब्रा देखकर.. एक्साईट होकर मैंने तुरंत पूरी ड्रेस को नीचे कर दिया क्या नजारा था?? बड़े बूब्स सेक्सी ब्रा में और सेक्सी दिख रहे थे.

में पागल हो गया और उनके बूब्स को ब्रा के ऊपर से ही चूसने लगा और मैंने भाभी के पीछे से ब्रा के हुक को खोल दिया और अब उसके सेक्सी बूब्स मेरे सामने थे, उसकी ब्राउन निप्पल बहुत ही सुंदर दिख रही थी.. मैं अपने होंठ से उसे चूसने लगा और दूसरे को अपने हाथ से मसलने लगा..

वह बहुत इंजॉय कर रही थी और बीच में उन्होंने कहा मुझे तुम्हारा लंड सक करना है, मैं सरप्राइज था क्योंकि मैं जब पोर्न मूवीस में देखा था तो लगा कोई विदेशी कल्चर में होता होगा.. लेकिन भाभी मेरा लंड चूसने को कहेगी यह मैंने सोचा नहीं था. फिर मैं उसकी बात सुनकर नीचे सो गया और भाभी मेरे पैरों की तरफ सर रखकर सो गई. हम 69 की पोजिशन में आ गए और मैं जब उनकी लेगी नीचे खींच लिया तो एकदम गरम हो गया था क्योंकि उनकी पैंटी ट्रांसपरंट थी.

भाभी ने मेरे लंड को अपने मुंह में लिया तो मुझे एक करंट सा लगा. मैंने भी भाभी की पैंटी को साइड पर कर के उनकी चूत को होठ लगाया तो वह सिहर उठी और मैं उसे चाटने लगा, और वह मजा लेने लगी और  अहह उऔ उओह हां ये ययय यस यस्य्स्य गैग उह गैग यया ऐऔइ उऔउ यस य्य्स हहह कहने लगी प्लीज फिर से करो.

मैंने मेरी दो उंगली से उनकी चूत को अलग करके भाभी की गुलाबी चूत के अंदर मैंने अपनी जीभ डाली और अंदर बाहर करने लगा, भाभी एकदम तड़पने लगी, कुछ ही सेकंड में भाभी ने अपना पानी निकाल दिया, मुझे उनका पानी नमकीन सा लगा, लेकिन बहुत ही मस्त टेस्ट था.. और मैं सारा पानी पी गया.. मेरा पानी अभी निकला नहीं था लेकिन भाभी जी के लिप्स और गर्म सांस के सामने मेरा भी पानी निकलने वाला ही था मैंने भाभी से कहा

तो उन्होंने कहा कि उनको मुंह में लेना है, और जैसे ही भाभी ने कुछ तीन चार बार सक किया मेरा पानी उनके मुंह में छूट गया और वह पूरा पानी पी गई, क्या एक्सपीरियंस रहा और मैं उनकी और बढ़ा मैंने भाभी को थैंक यू कहा, जिसमें उसने नोटि स्माइल दिया और मेरे कान काटने लगी, और उन के बूब्स देख कर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

मैंने भाभी जी को पूछा कि प्लीज मुझे चोदने दो.. जिसमें भाभीजी ने कहा तुम्हारा ६.५ इंच का लंड अपनी चूत में लेने के लिए कब से इंतजार कर रही हूं.

भाभी की यह बात सुनकर मैंने टाइम वेस्ट ना करते हुए उनको नीचे सीधा लेटने को कहा और वह सो गई. मैंने उनकी टांगे फैला कर उनके बीच में पहुंच गया और मेरे लंड को पोजीशन करके थोड़ा सा धक्का दिया, लेकिन उनकी चूत टाइट थी क्योंकि भाभी ने पिछले २ महीने से सेक्स नहीं किया था.

मैंने दोबारा धक्का दिया जरा जोर से दिया था उनकी चूत पानी से ऑलरेडी गीली थी और जोर से धक्का दिया तो मेरा पूरा लंड उनकी चूत में चला गया, भाभी जी ने चीख निकाली आह उऔउ अह्ह्ह औउ माँ आमामा और मौन कर रही थी बीच में मैं उनके बूब्स दबा रहा था..

फिर वह बोलने लगी आह हू इई ओअः हह्ह्हा और जोर से चोदो.. बहुत मजा आ रहा है और जोर से प्लीज.. यह सुनकर मैं भी जोश में आ गया और जोर जोर से चोदने लगा.. भाभी हर एक शॉर्ट पर जोर जोर से मोन करने लगी और पानी निकाल रही थी जिससे मेरा लंड पूरी तरह भीग चूका था.

थोड़ी देर करने के बाद मैंने उनको धीरे से कहा कि मुझे डॉगी स्टाइल में चोदना है, भाभी ने कहा ठीक है. और वह उल्टा मुड़कर डॉगी बन गई. फिर मैं पीछे से उनकी चूत में अपना लंड डाल दिया और भाभी जी को मैंने उनकी कमर को पकड़ कर रखा था, और अपना लंड अंदर बाहर करने लगा, और वह जोर शोर आह हौउअ ओऊ हाहाह यस्स हहह औउ ओऊ हहह मोन करने लगी.

और भाभी एक बार और पानी छोड़ने वाली थी और मेरा भी पानी छूटने वाला था तो मैंने भाभी जी से पूछा क्या करूं? उन्होंने कहा कि उनके अंदर ही पानी छोड़ दो, तो मैंने जोर से एकदम धक्का मारा और भाभी जी और मैंने एक साथ पानी छोड़ दिया.. मेरा पानी का फव्वारा एकदम अंदर तक गया था, और मैं अभी भी चोद रहा था और भाभी औ उय्य्य अय्याय ये य्य्स सह्ह्ह ओह हहह मोन कर रही थी मेरे होठों को किस करने लगी.

मुझे थैंक्यू कहां और जल्दी से सब सेट करके उनको जल्दी घर जाना था तो ड्रेस पहन लिया और मुझे भी ट्यूशन जाना था तो एक किस करके उन्हें कार तक छोड़कर बाय करके आ गया.