ट्यूशन टीचर की वाइफ के साथ मजे

loading...

यह स्टोरी आज से कुछ ३ महीने पहले की हे. जब मेंने एग्जाम की वजह से इकोनोमिक्स की ट्यूशन रखी थी.

मैने अपने कोलेज में प्रोफेसर के पास ही इकोनोमिक्स की ट्यूशन  रखी थी. में सर के घर में ट्यूशन पढता था. में इकोनोमिक्स में बहोत ज्यादा विक था तो मैने अपने सर को मुझे पर्सनली ट्यूशन पढ़ने के लिए बोला तो सर भी तयार हो गये और में हर रोज उनके घर पे ट्यूशन के लिए जाने लगा.

loading...
loading...

में पहले दिन सर के साथ ही उनके घर पर गया. उनके घर में सर के साथ उनकी पत्नी और एक मेड रहती थी. उनके पत्नी की उमर ३४ साल के आस पास थी. और वह एक बहोत सुंदर और हॉट आंटी थी.

मैने पहले दिन १:३० घंटे की ट्यूशन की. दुसरे दिन से में अपना कोलेज ख़त्म होते ही सर के पास चला जाता था क्योंकि कोलेज के स्टाफ को एक घंटे के बाद छुट्टी मिलती हे और मुझे सर ने कहा था की तुम पहले जाकर अपनी इकोनोमिक्स की तयारी शुरू कर दो.

में फिर जाकर ड्राविंग रूम में जाकर अपनी तयारी शुरू कर देता था. कभी कभी सर की वाइफ भी वहा पर आती थी तो उनके साथ थोड़ी बहोत बात चीत चलती थी,. मुझे ट्यूशन में जाते जाते एक महिना हो गया था और अब सर की वाइफ के साथ भी मेरी अच्छी बनने लगी थी.

एक दिन में जब सर के घर पंहुचा तो उनकी वाइफ में कहा की उन्हें बाज़ार जाना हे कुछ समान लाने के लिए. मेरे पास बाइक थी तो में उनको बाज़ार ले गया और रस्ते में जाते समय में जान बुज कर ब्रेक मार के उनके बूब्स को अपनी पीठ पर में फिल करता था और उन्होंने भी यह बात नोटिस कर ली थी.

फिर हम लोग बाज़ार पहुचे उन्होंने पहले थोडा घर का समान लिया उसके बाद वो उसके लिये कुछ कोस्मेतिक्स लायी और हम लोग वापस घर पर आने लगे. तभी रस्ते में अचानक से बारिश शुरू हो गयी और हम पूरी तरह से भीग गये थे. थोड़ी दूर चलने के बाद्द बारिश और जोर जोर  से शुरू हो गयी और मुझे शालू ने रुकने के लिए कहा. फिर हम एक जगह पर रुके जहा पहले से दो तिन लोग रुके हुए थे.

जब मैने शालू को देखा तो बारिश में भीगने किस वजह से बहोत हॉट एंड सेक्सी लग रही थी. उन्हें देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया. मेरे लंड को उन्होंने नोटिस कर लिया था.

तभी वह बोली सोरी, मेरी वजह से तुम भी भीग गये. मैने उन्हें कहा की कोई बात नहीं हे, फिर जब बारिश रुकी तो हम लोग वापिस घर पर आ गये. बारिश की वजह से सर भी अभी तक नहीं आये थे तो में शालू को उनके घर पर ड्राप कर के वापस अपने घर पर आ गया.

दुसरे दिन जब में गया तो शालू ने दरवाजा खोला और में अन्दर जाकर बैठ गया. थोड़ी देर बाद वह लेपटोप लेकर आई और कहने लगी के इसमें एंटीवाइरस डाल दो. में एंटीवायरस डालने के बाद लेपटोप को चेक करने लगा जिसमे उनके कुछ सेमी न्यूड पिक्स थे और कुछ ब्लू फिल्म भी थी. में ब्लू फिल्म देखने लगा और शालू का नाम लेकर अपना लंड सहलाने लगा.

मुझे कुछ पता ही नही चला की शालू कब मेरे पीछे आकर खड़ी हो गयी थी. और जब मैने उन्हें नोटिस किया तो मैने जट से लेपटोप बंद कर दिया. और में बहोत डर गया था. मेम मेरे पास आयी और उसने मेरे लिप्स पर लिप्स रख कर किस करना स्टार्ट कर दिया. और ५ मिनिट तक किस करती रही. में भी साथ में उनके बूब्स को प्रेस करने लगा. फिर उन्होंने कहा की सर आने वाले हे अब जो करना हे कल कर लेंगे.

उन्होंने मेरे लंड को हाथ से हिलकर मुझे शांत क्र दिया.

फिर दुसरे दिन में कोलेज से जल्दी चला गया और सीधा सर के घर गया. जब मैने दरवाजा की बेल बजाई तो सर की मेड ने खोला. उसे देखते ही मेरा मुद ख़राब हो गया क्योंकि उसके होते हुए हम कुछ भी नहीं कर सकते थे.

लेकिन शालू ने काम के बहाने उसे घर के बहार भेज दिया और उसकी बोडी को सहलाने लगा. १० मिनिट ऐसा करने के बाद हम उसके बेड रूम में गये और अपने कपडे उतार कर न्यूड हो गये. और बेड पर लेट कर एक दुसरे के शरीर के साथ खेलने लगे. में कभी उसके बूब्स को चूसता तो कभी दबा देता. वह मजे से सिसकिय ले रही थी.

फिर हम 69 पोजीशन में आ गये और मजे करने लगे, में उसकी चूत को चाट रहा था वह भी मजे लेकर मेरा लंड चुस रही थी और फिर हम दोनों ऐसा करते हुए जड गये. और फिर से एक दुसरे को किस करने लगे. शालू ने मेरा लंड अपने मुह में लिया और चूसने लगी थी.

मेरा लंड अब फिर से खड़ा हो गया और मैने उसे मिशनरी पोजीशन में किया और उसकी चूत पर अपना लंड सेट किया. पहले तो लंड आधा अंदर गया और उसे थोडा दर्द महसूस होने लगा था.

फिर मैने दूसरा धक्का मारा और मेरा पूरा लंड अंदर डाल दिया और वह आह्ह फह आह्ह ओह्ह्ह अहः बस्स प्लीज़ बहार निकालो मुझे दर्द हो रहा हे कहने लगी. पहले तो में धीरे धीरे लंड अंदर बहार कर रहा था. जब वह नोर्मल हुई तो मैने अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दी और वह सिसकिय लेने लगी और फक मी फक मी हार्ड कहने लगी. मैने उसे ५ मिनिट के बाद डौगी पोजिशन में किया और चोदने लगा और वह भी मजे से अपनी गांड को हिला हिला कर मजे कर रही थी.

उसके मुह से अहह ओह्ह ह ओह्ह फक मी हार्ड जैसे आवाज निकल रहे थे. १० मिनिट के बाद वह जड गयी लेकिन में उसे चोद रहा था. और फिर मैने भी थोड़ी देर में स्पीड बढाई और जड गये.

जब में उसके उपर से हटा तो मैने खिड़की के तरफ देखा तो उनकी मेड हमे देख रही थी. हम सेक्स में इतने खो गये थे की हमे पता ही नहीं चला की उनकी मेड कब आई.

Share this Story:
loading...

Warning: This site is just for fun fictional SexyStories | To use this website, you must be over 18 years of age